mobile number से लिंक करें ये दस्तावेज, Narendra Modi ने दिए आदेश

हमारे जितने भी ऑनलाइन काम होता है, उसका संबंध कहीं ना कहीं हमारे ‘mobile number’ से जरूर होता है.

mobile number track
mobile number track

किन-किन दस्तावेजों  को mobile number से करना होगा लिंक

मोबाइल नंबर जिससे कि अपने दस्तावेजों में लिंक करने की आवश्यकता है उसमें पहला है RCतथा DL

इसीलिए मैं आपको आज बताने जा रहा हूं कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने हमारे मोबाइल नंबर को किन-किन दस्तावेजों से जोड़ने का आदेश दिया है.  ताकि जब हम अपने मोबाइल नंबर से उस दस्तावेज को जोड़ देंगे तब ‘mobile number trace’ कर पाएगी। मेरे कहने का मतलब यह है कि हम अपने मोबाइल के मदद से ही जरूरी दस्तावेज को कहीं से भी एक्सेस कर सकते हैं। दरअसल वाहनों के दस्तावेज देखे की रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट यानी की RC ड्राइविंग लाइसेंस अर्थात DL पॉल्यूशन सर्टिफिकेट सहित अन्य वाहन से संबंधित दस्तावेजों को मोबाइल से लिंक कराना होगा.  फिलहाल अभी बीटा वर्जन अर्थात लोगों से इसके लिए राय मांगा है. मैं आपको बता दूं कि यह नियम 1 अप्रैल 2020 से लागू हो सकती है.

 बता दूं कि केंद्रीय सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी करते हुए लोगों राय मांगी है.

अगर आप राय देना चाहते हैं तो 29 दिसंबर तक सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को भेज सकते हैं.

मोबाइल को क्या जरुरत है लिंक करने की?

मोबाइल नंबर दे लाइव लोकेशन के माध्यम से ट्रैक करने के लिए मोबाइल नंबर को लिंक करने की जरूरत है. Continue reading mobile number से लिंक करें ये दस्तावेज, Narendra Modi ने दिए आदेश

Hyderabad case, क्या हैदराबाद केस में सच में सभी आरोपी मारे गए है

Hyderabad case: हैदराबाद केस बहुत ही भयायव है. जिससे ऐसा लगता है की मानवता का अंत बेहद करीब है. Therefore क्योंकि किसी लड़की का पहले रेप होता है फिर उसे बुरे तरीके से जला दिया जाता है.

hyderabad  के बहुत ही ज्यादा दुखदाई तथा मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाओं में से एक है.  Therefore  बीते कई दिनों से भारतवर्ष के सभी लोग आरोपियों के खिलाफ आवाज उठा रहे थे.  सभी लोग यह मांग कर रहे थे कि ‘Disha case’ के सभी आरोपियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा मिले।

Hyderabad case
Hyderabad case: हैदराबाद केश प्रतीकात्मक चित्र

बीते दिनों जब इस केस को गंभीरता से समझने की कोशिश की गई. वास्तव में यह जानने की कोशिश हो रही थी कि “Hyderabad case” को किस तरह से अंजाम दिया गया.  इसी घटना को भी रीक्रिएट करने के लिए पुलिस ने यह फैसला लिया कि चारों आरोपियों को उस स्थान पर ले जाया जाए तथा पूरे सिचुएशन को फिर से क्रिएट किया जाए.  कि वास्तव में यह Hyderabad case हुआ कैसे?

भारी पुलिस बल के साथ चार आरोपियों को लेकर उसी स्थान पर गई जहां पर यह घटना हुई थी.  However, ताकि कुछ सबूत मिल सके तथा आरोपियों के मानसिकता को भी  जाना जा सके. 

Hyderabad news में बड़ा उलटफेर

दुर्भाग्यवश उन चारों आरोपियों ने पुलिस बल पर ही हमला कर दिया.  जिसके परिणाम स्वरूप पुलिस को मजबूर हैं उन चारों आरोपियों का एनकाउंटर करना पड़ा.  देखा जाए तो चारों आरोपियों का एनकाउंटर होना सही है. 

उन चारों आरोपियों का एनकाउंटर होना बहुत अच्छी खबर है.  क्योंकि उन चारों में उस लड़की के साथ बहुत ही ज्यादा गलत करने के बाद उसे जिंदा रहने का भी मौका नहीं दिया था.

परंतु अब हमें अपने बच्चों को सतर्क रखना ही होगा ताकि सुरक्षित रहे.  इस पोस्ट को आप शेयर जरूर करिएगा।

इस घटना की जानकारी आप शेयर जरूर करें।

frozen 2 full movie, इस मूवी का टिकट पाएं फ्री में

frozen 2 full movie: यह मूवी बेहद ही मनोरंजक साबित हुई है. फिल्म ने अभी तक की कमाई, तथा इनका असर भारतीय सिनेमा में कैसा धमाल मचा रहा है इसकी जानकारी ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने ट्वीट करके दी है.

FROZEN 2 FULL MOVIE
FROZEN 2 FULL MOVIE

तरण के मुताबिक frozen 2 की काफी धमाल एंट्री हुई है. तरन कहते है कि यह फिल्म बच्चों के साथ पूरा परिवार बैठ कर आसानी से देख सकते हैं. यह मूवी लगातार ‘frozen 2 release date‘ से लेकर अबतक काफी मजबूत स्थान बनाते जा रहा है.

इस मूवी के ज्यादा प्रचलित होने का लगभग एक महत्वपूर्ण कारन यह है कि इस Movie का बेहतर कंटेंट जो की इस मूवी को काफी खास बनता है. इसका ऐसा कंटेंट है, जिसे लोग अपने पूरा परिवार के साथ आसानी से देख सकते है.

FROZEN 2 FULL MOVIE ने अबतक भारतीय सिनेमा में 22 करोड़ 74 लाख रूपये की शानदार कमाई कर ली है. frozen movie की इस सीरीज ने काफी बेहतर प्रदर्सन किया है.

वजह यह है कि हॉलीवुड का कंटेंट भारतीय सिनेमा में काफी बेहतर प्रदर्सन करता है. frozen 2 की इसी धमाल ने भारतीय सिनेमा ने काफी बेहतर प्रदर्शन के साथ साथ हिन्दुस्थान के दर्शक के दिल में एक अलग पहचान बना ली है.

FROZEN 2 FULL MOVIE के ट्रेलर ने कितना प्रभाव डाला है?

frozen 2 trailer: ने यूट्यूब पर कुछ खास प्रभाव नहीं दिखाया है. यूट्यूब के आलावा अन्य सोशल साइट्स पर भी फ्रोज़न 2 के ट्रेलर ने कुछ खास कमाल नहीं दिखाया है.

परन्तु इस मूवी ने सिनेमा घरो में काफी ज्यादा प्रभाव दिखाया है. और यह frozen 2 के लिए सबसे ज्यादा लोग इकठ्ठा होते यूट्यूब से, परन्तु यूट्यूब पर इस मूवी के ट्रेलर को ऐडवर्टिसमेंट में नहीं डाला गया.

frozen 2 movie को बेहतर कमाई हो रही है. आप इस पोस्ट को शेयर जरूर कर दें. इससे हमें सपोर्ट मिलेगा।

crore fake note: एक करोड़ के नकली नोट हुए बरामत, आप भी रहें सावधान

गुजरात पुलिस ने बीते दिनों एक करोड़ मूल्य के नकली नोटों को बरामद किया है.  इस घटना को सूरत पुलिस ने अंजाम दिया है और बीते शनिवार और रविवार को सूरत पुलिस ने भिन्न-भिन्न स्थानों पर छापेमारी की और इन नकली नोटों का पता लगाया और इसमें पहुंचे आरोपी गिरफ्तार हुए हैं.

RECEIVED ONE CRORE FAKE NOTE: एक करोड़ के नकली नोट हुए बरामत, आप भी रहें सावधान
FAKE NOTE

एक करोड़ के नकली नोट कहाँ से प्राप्त हुए?

पुलिस के मुताबिक अपराधियों से दो हजार के करीब 5013 नकली नोट बरामद किए हैं. इन नोटों की वैल्यू ₹1,00,26,000 बताई जाती है जो कि नोटों की फेस वैल्यू है. तथा पुलिस टीम ने सूरत में ही शनिवार को कवरेज स्थित एक फार्महाउस से प्रतीक सूट वाडिया को पकड़ा तथा उनके पास से 203 नकली नोट मिले हैं.

जांच पड़ताल के दौरान प्रवीण अन्य 4 आरोपियों के नाम बताएं प्रवीण ने जब सूचना दी तो उसके आधार पर सूरत पुलिस ने रविवार को खेड़ा जिले के अंबाव गांव में स्वामीनारायण मंदिर के एक रूम पर छापा मारा है और पुजारी को गिरफ्तार कर लिया है. स्वामी राधा रमन नाम के इस मंदिर के पुजारी से करीब ₹5000000 के नकली नोट मिले हैं तीन अन्य लोग प्रवीन चोपड़ा कालू चोपड़ा और मोहन मधुर डे को सूरत जिले के ही साथ आना से पुलिस की कस्टडी में ले लिया है.

दोस्तों आप सभी से गुजारिश है कि आप भी अगर कहीं पर किसी भी तरह के इस तरह की आपत्तिजनक रुपए का कोई अगर मालिक है तो गुप्त रूप से पुलिस को सूचना जरूर दें दें. इससे होगा यह कि आप देश के विकास में आप महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं क्योंकि इन्हीं रूपों के चलते पूरे देश का अर्थव्यवस्था नष्ट होने लगता है.

 और आप भी इस तरह के घटना के शिकार ना बने लिए सतर्क रहें किसी भी रुपए के लेन-देन में सावधानी बरतें तथा जांच परख कर ही किसी रुपए पैसे को लें.  क्योंकि पहले कहा जा रहा था कि 2000 और ₹500 के नोटों का नकली नोट छपा नहीं जा सकता परंतु पुलिस को यह रुपए कैसे मिल रहे हैं. यह सभी आरोपियों की चाल है कि बिना मेहनत के ही रुपए बनाने लगे. 

Aadhar card: आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल कर सकते है सोशल मीडिया साइट, लग सकता है कोर्ट का चक्कर

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है की किसी भी तरह के गैर क़ानूनी तरीके से आधार का इस्तेमाल होना एक बड़ी समस्या बनने को जा रही है. अबतक 3433 वेबसाइट को भारत में ब्लॉक किया गया है. जो गैर क़ानूनी तरीके से लोगो का आधार का इस्तेमाल करती थी. इसी के साथ रवि संकर प्रसाद ने यह कहा है की सर्कार के पास किसी भी तरह का ऐसा प्रस्ताव नहीं आया है, जिसमे यज कहा जा रहा हो को सोशल मीडिया साइट्स पर आधार कार्ड को जोड़ा जाये या किसी भी तरके का जानकारी जो की आधार से जुडी हो.

रविशंकर प्रसाद : Aadhar cad

आधार कार्ड से जुड़ी किसी भी जानकारी को सोशल मीडिया साइट्स या किसी भी अनजान व्यक्ति को ना दें ऐसा राजेंद्र प्रसाद ने कहा है. आधार कार्ड भारतवर्ष की सबसे सिक्योर और आधुनिक तरीका है जिससे किसी भी स्थान पर अपनी पहचान को किसी भी स्थान पर व्यक्त किया जा सकता है.  परंतु इसके अगर गलत उपयोग होने लगे तो बहुत बड़ी समस्या पैदा हो सकती है.

 सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि अब तक 3435 ऐसे वेबसाइट थे जो आधार कार्ड को ट्रैक कर रहे थे उन्हें ब्लॉक कर दिया गया है और साथ में ही सभी लोगों को यह जानकारी दी है कि अपने आधार से जुड़ी किसी भी जानकारी को किसी अनजान व्यक्ति के साथ शेयर ना करें अर्थात अपने आधार कार्ड का एक्सेस किसी अन्य को ना दें.

आधार कार्ड से किसी भी तरह का छेड़छाड़ करना सख्त मना है और इसके लिए सख्त कानून बनाए गए हैं.  अगर कोई भी किसी का भी आधार कार्ड का एक्शन लेने के बाद उसमें किसी भी तरह का छेड़खानी करता है तो यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया उस व्यक्ति या संस्था के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई कर सकती है.

 किसी अन्य माध्यम से किसी भी व्यक्ति का आधार कार्ड को ट्रैक नहीं किया जा सकता है जब तक कि उसका किसी भी तरीके से एक्सेस ना मिली जाए.  क्योंकि जब आधार कार्ड बनता है या अपडेट किया जाता है तब उसका आंख का स्कैन तथा 10 हाथों की उंगलियों के फिंगर प्रिंट एक खास तरह से इंक्रिप्टेड होता है जिसे किसी भी तरीके से देखना या समझना मुमकिन नहीं है.  अन्यथा बाहरी व्यक्ति से अर्थात हैकर को अगर किसी भी व्यक्ति के आधार कार्ड कैक्सेस मिल जाता है तो वह किसी न किसी तरीके से उस व्यक्ति व्यक्ति के फिंगरप्रिंट तथा इसका इनको किसी तरीके से प्राप्त कर लेगा जिस का गलत उपयोग उस व्यक्ति के लिए काफी भारी पड़ सकता है.

10वीं पास के लिए इसरो में निकली वेकन्सी, ऐसे करें आवेदन जल्द होगा सेलेक्शन

Isro Job Recruitment 2019-2020: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने बीते दिनों में एक स्टेटमेंट जारी किया है. जिसमें कि यह कहा गया है, कि टेक्नीशियन टाइप-बी तथा लेवल 3 और ड्राफ्टमैन-बी लेवल 3 के कई पदों के लिए इसरो यानी कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन को आवश्यकता है. इच्छुक और योग्य उम्मीदवार ISRO के ऑफिशियल वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए हमने नीचे दिए लिंक प्रोवाइड करवा दी है. जिस पर क्लिक करके आप आसानी से भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में आए जॉब के लिए आवेदन कर सकेंगे.

Isro Job Recruitment 2019-2020:

ISRO में पदों का विवरण: 

तकनीशियन बी लेवल-3 इलेक्ट्रीशियन
इलेक्ट्रोनिक मैकेनिकफिटर
उपकरण मैकेनिकपंप प्रचालक सह मैकेनिक
प्रशीतन एवं वातानुकूलन (आर एवं एसी)रसायन (तैनाती का स्थान: नोदक परिसर रसायनी सुविधा, जिला- रायगढ़, महाराष्ट्र)फिटर (तैनाती का स्थान: नोदक परिसर रसायनी सुविधा, जिला- रायगढ़, महाराष्ट्र)बाॅयलर परिचारक (तैनाती का स्थान: नोदक परिसर रसायनी सुविधा, जिला- रायगढ़, महाराष्ट्र)इलेक्ट्रोनिक मैकेनिक (तैनाती का स्थान: इस्ट्रैक ग्राउंड स्टेशन, एसडीएससी शार श्रीहरिकोटा)
मैकेनिकल ड्राफ्टमैन – बी लेवल-3

शैक्षिक योग्यता: अलग-अलग पद के लिए भिन्न भिन्न आयु सीमा का प्रावधान है, इच्छुक व्यक्ति अपनी योग्यता अनुसार ISRO की वेबसाइट पर ऑनलाइन करते समय चुनने की अनुमति देता है.

महत्वपू्र्ण तिथि: 

ऑनलाइन आवेदन जमा करने की प्रारंभिक तिथि: 09 नवंबर, 2019

ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि: 29 नवंबर, 2019

आयु सीमा: ISRO में जॉब के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष तक मान्य है.

इच्छुक व्यक्ति तिथि समाप्त होने के पहले आवेदन कर दें. मैं आपको बता दूं कि ISRO में जॉब के लिए सिलेक्शन लिखित परीक्षा तथा कौशल परीक्षा के आधार पर ही होगा। आवेदन करने के लिए नीचे हम एक लिंक दे रहे हैं इस पर आप क्लिक करके आवेदन को भर सकते हैं.

आवेदन करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Anil Ambani Resigns: अनिल अम्बानी ने क्यों दिया आर. कॉम से इस्तीफा, सामने आया चौका देने वाला वजह

आज के दौर में जहाँ मुकेश धीरूभाई अम्बानी की संचार कंपनी जिओ ने पूरी दुनिया में धमाल मचा रखा है, वही दूसरी तरफ अनिल अम्बानी कर्ज में डूबता हीं जा रहे है. रिलायंस कम्युनिकेशन काफी ज्यादा घाटे में जा रही है. जिसके वजह से रिलायंस कम्युनिकेशन के डायरेक्टर अनिल धीरूभाई अम्बानी ने अपने डायरेक्टर पद से स्तीफा दे दिया है.

“telecom news”

आपको बता दे की 30,142 करोड़ रूपये के घाटे के जाल में फँसी यह कंपनी काफी दिक्कतों का सामना करते हुए काफी समय से आगे बढ़ रही थी. परन्तु टेक्नोलॉजी के बेहतर उपयोग न होने तथा कर्ज के माया जाल में फंस जाने के कारण इस कंपनी ने घुटने टेग दिए हैं.

“telecom news”

अनिल अम्बानी के साथ साथ 4 अन्य अधिकारीयों ने भी आर कॉम को छोड़ है. कम्युनिकेशन लॉ के मुताबिक रिलायंस कम्युनिकेशन को 23, 314 करोड़ रुपये लाइसेंस शुल्क तथा स्पेक्ट्रम शुल्क 4,987 करोड़ रूपये सरकार को देने होंगे। यानि की रिलायंस कम्युनिकेशन को कुल 28,314 करोड़ रूपये भारतीय सर्कार को देने होंगे। जिसे देने में आर कॉम असमर्थ है.

“telecom news”

इसी नियम के कारण vodafone -idea तथा एयरटेल जैसी कंपनी काफी ज्यादा परेशान है. क्योंकि उनपर भी काफी ज्यादा रकम चुकाने के सख्त आदेश हैं. वोडाफोन कम्युनिकेशन ने तो साफ साफ कह दिया है की अगर भारतीय सरकार इस AGR रकम को काम नहीं करेगी तो वो भारत के मार्केट से निकल जायेंगे।

पढ़िए आज की सभी तजा और महत्वपूर्ण ख़बरें, साथ में जानिए मौसम की खबर

दोस्तो आज 15 नवंबर 2019 शुक्रवार का दिन हो चुका है. आज की ताजा खबरें और आज की बड़ी खबरें आपके लिए आपको बताते हैं. आज की बड़ी खबरों में आधार कार्ड को लेकर एक बड़ी खबर आई है, आधार कार्ड पर यह बिल्कुल नई खबर है, इसके अलावा आज की बड़ी खबरों में आइडिया की सिम को लेकर भी एक बड़ी खबर आई है. aaj ka taja samachar
आज की बड़ी खबरों में अभी एक अहम मुद्दा चल रहा है यानी राम मंदिर का उसको लेकर भी एक खबर आई है. आज की बड़ी खबरों में एक खबर के मुताबिक और सरकार की एक योजना के तहत जिन भी घर में बेटियां हैं, उनको 74 लाख रुपए मिल सकते हैं.तो दोस्तों आज हम आपको अपने में इन्हीं सब महत्वपूर्ण खबरों के बारे में बताने वाले हैं. तो ध्यान पूर्वक इस पोस्ट को जरूर  पढ़िए:

आज की तजा खबर

आधार कार्ड में एड्रेस अपडेट के लिए अब नहीं पड़ेगा भटकना, सरकार ने दिया है सभी आधार कार्ड वालों को यह नया तोहफा

एक से दूसरे शहर जाने पर आधार कार्ड की पहचान में काफी ज्यादा झंझट होता था. लेकिन सरकार ने अब इसको खत्म कर दिया है. अब चाहे आप के आधार कार्ड में एड्रेस कहीं का भी हो लेकिन आप कहीं भी नई जगह जाएंगे तो आप वहां पर अपना अकाउंट खुलवा सकते हैं. अपने उसी पुराने एड्रेस वाले आधार कार्ड से. बस इसके लिए आपको सफ़ेद पेज पर खुद ही लिख कर देना होगा। अब आपको एड्रेस बदलवाने की जरूरत नहीं होगी। चाहे आप पूरे भारत में कहीं पर भी जाएं। आपके बैंकिंग के काम लेनदेन के काम और भी कई सारे काम हो जाएंगे। तो चलिए बढ़ते हैं दूसरी आज की तजा खबर की तरफ.

संभाल के रखे गाड़ी की चाबी गुम होने पर खारिज हो सकता है इंश्योरेंस का क्लेम

अगर आपके पास बाइक है, कोई भी गाड़ी की इंश्योरेंस करवा रखा है. तो आपको बता दें अगर आपकी चाबी कभी भी गुम हो जाती है, तो आप उसकी सूचना तुरंत अपने इंश्योरेंस कंपनी को दे दे. अगर चाबी खोने के बाद आपकी गाड़ी चोरी हो जाती है. तो आपको क्लीम नहीं मिलेगा। लेकिन अगर आपने चाबी खोने के बारे में शिकायत दर्ज करवा दी होगी इंश्योरेंस कंपनी के पास तो आपको क्लेम मिल जाएगा, चाबी खोने के बाद भी अगर गाड़ी चोरी हो जाती है.

गूगल मैप पर आने वाला है बड़ा अपडेट स्थानीय भाषा में बोलकर बताएगा विदेशी जगहों के नाम 

सफर करते होंगे तो जाहिर सी बात है क्या गूगल मैप का यूज़ करते होंगे। लेकिन जैसा कि आप जानते हैं, अभी गूगल मैप में आपको जो भी जानकारी दी जाती है. वह इंग्लिश में ही दी जाती है. लेकिन आने वाले दिनों में एक ताजा अपडेट आने वाला है जिसके तहत आप अपने स्थानीय भाषा में चने के हिंदी, मराठी, गुजराती में इसको सेट कर पाएंगे ट्रांसलेट करके। और फिर जब आप सफर करेंगे तो आपको जो भी जगहों के नाम बताए जाएंगे जो भी जानकारी बताई जाएगी वह हिंदी, गुजराती में आप जिस भी लैंग्वेज में सेट करेंगे उस लैंग्वेज में बताई जाएगी। aaj ki taza khabar

वोडाफोन के सीईओ ने मांगी माफी बिड़ला समूह ने कहा दिवालिया हो सकती है, वोडाफोन और आइडिया कंपनी इसी की वजह से इनके सिम भी हो सकते हैं बंद

आपको बता दें जो वोडाफोन के सीईओ है उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगी है. आपको बता दें उन्होंने अभी हाल ही में कहा था, कि अगर सरकार हमें राहत नहीं देगी टैक्स वगैरह में तो हम अपनी कंपनी वोडाफोन को भारत में बंद कर देंगे लेकिन अब इस पर खुद वोडाफोन की सीईओ ने माफी मांगी है. और उन्होंने कहा है कि मेरा कहने का वह मतलब नहीं था जो समझा गया. आपको बता दें जो बिड़ला समूह है, आइडिया का उसने कहा है कि अगर हालात ऐसी रहे और सरकार ने कुछ मदद नहीं की तो जो वोडाफोन कंपनी है और जो आइडिया कंपनी है वह भारत में दिवालिया हो सकती है. यानी के बन सकती है और इसके बंद होने से भी बंद हो जायेंगे.

खुल गया ऑक्सीजन बार 15 मिनट किसको दवा लेने के लिए देने होंगे ₹299

ऐसा बार खुला है, जिसमें लोग ताजी हवा शुद्ध हवा लेने के लिए जाते हैं. हैरानी की बात यह है कि जब आप इस क्लब में जाएंगे ताजी हवा लेने के लिए तो आपको 15 मिनट के ₹299 देने होंगे। आपको बता देंगे ऑक्सीजन बार दिल्ली में खुला है दिल्ली में जो साकेत एरिया है, वहां इस ‘ऑक्सीप्योर’ बार नाम से इस बार को खोला गया है। aaj ka taja khabar

बदलने वाला है व्हाट्सएप का नाम जल्दी इंस्टाग्राम का भी नाम बदल जाएगा बीटा वर्जन पर दिखी पहली झलक

व्हाट्सएप इंस्टाग्राम का नाम बदल जाएगा। आपको बता दें व्हाट्सएप बेटा वर्जन है. उसके फुटर में आने के नीचे इस बात का सबूत आया है. आपको बता दें इससे पहले खुद कंपनी ने भी कहा था कि  व्हाट्सएप का नाम है वह बदल जाएगा। आप अपनी स्क्रीन पर देख सकते हैं. फ्रॉम व्हाट्सएप नहीं बल्कि फ्रॉम फेसबुक लिखा हुआ है. आपको बता दें व्हाट्सएप का नाम बदलने के बाद इंस्टाग्राम का भी नाम बदल दिया जाएगा बात करेंगे।

क्रूड में तेजी से पेट्रोल की कीमतों में फिर लगी आग पेट्रोल हुआ महंगा जानते है पेट्रोल और डीज़ल के भाव

बताएं पेट्रोल डीजल के ताजा भाव पेट्रोल का दाम बीते रोज फिर से 15 पैसे महंगा हो गया इस महंगाई के बाद अभी 1 लीटर पेट्रोल की कीमत राजधानी दिल्ली में 73 रूपये 45 पैसे है. अगर बात की जाए डीजल की तो बीते रोज डीजल के दामों में कोई भी बदलाव नहीं हुआ. और अभी आपको राजधानी दिल्ली में 1 लीटर डीजल ₹65 79 पैसे का मिलेगा। aaj ki taza khabar

chandrayaan-2 के बाद इसरो भेजेगा चंद्रयान 3 बताएं कब है इसकी लॉन्च

chandrayaan-2 के बाद अब इंडियन स्पेस रिसर्च सेंटर यानी कि इसरो जल्दी चंद्रयान 3 को चंद्रमा पर भेज सकता है. आपको बता दें ताजा रिपोर्ट के मुताबिक चंद्रयान 3 को अगले साल 2020 में नवंबर महीने में लॉन्च किया जा सकता है. आपको बता दें चंद्रयान 3 में ऑर्बिटर नहीं होगा, जो कि चांद का चक्कर लगाता है. क्योंकि chandrayaan-2 का ऑर्बिटलर फाइनली चांद के चक्कर लगा रहा है. और इस 7 साल तक चलता रहेगा।

केंद्र सरकार लगाएगी 10 हाइड्रोजन फ्यूल स्टेशन प्रदूषण की हमेशा के लिए होगी छुट्टी

जैसे कि अभी हमने आपको यह खबर बताया कि अभी देश में इतना ज्यादा प्रदूषण है, कि उसकी वजह से आज जो क्लब खुल रहे हैं, वह ऑक्सीजन के लिए खुल रहे हैं. वहां पर मात्र 15 मिनट बिताने के लिए ₹300 देने पड़ रहे है. हवा इतनी ज्यादा खराब हो गई है. इसी को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण के मामले में सुनवाई करते हुए हाइड्रोजन चलित वाहन और इससे जुड़े चीजों के बारे में सरकार से रिपोर्ट मांगी है. आपको बता दें जो भी वाहन हाइड्रोजन पर चलते हैं, उन से 0% प्रदूषण होता है. यानी प्रदूषण होता ही नहीं है. अभी देश के 10 जगहों पर केवल स्टेशन लगाए जायेंगे. hindi news

SBI के एफडी खातों से मिनटों में उड़े 1000000 रुपए, अगर आपका है किसी भी बैंक में खाता तो आप हो जाइए सावधान

आपको बता दें एक ग्राफिक डिजाइनर के अकाउंट से ₹1000000 की ठगी हो गई है. वह भी नौकरी दिलवाने के नाम पर. ठगी ऐसे हुई है कि शायद आपको यकीन नहीं होगा। ग्राफिक डिजाइनर ने मात्र जो हैकर लोगों को नेट बैंकिंग से मात्र पैसे ट्रांसफर किए थे. और बस ऐसा करने पर ही उनके केनरा बैंक से भी पैसे निकाल लिए. और एसबीआई बैंक में जो फिक्स डिपाजिट का पैसा था, यह निजी अकाउंट था, उसे तोड़कर पैसे निकाल लिए गए. आप किसी भी अनजान व्यक्ति, या अनजान कंपनी को जिस पर कोई ट्रस्ट नहीं है, उसको आप पैसे ट्रांसफर भी ना करे.

50 करोड़ों लोगों की ताकत बढ़ाएगी सरकार, बजट सत्र में फिर आएगा लेबर कानून में बदलाव वाला बिल

जी हां क्या आप जानते हैं? अगले साल बजट पेश होने वाला है. और जो भी लेबर लोग हैं यानी जो भी रिक्शा चलाने वाले हैं, कूड़ा बीनने वाले हैं, या नौकरी करने वाले हैं, यानि जो भी व्यक्ति लेबर है. उनके लिए राहत भरी नियम आ सकते हैं. जिससे उन्हें और सुविधाएं मिलेंगी। सुरक्षा की सुविधा मिलेगी, स्वास्थ्य की सुविधा मिलेगी, ऐसे 50 करोड़ लोग हैं, जोकि लेबर की कैटेगरी में आते हैं.

महाराष्ट्र में भाजपा की नहीं बल्कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की बन सकती है सरकार

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी ने कोशिश तेज कर दी. साझा न्यूनतम कार्यक्रम पर चर्चा के लिए तीन दलों ने बीते रोज बैठक की. इस बैठक में तीनों पार्टियों के कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए.

थोक महंगाई दर अक्टूबर में और घटकर हुई 0.6 जी कम

थोक महंगाई की दर में गिरावट का ट्रेन अक्टूबर से जारी रहा. पिछले महीने यह ट्रेंड यानी कि यह गिरावट होप महंगाई। 00.16% कम हो गई. और इससे हो विक्रेता को काफी ज्यादा सहूलियत मिली हो. लेकिन आपको बता दे वही एक तरफ जो खुदरा महंगाई दर है उस 16 माह के उच्चतम स्तर पर है. इसके बारे में हमने आपको कल बताया था. हम आपको दोनों का कंपैरिजन करके बता रहे हैं. जैसा कि आप देख सकते हैं. यह कल की ताजा रिपोर्ट है कि खुदरा महंगाई 16 माह के ऊपरी स्तर पर पहुंच गई. यानी जो थोक विक्रेताओं की दर है वह घट रही है. लेकिन जो खुदरा महंगाई है. वह बढ़ गई है.

15 नवंबर 2019 को यह रहेगा पूरे भारत में मौसम का हाल, मौसम विभाग ने जारी किया है मौसम का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे के दौरान पश्चिमी राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश के साथ 1 या 2 स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश में भी बारिश तेज हो सकती है. और यहां पर बर्फबारी भी हो सकती है. बर्फबारी हो सकती है. इसके अलावा उत्तराखंड के ऊपरी इलाकों में अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है. इसके अलावा पंजाब, हरियाणा, सौराष्ट्र और कच्छ में भी हल्की बारिश की उम्मीद है. इसके अलावा तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और केरल के बीच स्थानों में हल्की से मध्यम बारिश देखी जा सकती है, इसके अलावा सीमा मे कर्नाटका और अंडमान और निकोबार दीप समूह पर भी बारिश हो सकती है.

ईरान को मिला दुनिया का सबसे बड़ा तेल भंडार, सरकार ने कहा हम सबसे आमिर देश है

 ईरान में तेल का एक विशाल भंडार मिला है जिसकी क्षमता एक अनुमान के मुताबिक 53 अरब बैरल है. चौतरफा आर्थिक प्रतिबंध झेल रहे ईरान के लिए यह एक सुखद खबर है कहा जा रहा है कि पिछले एक दशक में ईरान की अर्थव्यवस्था के लिए यह एक अहम करवट साबित होगी.  ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने इसकी घोषणा की और कहा कि इस खोज के बाद ईरान के पास दुनिया में तेल का तीसरा सबसे बड़ा भंडार हो जाएगा.

iran oil reserves: found

 ईरान के राष्ट्रपति के अनुसार यह इलाका ईरान के स्थान प्रांत में है. यह तेल क्षेत्र दक्षिण पश्चिम ईरान के 2400 वर्ग किलोमीटर इलाके में फैला हुआ है. ईरान के एहवाग तेल क्षेत्र के बाद यह दूसरा बड़ा तेल क्षेत्र होगा. अमेरिका की इंफॉर्मेशन एनर्जी एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक ईरान दुनिया का चौथा सबसे बड़ा तेल भंडार वाला देश है. और दुनिया का दूसरा बड़ा गैस भंडार वाला देश.

 ईरान तेल निर्यातक देशों के संगठन ऑर्गेनाइजेशन ऑफ द पेट्रोल का संस्थापक OPEC रहा है. उसके पास अभी कुल 155.6 अरब बैरल का प्रमाणित भंडार है.नई खोज के बाद इसमें 34 फ़ीसदी का इज़ाफ़ा हो गया है ईरान ने पिछले महीने ही घोषणा की थी कि प्राकृतिक गैस की नई खोज से उसके राजस्व में 40 अरब डॉलर जुड़ेगा।

इन में भंडारों की घोषणा करते हुए रूहानी ने अमेरिका पर भी हमला बोला। समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक रूहानी ने कहा हम लोग अमेरिका से कहना चाहते हैं, कि हम एक अमीर देश हैं. और आपके कठोर प्रतिबंधों के बावजूद ईरान के तेल उद्योग के कामगारों और इंजीनियरों ने ने तेल क्षेत्र की खोज की है.

iran oil reserves: found

ईरान के पास कितना तेल है यह तो सार्वजनिक है लेकिन सऊदी अरब के तेल भंडार को लेकर रहस्य बना रहता है. सऊदी अरब ओपेक 2015 में अपने जितने अनुमानित भंडार की जानकारी दी है उसके मुताबिक उसके पास 266 बैरल का प्रमाणित तेल भंडार है. अगर यह नंबर सही है तो औसत 1.2 करोड़ बैरल प्रतिदिन उत्पादन के हिसाब से उसका तेल भंडार अगले 70 सालों में खत्म हो जाएगा लेकिन आधिकारिक आंकड़े सही हैं, इसे लेकर संदेह बना हुआ है.

 इसकी वजह है कि 1987 में सऊदी अरब ने तेल भंडार 170 अरब बैरल बताया था. 1989 में उसने बढ़ाकर 260 अरब बैरल कर दिया। रिव्यू ऑफ़ वर्ल्ड एनर्जी 2016 की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब 94 अरब बैरल का तेल दे चुका है, या खर्च कर चुका है. फिर भी आधिकारिक रूप से उसका भंडार 260 से 265 बैरल ही है.

अगर सरकार का डाटा सही है तो इसका मतलब यह हुआ कि सऊदी अरब ने तेल के नए ठिकाने खोजे हैं या फिर अनुमानित भंडार को ही बढ़ा दिया है. अनुमानित भंडार को बढ़ाने का एक आधार हो सकता है कि जिन ठिकानों से तेल का उत्पादन हो रहा है वही और तेल है या फिर अब तक जितने तेल निकाले गए हैं उसकी आपूर्ति फिर से की गई है.

 लेकिन सऊदी अरब में तेल भंडार के जिन विशाल ठिकानों की खोज की गई वह 1936 से 1970 के बीच ही है. इसके बाद इसकी तुलना में सऊदी अरब में तेल के नए ठिकानों की खोज नहीं की गई है. समस्या यह है कि जहां-जहां तेल उत्पादन हो रहा है उसका लेखा-जोखा और अनुमानित भंडार सरकार काफी गोपनीय रखती है.

iran oil reserves: found

 इसकी जानकारी भीतर के कुछ गिने-चुने लोगों को ही होती है. ऐसे में किसी भी तथ्य की पुष्टि करना असंभव सा लगता है. तेल विश्लेषक भी इस बात को बताने की हालत में नहीं है कि सऊदी अरब में तेल उत्पादन कब गिरना शुरू होगा। सऊदी अरब अभी सबसे ज्यादा तेल का उत्पादन कर रहा है इससे उस भविष्यवाणी को झटका लगा है जिसमें बताया गया था कि सऊदी अरब का तेल उत्पादन शिखर पर जाने के बाद नीचे आ जाएगा।

भविष्य में तेल उत्पादन की क्षमता को जानने के लिए अलग-अलग तरीके हो सकते हैं तेल भंडार को समझने के लिए एक जरिया यह भी है कि उत्पादन शुरू होने से पहले तेल का खजाना कितना बड़ा था. तेल खाने का मतलब ओरिजिनल ऑयल इन प्लेस ऑफ OOPE  से है 1970 के दशक में इस बात को लेकर व्यापक सहमति थी कि सऊदी अरब ने 530 अरब बैरल की खोज की थी. 

अनुमानित ओआईपी की जानकारी सऊदी अरब और अमेरिका की तेल कंपनी अरामको की तरफ से दी गई थी जो एक रिपोर्ट के रूप में पेश की गई थी.

ayodhya verdict latest news: इस सविधान ज्ञानी ने राम मंदिर पर उठाया सवाल, जानिए उनका तर्क क्या कहता है

अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने 9 नवंबर को फैसला सुना दिया. सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की बेंच ने सर्वसम्मति से यह फैसला सुनाया है. लेकिन जिस आधार पर फैसला दिया गया उस पर कानून और संविधान के कुछ जानकार सवाल खड़े कर रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के वकील और अयोध्या राम टेंपल इन कोर्ट्स किताब के लेखक विराग गुप्ता ने इस फैसले से सहमति जताते हुए कहा कि इस फैसले से एक ऐतिहासिक विसंगति दूर होगी.  पर उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि न्यायिक फैसले पर आलोचकों ने अनेक सवाल उठाए हैं उन पर गौर किया जाना चाहिए.

ayodhya verdict latest news: hindi

वरिष्ठ पत्रकार जे वेंकेटेशन ने भी बीबीसी से बात करते हुए इन सवालों का जिक्र किया आइए उन पांच सवालों पर एक नजर डालते हैं:

 मध्यकाल में सल्तनत और मुगल शासकों ने कई धार्मिक स्थलों को ध्वस्त किया है इस बात के अनेक वृत्तांत हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिक विवाद की जड़ उतनी ही पुरानी है जितना भारत का विचार. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में संसद से पारित 1991 के कानून का जिक्र किया है. जिसके मुताबिक अयोध्या को छोड़कर बाकी सभी धार्मिक स्थलों में 15 अगस्त 1947 का स्टेटस बरकरार रहेगा.

अयोध्या के अलावा काशी और मथुरा में भी मंदिरों के बीच में बनाई गई मस्जिदों की स्थापना को लेकर विवाद है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद संघ परिवार में तो आश्वस्त किया है कि यह बाकी स्थानों पर कोई विवाद शुरू नहीं किया जाएगा। लेकिन देवता को न्याय  एक व्यक्ति और शाखा को मुकदमा दायर करने के अधिकार दिए जाने के बाद अब बाकी जगहों पर तीसरे पक्ष की ओर से मुकदमा शुरू किए जाने की संभावना को कैसे खत्म किया जा सकता है. आर्टिकल 142 और राम मंदिर पर केंद्र सरकार के प्रबंधन से जुड़े भी कुछ सवाल हैं. देश के अधिकांश राज्यों में बड़े मंदिरों के प्रबंधन पर राज्य सरकारों का ही नियंत्रण है.

लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या के राम मंदिर के ट्रस्ट बनाने और प्रबंधन पर इंद्र सरकार का अधिकार होगा जो एक अनोखा मामला होगा। संविधान के मुताबिक भूमि राज्यों का विषय है राष्ट्रपति शासन की वजह से अयोध्या की भूमि का अधिग्रहण केंद्र सरकार ने कानूनी प्रावधानों के तहत किया था. तत्कालीन नरसिम्हाराव सरकार ने भूमि अधिग्रहण के बाद हलफनामा देकर अदालत को बताया था कि पुरातत्व विभाग की खुदाई में अगर मंदिर के पक्ष में प्रमाण आए अधिग्रहित भूमि को मंदिर निर्माण के लिए दिया जाएगा।

 सुप्रीम कोर्ट के संवैधानिक पीठ ने अयोध्या भूमि अधिग्रहण कानून की धारा और 7 को वर्ष 1994 के फैसले संवैधानिक करार दिया था लोकसभा चुनावों से पहले केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दायर करके अधिग्रहित जमीन को वापस करने की मांग की थी जिस पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई नहीं हुई. केंद्र और राज्य सरकार इस मामले में पक्षकार नहीं थे उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष भी नहीं रखा उसके बावजूद सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को मंदिर के ट्रस्ट और मस्जिद के लिए जमीन आवंटित करने का आदेश कैसे दिया।

 मस्जिद के लिए दी जाने वाली 5 एकड़ भूमि कहां होगी इस लेकर भी सवाल किया जा रहा है अदालत ने साफ नहीं किया है. कि वह जमीन कहां होगी मस्जिद के लिए जो जमीन दी जा रही है उसे स्वीकार किया जाए या नहीं इस पर भी सियासत शुरू होने के आसार दिखने लगे हैं एक सवाल यह भी उठ रहा है. कि आमतौर पर अदालतों के फैसले में अलग से कोई नोट नहीं जोड़ा जाता है लेकिन अयोध्या के फैसले में यह नोट जोड़ा गया है। दूसरी तरफ जोड़े गए नोट्स में जिन पांच जो की बेंच ने फैसला सुनाया था। उनमें से किसी का ना तो नाम है और ना ही हस्ताक्षर हैं सवाल यह है कि आखिर ऐसा क्यों किया गया? अगर विवादित जमीन पर साल 1949 रखी हुई मूर्ति ही रामलला है जिसे सुप्रीम कोर्ट ने न्यायिक व्यक्ति माना है. सर्वोच्च अदालत ने उस मूर्ति रखने को अवैध क्यों बताया? इस फैसले के बाद क्या वर्तमान मूर्ति को ही नए बनने वाले राम मंदिर स्थान मिलेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने रामलला को न्यायिक व्यक्ति माना है, लेकिन जन्म स्थान को न्यायिक व्यक्ति का दर्जा नहीं दिया है. इसके बावजूद जन्मस्थान को ऐतिहासिक मान्यता दिया जाना दिलचस्प है अयोध्या में श्रीराम का जन्म है. इस पर कभी विवाद नहीं रहा लेकिन जो विवाद जमीन है वही जन्म था इस बिंदु पर फैसले में आस्था और साक्ष्यों के घालमेल के आरोप लग रहे हैं. 

Cricket: विराट कोहली और धोनी के सबसे खास फैन, पढ़िए पूरी खबर

यूं तो महेंद्र सिंह धोनी की पूरी दुनिया में फैन की लिस्ट कभी खत्म ही नहीं होगी।  महेंद्र सिंह धोनी ऐसे खिलाड़ी हैं जो कभी भी अपने आप को पीछे करते हुए नहीं पाए गए हैं.  महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली दोनों एक साथ है जब मैदान में होते हैं तब मैच में मैच का नजारा ही कुछ अलग होता है.

 महेंद्र सिंह धोनी काफी लंबे समय से भारतीय क्रिकेट में जुड़े हुए हैं. वहीं विराट कोहली अपने पैर काफी मजबूती के साथ भारतीय क्रिकेट टीम बनाए हुए हैं. विराट कोहली वर्तमान में काफी ज्यादा प्रसिद्ध खिलाड़ी है. विराट कोहली कभी भी अपनी उर्जा को खेल के दौरान नहीं बचाते हैं. मेरे कहने का मतलब यह है कि विराट कोहली जब खेलते हैं तब अपने शरीर की सारी ऊंचा को बल्ले में समाहित करके खेलते हैं.

विराट कोहली एक अच्छे और सच्चे इंसान हैं, यह इस बात से कहा जा सकता है कि विराट कोहली अपने खेल के प्रति काफी ज्यादा सीरियस रहते हैं.  इसी फोटो सोशल मीडिया साइट्स पर वायरल हो रहे अपने लगाए हुए दिख रहे हैं.

 एक फोटो महेंद्र सिंह धोनी के पास काफी ज्यादा अपने आप को लगी महसूस कर रहा है कि सिंह धोनी के सामने हैं. और उसके बाद उनको गले लगाया है. दूसरी फोटो में विराट कोहली के सामने एक है जो कि अपने कमीज को उतारे हुए खड़े हैं और विराट कोहली से गले मिलते नजर आ रहे हैं.

इस फोटो में देखा जा रहा है कि विराट कोहली के करने लगे हुए मैंने अपने  शरीर पर कुछ गहरे शब्दों में लिखा है. ध्यान से पढ़ने पर वह एक बात नजर आता है कि, जब जब विराट कोहली को  अवॉर्ड्स मिले हैं उनकी सारी वर्ष की ऐसी लिखी गई है. खुद इसमें लिखिए जिओ के बारे में पढ़ सकते हैं. विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी हैं जिन्हें कभी नहीं जा सकता है और जैसा खिलाड़ी ना है और ना ही कभी आएगा।

Body bodybuilder: इन महिला बॉडी बिल्डर लोगो को देखकर आप हो जायेगे हैरान

यूं तो हम सभी जानते हैं कि हमारा फिट रहना कितना जरूरी है. क्योंकि फिट रहने से ही हमने असल में जिंदगी जीने का मजा आता है. परंतु आज से कुछ समय पहले तक सिर्फ पुरुष  बॉडीबिल्डिंग किया करते थे. जितने भी बॉडीबिल्डर पहले के समय में पाए जाते थे सभी तंदुरुस्त और चुस्ती फुर्ती के साथ रहते थे. उनमें से कुछ लोग प्रोफेशनली बॉडीबिल्डर होते थे.

Body bodybuilder: ins.pics

परंतु आज 21वीं शताब्दी में बॉडी बिल्डिंग के क्षेत्र में महिलाएं काफी तेजी से आ रही है.  महिलाएं अपने शरीर को तेजी से लकी लेपन में तब्दील कर रहे हैं. शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आज के समय में हमेशा से जिम यानी कि प्रोफेशनली कसरत करते हैं. वही पुराने समय में लोग घर पर ही हूं कसरत किया करते थे.

Body bodybuilder: ins. pics

 परंतु यह आज काफी विकसित हो चुका है लोग इसके बारे में विस्तार से जान चुके हैं और इसमें अपने आप को पूरी तरह से डालना चाहते हैं. क्योंकि आज जो भी व्यक्ति स्वस्थ नहीं है उन्हें जीवन जीने का मजा वास्तव में नहीं आता है. आज हम आपको कुछ ऐसे ही महिलाओं के फोटो दिखाने जा रहे हैं जो कि वर्तमान में बॉडीबिल्डिंग करती है.

 बॉडीबिल्डिंग आज के समय में सबसे रोचक और आनंद देने वाला प्रोफेशन बन चुका है. लोग बॉडीबिल्डिंग करके अपनी जिंदगी को तो एक नया मौका देते ही है साथ में उन सभी व्यक्तियों का जीवन काफी आनंदमई होता है. अगर आप अभी शरीर को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको जरूरत है सुबह 4:00 बजे से पहले जगने का और मुख्य रूप से व्यायाम करने का.

 आज के समय में जो भी व्यक्ति व्यायाम करता है वह हमेशा आ गया है कि दिनभर काफी ऊर्जा से भरा हुआ रहता है. अगर आप भी अपने शरीर को स्वस्थ रखना चाहते हैं और एक लंबी आयु तक जीवन जीना चाहते हैं तो व्यायाम या  जिम का सहारा जरूरी है. आज के समय में जो भी व्यक्ति स्वस्थ नहीं है वह कुछ भी नहीं है उनका आदर सम्मान ही नहीं होता है. क्योंकि पूरी दुनिया एक दूसरे को ताकत के नजरिए से देखते हैं

Body bodybuilder: ins.pics

 और आप अलग है कि लोगों के पास तक धन दौलत है तो उन्हें भी देखा जाता है परंतु कोई भी व्यक्ति धन के साथ साथ शरीर के  धनी हो तो उनका सम्मान के गुना ज्यादा बढ़ जाता है. सबसे बड़ा बात यह है कि महिला हो या पुरुष देखने में बहुत ही अच्छा दिखने लगता है.

आज 12 नवंबर 219 की राशिफल: जानिए आज का राशिफल, क्या कहता है आपके सितारे

आज का राशिफल

मेष राशिफल: मेष राशि वालों आज आपका दिन अच्छा रहेगा आपका मन पुस्तकें पढ़ने का कर सकता है इस राशि के जो लोग व्यापार से जुड़े हैं, उनके लिए आज का दिन अच्छा है आप परिवार के सदस्यों के साथ कुछ आराम के पल बिताएंगे अगर आज आप कहीं जाता करने की सोच रहे हैं तो अपने जरूरी सामान ले जाना मत भूलिए। आज के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें आपका दिन तक जाएगा।  आज के लिए आपका लकी कलर ऑरेंज और लकी नंबर 6 है.

वृषभ राशिफल: वृष राशि वालों आज आपका दिन बेहतरीन रहेगा। अगर आप अपने जीवनसाथी से स्नेह की आशा रखते हैं, तो आज का दिन आप की आशाओं को पूरा करेगा।  जीवन साथी के साथ कहीं घूमने का प्लान बना सकते हैं. और आज के मौसम का लुत्फ उठा सकते हैं. आज आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा परिवार के सदस्यों की जरूरतों को पूरा करने में कामयाब रहेंगे। आज के दिन माता पिता का आशीर्वाद लेकर घर से निकलिए, आपके सारे काम बनेंगे। आज के लिए आपका लकी कलर है रेड, और लकी नंबर है.

मिथुन राशिफल: मिथुन राशि वालों आज आपका दिन खुशनुमा रहेगा। इस राशि के लोगों के जीवन साथी के साथ संबंध मधुर बनेंगे। हो सकता है कि आपका जीवन साथी आपको डिनर के लिए किसी अच्छे रेस्ट्रोरेंट में लेकर जा सकता है. आज किसी काम में भाई बहन से पूरा सपोर्ट मिलेगा। कार्यक्षेत्र में भी कुछ लोगों से सहयोग मिलेगा। आज महत्वपूर्ण कामों में समय बीतेगा। दोस्तों के से प्यार मिलेगा आज के दिन सूर्य देव को जल अर्पित करें, आपके रिश्ते मजबूत होंगे। आज के लिए आपका लकी कलर मेजेंटा और लकी नंबर है 5.

कर्क राशिफल: कर्क राशि वालों आज आपका दिन ठीक-ठाक रहेगा। इस राशि के जो लोग बेरोजगार हैं, उन्हें आज किसी अच्छी कंपनी से जॉब के लिए ऑफर आ सकता है. आज यात्रा के समय आप थोड़ी थकान महसूस कर सकते हैं, लेकिन शाम तक अच्छा महसूस करेंगे। आज प्रेमी के साथ लॉन्ग ड्राइव पर जा सकते हैं. इससे आपके रिश्तो के बीच मिठास भर जाएगी। आज के शिवलिंग पर जल अर्पित करें। आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। आज के लिए आपका लकी कलर है पिंक और लकी नंबर 4 है.

सिंह राशिफल: सिंह राशि वालों आज आपका दिन  सामान्य रहेगा। जो लोग राजनीति के क्षेत्र से जुड़े हैं. वह किसी सामाजिक कार्यक्रम में जा सकते हैं. वहां आपकी बातों पर सबका ध्यान केंद्रित होगा। बेहतर होगा कि थोड़ा संभल कर चलें। इस राशि के जो लोग कपड़े का व्यापार करते हैं उनके लिए आज का दिन अच्छा साबित होगा. आज आपके व्यापार में धन लाभ होने के आसार भी नजर आ रहे हैं. लेकिन आज आपके रूखे व्यवहार के चलते जीवन साथी के साथ थोड़े मतभेद उत्पन्न हो सकते हैं. आज के दिन पानी में थोड़ा सा गंगाजल मिलाकर नहाइये आपकी परेशानियां खत्म होंगी। आज के लिए आपका लकी कलर वॉइलेट और लकी नंबर है 2.

कन्या राशिफल: कन्या राशि वालों आज आपका दिन खुशियों से भरा रहेगा। आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा आपको बुजुर्गों का आशीर्वाद मिलेगा। आपका मन प्रसन्न रहेगा। यात्राओं का दौर बना रहेगा। आज अपनी ऊर्जा को अच्छे कार्यों में लगाएंगे। घर में सुखद वातावरण बना रहेगा। इस राशि के छात्रों को कैरियर में अच्छे मौके मिलेंगे। आज लोगों का ध्यान आपकी तरफ रहेगा। आज के दिन मंदिर में फल का दान करें। घर का माहौल खुशनुमा बना रहेगा। आज के लिए आपका लकी कलर है ब्लैक, और लकी नंबर 8.

तुला राशिफल: तुला राशि वालों आज आप काफी एनर्जेटिक फील करेंगे। आज आपका वैवाहिक जीवन रंगों से भरा रहेगा। लेकिन कार्यक्षेत्र में आपकी उन्नति कुछ बाधाओं के चलते अटक सकती है. आपको दिल से काम लेने की जरूरत है. आज ऐसे लोगों से जुड़ने से बचें जो आपकी प्रतिष्ठा को आघात पहुंचा सकते हैं. आज के दिन कुत्ते को रोटी खिलाइए, काम में आने वाली बाधाओं से छुटकारा मिलेगा। आज के लिए आपका लकी कल वाइट है, तथा लकी नंबर है 6.

वृश्चिक राशिफल: वृश्चिक राशि वालों आज आपका दिन परिवार वालों के साथ गुजरेगा. इस राशि के छात्रों को आज परीक्षा में बहुत अच्छे अंक प्राप्त होंगे. आज दोस्तों के साथ टाइम स्पेंड कर सकते हैं. व्यापारिक यात्रा फायदेमंद साबित हो सकती है. बच्चों से संबंधित चिंता दूर होगी. आज धर्म के प्रत्याशी विशेष रूचि रहेगी. आज के दिन मंदिर में घी का दीपक चलाइए. आपको कारोबार में सफलता हासिल होगी. आज के लिए आपका लकी कलर है स्काई ब्लू, और लकी नंबर है 11.

धनु राशिफल: धनु राशि वालों आज आपके व्यवहार से दूर से लोग प्रसन्न रहेंगे। दांपत्य जीवन में उमंग बना रहेगा। दांपत्य जीवन भी अच्छा रहेगा। परिवार के साथ हंसी खुशी के पल बिताएंगे। आज वैवाहिक जीवन पर समरसता बढ़ेगी। घरेलू उत्तर दायित्व बखूबी निभाएंगे। मित्रों के साथ मनोरंजक यात्रा हो सकती है. आज घर परिवार में किसी मांगलिक आयोजन की रूपरेखा भी बन सकती है. आज के दिन अपने इष्टदेव का ध्यान करें। सब बढ़िया रहेगा। आज के लिए आपका लकी कलर समंदरी ग्रीन है, और लकी नंबर 7.

मकर राशिफल: मकर राशि वालों आज ऑफिस में लंबे समय से रुके हुए काम पूरे हो सकते हैं. इस राशि के स्टूडेंट के लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। उनका पढ़ाई में मन लगेगा। आज आपको अपने प्रिय के साथ समय बिताने की जरूरत है, ताकि आप दोनों एक दूसरे को अच्छी तरह से समझ सकें। आज माता-पिता के साथ मंदिर जा सकते हैं. आज के दिन आप पेड़ लगाइए आपको पॉजिटिविटी फील होगी. आज के लिए आपका लकी कलर है पीच, और लकी नंबर 3 है.

कुंभ राशिफल: कुंभ राशि वालों आज आपका रुझान धार्मिक कर्म की तरफ रहेगा। आप किसी धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे आज रिश्तेदारों के साथ अपने संबंधों को फिर से तरोताजा करने का दिन है. परिवार का पूर्ण सहयोग मिलेगा। इस राशि के विवाहित लोग आपके जीवन साथी को खुश करने का कोई अच्छा प्लान बना सकते हैं. आज के दिन माता पिता का आशीर्वाद लीजिए। आपके सारे काम सफल होंगे। आज के लिए आपका लकी कलर है, ग्रीन और लकी नंबर है 9.

मीन राशिफल: मीन राशि वालों आज आपका ध्यान रचनात्मक कार्यों में लगेगा। आप किसी के साथ मिलकर नई रचना की शुरुआत कर सकते हैं. आपका सामाजिक कार्यों में रुझान बढ़ेगा। आपके कामों से लोग प्रभावित भी होंगे हो सकता है. कुछ लोग आपकी तारीफ भी करेंगे. आज आपके गुणों का फायदा आपको आने वाले दिनों में जरूर मिलेगा। आज के दिन अनाथालय में जाकर बच्चों को कुछ खाने की चीजें दीजिए। आपका दिन शुभ रहेगा। आज के लिए आपका लकी कलर है ग्रे, और लकी नंबर है 4.

आजका राशिफल विशेष:

जिनका जन्मदिन है जिनका जन्मदिन आज 12 नवंबर है तो, वह आज नई क्रोकरी घर लाए. और जिनकी आज मैरिज एनिवर्सरी है, वह गाय को रोटी दे तो, साल भर सुख और सौभाग्य बढ़ता ही रहेगा।

Ayodhya Verdict: अगर सुप्रीम कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में ना होता तो क्या होता?

राम मंदिर बाबरी मस्जिद जो भी आप कहने उसके फैसले भी अब तक टीवी चैनलों पर 3000 घंटे की टिप्पणी हो चुकी है सरकार समेत सभी को अंदाजा था कि किस तरह का फैसला आने वाला है वैसे भी जो झगड़ा 164 वर्ष में भी कोई ना कर पाए उसका उच्चतम न्यायालय से जो भी फैसला था उसे ठीक ही होना था.

पर सोचिये अगर पांच जजों का बैच बाबरी मस्जिद की जमीन सुन्नी वक्फ बोर्ड के हवाले करके गिरी हुई मस्जिद को दोबारा बनाने के लिए एक सरकारी ट्रस्ट बनाने और निर्मोही अखाड़ा और रामलला को मंदिर के लिए अलग से 5 एकड़ जमीन प्लॉट करने का फैसला देता तो क्या होता.

क्या तब भी सब कहते कि यह एक ऐतिहासिक फैसला है जिसका पालन हर नागरिक और सरकार के लिए लाजमी है. फैसला उस दिन आया जब करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटित हुआ हालांकि यह भी एक ऐतिहासिक पल था पर इसका सबसे ज्यादा कवरेज पाकिस्तानी चैनल्स पर हुआ जिस तरह अयोध्या फैसले का कवरेज भारती चैनल पर हुआ.

Ayodhya Verdict: राम मंदिर

उस समय कोर्ट रूम खचाखच भरा हुआ था उसी वक्त करतारपुर साहब के सीन में भी खबर से खफा चल रहा था अभी पाकिस्तानी चैनलों पर इस संदर्भ में और बात होती अगर भूतपूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बीमारी और इलाज के लिए उन्हें लंदन रवाना करने के मामले में आ मां की अर्चने ना  पैदा होती।

हालांकि अदालत ने नवाज शरीफ को इलाज के लिए बाहर जाने की अनुमति दे दी है मगर इस समय यह इन-तिहाई बीमार शख्स गृह मंत्रालय और नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो के दरमियान फुटबॉल बना हुआ है. क्योंकि जब तक नवाज शरीफ का नाम देश से बाहर जाने वालों पर पाबंदी की लिस्ट से नहीं निकलता वह जहाज पर सवार नहीं हो सकते।

 सरकार कह रही है कि उसे लिस्ट से नाम निकालने में कोई दिक्कत नहीं मगर यह भी नहीं बता पा रही कि अगर उसे दिक्कत नहीं तो फिर किसे दिक्कत है जो कोई भी टांग अड़ा रहा है उसे पता होना चाहिए कि नवाज शरीफ की जिंदगी इस वक्त एक कच्चे धागे से लटकी हुई है.

अगर शासित नवाज शरीफ के रूप में एक और जुल्फिकार अली भुट्टो पंजाब को भी तोहफे में देना चाहते हैं तो वह अलग बात है दूसरी ओर मौलाना फजलुर रहमान का राजधानी इस्लामाबाद में धरना दूसरे सप्ताह में दाखिल हो गया है अगर नवाज शरीफ को कुछ हो गया तो फिर धरने में एक नई जान पड़ सकती है और सरकार को वाकई जान के लाले पड़ सकते हैं.

फैसला जो भी आया है उससे पूरा देश संतुष्ट है. यह पोस्ट BBC NEWS के अधीन है. क्योंकि यह पोस्ट बीबीसी न्यूज़ से स्रोत के रूप में लिया गया है. इस पोस्ट से किसी भी तरह का क़ानूनी उलंघन नहीं कर रहा है.

अयोध्या फैसला: अयोध्या के फैसले से अगर हैं नाराज़ तो करें ये काम, सुप्रीम कोर्ट भी सुनेगी आपकी हर बात

कई सालों के बाद भारत के दो बड़े समूह हिन्दू और मुस्लिम के हित में हो रहे क़ानूनी लड़ाई की सुनवाई हो चुकी है. 9 दिसम्बर 2019  को भारतवर्ष के सबसे प्रथम न्यायिक संस्था सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है. फैसला के दौरान और फैसला आने के पहले एक दो दिनों पहले हीं सभी राज्य सरकारों को ये निर्देश दे दिया गया था की अपने अपने प्रान्त में किसी भी तरह के आराजकता न फैले इसका बंदोबस्त कर दिया जाये.

अयोध्या फैसला: सुप्रीम कोर्ट, राम मंदिर

 6 दिसंबर 1992  को जब बाबरी मस्जिद को तोड़ा गया था तभी से यह मामला काफी गर्म हो गया था. तब से लेकर  9 दिसंबर 2019 तक काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। 5 जजों की बेंच ने अयोध्या मामले पर सुनवाई करते हुए मुस्लिम पक्षों को 5 एकड़ जमीन  देने का ऐलान किया है. तथा हिंदू समाज को उसी स्थान पर जहां पर की राम जन्म भूमि बताई जा रही है ठीक उसी स्थान पर 2.5 एकड़ की जमीन दी गई है. जहां पर मंदिर का निर्माण शुरू होगा।

 कहा जा रहा है कि यह फैसला काफी सटीक और सही है यह सिर्फ एक या दो नहीं बल्कि देश के कई विद्वानों ने अपना तर्क तथा विचार प्रकट करते हुए इसकी जानकारी दे दी है. भारतवर्ष  लगभग सभी मुस्लिम समुदाय तथा हिंदू समुदाय इस फैसले से स्पष्ट रूप से संतुष्ट हैं. तथा इस मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं. वहीं असदुद्दीन ओवैसी ने अपने भाषण में यह लगातार कहां है और कहते आ रहे हैं कि उन्हें इस फैसले से नाराजगी है उन्हें सुप्रीम कोर्ट  की जजमेंट से संतुष्टि नहीं हुई है.

 वहीं दूसरी ओर मुस्लिम पक्ष की सभी ज्ञानी धर्मगुरु यह कह रहे हैं कि इस फैसले से हम संतुष्ट हैं. और इस फैसले को लेकर किसी भी तरह के कर्म ना उठाएं क्योंकि बिना सोच-विचार और तर्क के किसी फैसले पर पहुंचना सही नहीं होगा।

 फैसला आते ही भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट के जरिए यह कहा कि इसे  जीत की नजर से नहीं देखा जाए. बल्कि धर्म भक्ति के अलावा पहले देश भक्ति को प्रधानता दी जाए.  अभी पूरे भारतवर्ष में सभी स्थानों पर सुरक्षाकर्मी तैनात हैं ताकि किसी भी तरह का अराजकता ना फेल पाए.  वहीं दूसरी ओर साइबर पुलिस में सभी सोशल मीडिया और इंटरनेट पर खास रूप से नजर रख रही है कि कोई भी व्यक्ति किसी धर्म के प्रति गलत भावनाओं को बढ़ावा ना दे सके. 

Chhat puja new song 2019: छठ पूजा में सुने यह 10 गाना, होगी मन्नत पूरी

लोगों को हमेशा यह सच करते हुए देखा जाता है कि छठ पूजा सॉन्ग. बहुत सारे लोगों को यह भी देखा गया है कि लोग इंग्लिश में टाइप करते हैं. Chhath puja new song 2019 और उनकी तरफ के गाने मिलते हैं जो उन्हें सुनकर अपना मन बनाते हैं और महापर्व छठ का आनंद लेते हैं. छठ पूजा में हम अक्सर याद आती है कि हम पूजा में हर वर्ष अच्छे-अच्छे गानों को सुनकर महापर्व छठ का आनंद लेते हैं.

Chhath puja new song 2019:

छठ हिंदुओं के लिए उत्तर भारत में बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण महापर्व है जिसके लिए लोग गूगल में सर्च करते हैं और कुछ गानों को सुनते हैं और महापर्व का आनंद लेते हैं. जिसमें हम भी आज आपको बताने जा रहे हैं कि छठ पूजा सॉन्ग 2019 यानी कि Chhath puja new song 2019 की झलक आपको दिखाते हैं.

छठ पर्व खासतौर से बिहार में ही मनाया जाता है जो कि बहुत सारे प्रश्नों को हासिल करते हुए इस पर्व को पूरा बिहार खुशियों के साथ आनंदित होता है. आप सभी ने यह जरूर देखा होगा कि महा छठ पर्व को बिहार के अलावा अन्य देशों में भी मनाया जा रहा है. जरूरी नहीं है कि वह सभी बिहार के निवासी हैं परंतु इस महापर्व को मनाने का जो आनंद होता है वह आनंद शायद किसी और महापर्व में नहीं देखने को मिल सकता है.

छठ पूजा के गाने सिर्फ बिहार में ही नहीं बल्कि विश्व के कई देशों में सुना और गाया जाता है. छठ पूजा सॉन्ग यानी कि chhath puja new song को लोग काफी सुनते हैं और इस महापर्व का आनंद लेते हैं. मैं आपको बता दूं कि इसी महापर्व के चलते बिहार ने पूरे विश्व में अपनी एक अलग पहचान स्थापित किया है.

अगर आप chhath puja new song यानी कि छठ पूजा के गाने सुनना चाहते हैं तो वह ऊपर या नीचे वीडियो प्ले करके गाने सुन सकते हैं. छठ पूजा हर वर्ष बिहार में ठंड की शुरुआत में मनाई जाती है. सबसे पहले लोग अपनी बातों को पूरी करने के लिए भगवान से प्रार्थना करते हैं कि उनका कोई काम पूरा हो जाए.

जिसके बदले में लोग हर वर्ष सूर्य देव की पूजा करते हैं अगर उनकी मनोकामना पूरी हो जाती है. लोग इस महापर्व को गंगा जी के किनारे या किसी भी शुद्ध नदी के किनारे घाट बनाकर वहां पर सुबह और शाम पूजा करते हैं जिसमें मुख्य रूप से सूर्य देवता की पूजा होती है. तथा इस पर्व में छठ मैया की पूजा होती है.

इस छठ पर्व में घाट पर तरह-तरह के गाने बजते हैं जो कि काफी मनमोहक होते हैं. जितने लोग छठ पूजा न्यू सॉन्ग 2019 यानी chhath puja new song 2019 कई गाने बजाते हैं.

छठ पूजा में पहला दिन शाम को सूर्यास्त के समय घाट बच्चा का पूजा किया जाता है तथा के अगले ही दिन सुबह सूर्य उगते समय पूजा की जाती है. और उसी दिन पूजा की समाप्ति हो जाती है.

मुकेश अम्बानी और नीता अंबानी दिखे अभिषेक बच्चन के साथ, पढ़िए पूरी खबर

मुकेश अंबानी भारत देश के सबसे बड़े कारोबारियों में से एक हैं। मुकेश अंबानी भारत देश में सबसे अमीर व्यक्ति है और एक कुशल व्यापारी भी हैं। मुकेश अंबानी की धर्मपत्नी नीता अंबानी एक सोशल वर्कर्स के रूप में हमेशा सामने आती रहती है। नीता अंबानी मुंबई इंडियंस की मालकिन है और यह सफल और प्रभावशाली व्यापारी भी है।


अभिषेक बच्चन एक फिल्मी सितारे हैं जोकि कॉमेडियन या फिर बायोग्राफी या फिर अन्य रोल में फिट हो जाते हैं। अभिषेक बच्चन के पिता जी अमिताभ बच्चन की दोस्ती काफी पुरानी है। उन दोनों को एक साथ कई टीवी कार्यक्रम में साथ में देखा गया है। यह दोनों युवाओं के लिए बहुत ही ज्यादा रोल मॉडल का काम करते हैं।

मुकेश अंबानी प्रॉब्लम्स को सॉल्व करके बिजनेस में आते हैं जिसके चलते उन्हें काफी प्रॉफिट होती है। वहीं अगर बात करें अमिताभ बच्चन की तो वह भी एक सफल कलाकार है क्योंकि कुछ अलग ही अंदाज है जो कि यह दर्शकों को काफी अच्छे लगते हैं।हाल ही में मुकेश अंबानी और नीता अंबानी दोनों ही अभिषेक बच्चन से मिलते हुए नजर आए हैं। यह कहा जा रहा है कि दीपावली के दौरान बड़े लोगों की मुलाकात हुई है। मुकेश अंबानी बगल में खड़े हैं और नीता अंबानी और अभिषेक बच्चन साथ में हाथ मिलाए खड़े हैं और बातें कर रहे हैं।

अगर आप मुझसे वीडियो को देखना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करिए और उस वीडियो को आप आसानी से देख सकते हैं। अभिषेक बच्चन एक अलग ही अंदाज में दिखे जोकि काफी अलग था और दीपावली में काफी सूटेबल भी लग रहे थे।

मुकेश अंबानी और नीता अंबानी एक सफल बिजनेसमैन है इसीलिए उन्हें एक रोल मॉडल की नजर से देखा जाता है क्योंकि इस उम्र में भी वह कुछ ऐसा काम करते हैं जिसे एक युवा व्यक्ति करने में कई बार सोचते हैं। मुकेश अंबानी की यही रोचक वाली बात काफी रोचक है। क्योंकि इस उम्र में काफी ज्यादा एनर्जी से भरे रहनवऔर सही और सटीक निर्णय लेना काफी ज्यादा महत्वपूर्ण और साथी काम है।

ये थी कुछ मुकेश अंबानी और नीता अंबानी से जुड़ी कुछ खबरें जो कि मीडिया में सामने आ रही थी। और वीडियो वायरल हो रहा था। अगर आप इसी तरह से खबरों को जानना चाहते हैं और किसी भी तरह के खबर को मिस नहीं करना चाहते हैं। तो आप नीचे दिए गए सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करके सब्सक्राइब जरूर करें।

बांग्लादेश के इस खिलाड़ी को ICC ने किया बैन, इनके बिना बीसीबी रह जायेगा अधूरा

बांग्लादेश की एक नंबर के ऑलराउंडर और बांग्लादेशी क्रिकेट टीम के कप्तान शाकिब अल हसन पर आईसीसी यानी कि इंटरनेशनल क्रिकेट क्लब ने 2 साल के लिए बैन लगा दिया है। शाकिब अल हसन भारत दूरी पर आने वाले हैं।
बांग्लादेशी अखबार समकाल के मुताबिक एक बुकी ने मैच फिक्सिंग के लिए बांग्लादेश क्रिकेट टीम के कप्तान शाकिब अल हसन से संपर्क किया था जिसकी जानकारी शाकिब अल हसन ने आईसीसी यानी कि इंटरनेशनल क्रिकेट कॉरपोरेशन को नहीं दी थी।

आईसीसी ने निर्देश दिया था बीसीबी द्वारा किसी भी तरह से शाकिब अल हसन को अभ्यास में शामिल नहीं किया जाएगा जिसके वजह से शाकिब अल हसन ने नाही अभ्यास किया है और ना ही टेस्ट खेलने पर सोमवार को बैठक में शामिल हुए थे।

दरअसल बात यह है कि अगर किसी भी तरह से किसी भी खिलाड़ी को फिक्सिंग का अवसर मिलता है तो सबसे पहले उन्हें आईसीसी को बताना होता है। ऐसा नहीं करने पर किसी भी तरह का आईसीसी द्वारा पनिशमेंट मिल सकती है। ऐसा ही पनिशमेंट बांग्लादेश के खिलाड़ी और बांग्लादेश के क्रिकेट टीम के कप्तान शाकिब अल हसन को आईसीसी द्वारा 2 साल तक बैन लगाने का प्रावधान जारी किया है।

शाकिब अल हसन की मानें तो शाकिब अल हसन ने किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया है। वही बांग्लादेश के अखबार समकाल की मानें तो शाकिब अल हसन द्वारा लगाए गए इस आरोप की पूरी तरह से पुष्टि की जा चुकी है तथा यह भी कहा जा रहा है कि शाकिब अल हसन ने यह बात छुपाई है। रिपोर्ट के मुताबिक शाकिब अल हसन एपीएसयू के जांच की अधिकारियों के सामने इस आरोप को कबूल किया है।

आईसीसी ने सट्टेबाजों के कॉल रिकॉर्ड स्कूल जांच किया जांच करने के बाद मैच फिक्सिंग के बारे में पता चला उसके बाद भी इस खबर को पुष्टि की है। अभी बांग्लादेश को भारत के खिलाफ तीन नंबर सीन 3 T20 मैच खेलनी है। फिलहाल अभी तो बांग्लादेश क्रिकेट टीम की कप्तान शाकिब अल हसन के पास है परंतु आईसीसी के निर्देश जारी होती है अब देखना होगा कि शाकिब अल हसन किससे अगला कप्तान चुनते हैं।

एलाइची एक रिपोर्ट के मुताबिक आईसीसी के इस फैसले शाकिब अल हसन काफी नाराज हैं और उन्होंने अपनी गलती कबूल भी कर ली है और उन्होंने गलती कबूल करते हुए कहा कि मैं इस खेल को काफी पसंद करता हूं परंतु हमें इस खेल से रोकने पर हमें बहुत बुरा लगा है लेकिन फिक्सिंग के मामले को लेकर शाकिब अल हसन अपनी गलती स्वीकार नहीं करते हैं।

नेहा कक्कर ने फिर किया ऐसा फ़ोटो शेयर, दिया अपने बॉयफ्रेंड को ये संदेश

नेहा कक्कर के गानों का फैन तो लगभग सभी है। नेहा कक्कर के गाना में वह हर सभी ताल और सुर गानों में रहता है जो कि नेहा कक्कर के गानों को बेहतरीन बनाता है नेहा कक्कर के गाना में अक्सर यह देखा गया है कि ऐसा लगता है कि उस गाने में वास्तव में कुछ फीलिंग्स है जो की आवाज के माध्यम से हमारे कानों में पड़ती है।

नेहा कक्कर सोनी टीवी पर इंडियन आइडल की जज है। उनकी जजमेंट ने आज तक लगभग बहुत सारे लोगों की जिंदगी बदल दी है। तो किसी को प्रेरणा के जरिए लोगों को प्रोत्साहित करती है कि आप मेहनत करते रहिए आप को सफलता एक दिन जरुर मिलेगी।

नेहा कक्कर की जजमेंट की यही खासियत किसी और जज के मुकाबले अलग बनाती है। क्योंकि एक कहावत है कि मेरे को सिर्फ मेरे ही पहचान सकता है जो कहावत बिल्कुल सत्य साबित होती है नेहा कक्कर के ऊपर।
बीते आवाज जब नेहा कक्कर का उसके बॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हुआ था तब गजेंद्र वर्मा की ऑफिशियल गाने को अपनी आवाज देते हुए गई थी और अपने बॉयफ्रेंड को यह संदेश दिया था कि उनके छोड़ने के बाद भी उन्हें कोई पछतावा नहीं है। गजेंद्र वर्मा की उस गाने का बोल था इसमें तेरा घाटा मेरा कुछ नहीं जाता।

नेहा कक्कर ने साड़ी पहनी हुई थी और काफी आकर्षक दिख रही थी जिसने यह साफ-साफ संदेश उसके बॉयफ्रेंड को जा रहा था कि उन्हें किसी तरह का पछतावा नहीं है। परंतु ऐसी कोई बात नहीं है कि उन्हें पछतावा नहीं आया होगा। उसी काम को दिल में इस तरह छुपाए रखी थी अक्सर हम सभी ने यह देखा था कि तेरी या कहीं पर भी गाना गाते समय वह रो पड़ती थी।

इसी बीच उन्होंने टिक टॉक और अन्य सोशल मीडिया साइट पर छोटे-छोटे वीडियो बनाकर अपना मन बहलाने की कोशिश शुरू कर दी। आज भी जब कोई फोटो सोशल मीडिया साइट पर आती है तो ऐसा लगता है कि उन्हें किसी भी तरह की समस्या नहीं है कि उनके बॉयफ्रेंड नहीं है छोड़ दिया है। परंतु टिक टॉक के वीडियो नेहा कक्कर कुछ अलग ही दिखती है और उसे कोई भी संदेश नहीं दिखता है कि वह वीडियो उनके प्रेम कहानी से संबंधित हो।

नेहा कक्कर को हम सभी मानते और सम्मान देते हैं क्योंकि वह बहुत ही सच्चे और नेक दिल की इंसान है। जो कि अपनी तरक्की का कभी भी घमंड नहीं दिखाया है। यही होती है सच्ची मानवता की पहचान और इसी इंसान को इतनी ज्यादा तरक्की मिलती है कि हम सोच भी नहीं सकते।

इसीलिए हमें एक सच्चा इंसान बनना चाहिए और सभी की मदद करते रहना चाहिए और जब भी जीवन में कोई भी समस्या आए तो मन मे सोचना चाहिए कि यह वक्त ही ढल जाएगा और हमेशा खुश रहना चाहिए।

हाथी ने किया ऐसा काम कि इस लड़की को सेल्फी लेना पड़ा महंगा

दोस्तों क्या आपको पता है कि हाथी यानी कि एलीफेंट अक्सर सर्कस में पाया जाता है. अगर कोई भी हाथी बाहर पाया जाता है तो वह पूरी तरह से फालतू होता है ना कि वह जंगली हाथी होता है. हाथियों को सर्कस में आपने कला करते हुए जरूर देखा होगा।

आज हम आपको एक ऐसे ही हाथी के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि पालतू तो है परंतु पालतू होने के साथ-साथ उसमें कुछ विशेष तरह के ज्ञान भी विकसित हैं. जिससे वहां की काफी खास दिखता है और काफी अलग भी है। ने पालतू होते हुए भी कुछ ऐसा काम किया है जिसके चलते या सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है।

एक वीडियो है जिसमें की एक हाथी के सामने एक लड़की खड़ी हो जाती है और सेल्फी लेने लगती है। लेकिन जैसा कि मैंने आपको पहले भी बताया है कि यहां थी बाकी हाथियों के तारा नहीं है बल्कि उससे काफी अलग है। ध्यान से विश्लेषण किया जाए तो यहां थी कुछ समय तक काफी स्थिर रहता है परंतु जब लड़की सेल्फी लेने के लिए हाथी के स्कूल के पास पहुंचती है तब कुछ अजीब होता है।

अगर आप इस वीडियो को देखना चाहते हैं तो गूगल में समाचार बुक लिखकर सर्च कीजिए उसके बाद आप हमारे ऑफिशियल वेबसाइट पर आने के बाद उस वीडियो को बारीकी से देख सकते हैं। उस वीडियो में काफी अजीब से हरकतों को अंजाम देता हुआ वह हाथी नजर आता है।

इस पृथ्वी पर सभी जीव जंतु में अपना ज्ञान होता है उस ज्ञान की बदौलत वह अपने सारे काम को अंजाम देता है। परंतु यहां पर कुछ अजीब हो रहा है कि हाथी अपने ज्ञान सीमा से बाहर आकर उसे बाहरी और अलग करने की कोशिश कर रहा है।

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई है तो इसे लाइक जरुर कर दें और आप इसे शेयर करना ना भूलें
video link

आज का राशिफल: आज 22 अक्टूबर को इन राशियों के लोगों को होगा आकस्मिक धन लाभ, पढ़िए पूरा राशिफल

आज का राशिफल: मेष राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: मेष प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: मेष आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: मेष स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: मेष राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: वृष राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: वृष प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: वृष आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: वृष स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: वृष राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: मिथुन राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: मिथुन प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: मिथुन आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: मिथुन स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: मिथुन राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: कर्क राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: कर्क प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: कर्क आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: कर्क स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: कर्क राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: सिंह राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: सिंह प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: सिंह आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: सिंह स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: सिंह राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: कन्या राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: कन्या प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: कन्या आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: कन्या स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: कन्या राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: तुला राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: तुला प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: तुला आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: तुला स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: तुला राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: वृश्चिक राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: वृश्चिक प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: वृश्चिक आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: वृश्चिक स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
………

सुझाव/उपाय: वृश्चिक राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: धनु राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: धनु प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: धनु आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: धनु स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: धनु राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: मकर राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: मकर प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: मकर आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: मकर स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: मकर राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

आज का राशिफल: कुम्भ राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: कुम्भ प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…….

आय राशिफल: कुम्भ आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: कुम्भ स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: कुम्भ राशिफल उपाय

……..
……..
…….
………..

आज का राशिफल: मीन राशिफल 21 अक्टूबर 2019


………….
………
………..
……….

प्रेम राशिफल: मीन प्रेम राशिफल

……
…..
…..
…..

आय राशिफल: मीन आय राशिफल

……
…….
…….
…….

स्वास्थ्य राशिफल: मीन स्वास्थ्य राशिफल

…….
……
…….
…….

सुझाव/उपाय: मीन राशिफल उपाय

……..
……..
…….
……..

Economy War: चीन की ये कंपनियां होने वाली है बंद, अमेरिका ने चीन के इन 28 कंपनियों को किया ब्लैकलिस्ट

अगर माने की चीन औद्योगिकरण में पूरी दुनिया में सबसे आगे है तो यह कहना गलत नहीं होगा. क्योंकि चीन बहुत ही तेजी से अपने उद्योगों को इस तरीके से बढ़ावा दे रहा है कि उनका इकोनॉमी इतना तेजी से बढ़ रहा है कि वह पूरी दुनिया में पहले स्थान पर आ जाएगा. चीन में अधिकतर कंपनियां टेक की है. और अगर बात करें खिलौनों की तो एशिया में सबसे ज्यादा खिलौनों की बिक्री चीन की कंपनियां करती है.

टेक्नोलॉजी दिन प्रतिदिन चीन में एक नए मुकाम पर पहुंच रही है. किसी भी देश का इकोनॉमी में अगर वृद्धि हो रही है, तो उसका एक ही कारण है कि वहां के उद्योग में इनोवेशन हो रहे हैं. अगर इनोवेशन की बात करें तो पूरी दुनिया में चीन 17वें नंबर पर आता है. पिछले कई दशकों से यह आरोप लगते रहे हैं कि चीन कॉपीराइट नियमों का पालन नहीं करता है.

जिसमें कई बार सत्यता पाई गई है कि चीन में बहुत सारी टेक कंपनियां दूसरों के सिद्धांतों पर अपने मशीन स्कोर बनाते हैं.  परंतु अब चीन की कंपनियों में काफी सुधार हो चुका है और वैश्विक स्तर पर इस तरह के बहुत सारे नियम कठोरता से सभी देशों में लागू किए जा चुके हैं.

पिछले 70 सालों में चीन ने काफी तेजी से अपने देश को विकसित किया है. एक कहावत है,  कॉपी करना भी एक कला है और सभी से कॉपी नहीं होता है. यही कोई कारण रहा कि चीन अन्य देशों के मुकाबले काफी तेजी से विकसित हो रहा है.

पूरे विश्व में पहले नंबर पर स्थित इकोनॉमी में अमेरिका सबसे आगे है. वहीं चीन इतनी तेजी से विकसित हो रहा है कि उनका इकॉनमी 2025 से 2030 के बीच अमेरिका को मात देते हुए पूरे विश्व में पहले स्तर की इकोनॉमी पर पहुंच जाएगा. और यही कुछ वजह है कि अमेरिका बार-बार चीन की कई कंपनियों को अपने देश में सामान निर्यात करने पर रोक लगा चुके हैं.

चीन ने एशिया के लगभग सभी देशों में बड़े ही सफलतापूर्वक अपने व्यापार को बढ़ाया है. सिर्फ एशिया ही नहीं बल्कि चीन दुनिया के बाकी देशों में भी काफी तेजी से विकसित हो रहा है. लेकिन अमेरिका ने चीन की लगभग 28 कंपनियों को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया है.

अमेरिका के इन कंपनियों पर बैन लगाने पर अभी चीन का बयान आना बाकी है.  ऐसे में अगर इन कंपनियों ने अमेरिका में कुछ सामान निर्यात करने की सोची तो उन्हें सबसे पहले स्पेशल परमिशन लेने होंगे. इन 28 कंपनियों में सबसे ज्यादा टेक कंपनियां शामिल है.
कोई भी देश किसी भी अन्य देश के सामानों पर बैन तभी लगाता है जब उनके देश में पूर्ति होने के लिए वह सामान उपलब्ध हो रहा होता है. परंतु किसी अन्य देश के द्वारा सस्ते दामों में दिए जाने पर बाहर से उस देश में सामान की बिक्री तेज हो जाती है.  और उस देश के व्यापारियों को काफी दिक्कत होता है और अपना बिजनेस दिन प्रतिदिन समाप्त होते हुए दिखता है.

और यही वजह है कि एशिया के बहुत सारे देश में औद्योगिकरण नहीं हो पा रहा है क्योंकि चीन से बहुत ही सस्ते दामों पर उस आदेश में वस्तु का निर्यात हो जाता है जिससे उस देश का इकॉनमी मी गिरना तय है. और यही सारी घटनाएं भारत देश में भी होती है कि भारत देश के उद्योग इसीलिए बंद पड़े रहते हैं या शुरू नहीं हो पाते हैं क्योंकि उस सामान की पूर्ति पहले से ही सस्ते दामों पर दूसरे देश से आ रही होती है.

आपका क्या राय है आप कमेंट बॉक्स में जरूर बताइएगा और ताजा खबरों के लिए हमें नीचे दिए गए फॉलो बटन पर क्लिक करके फॉलो जरूर कर लें

WWE VIDEO: गोल्डबर्ग ने ब्रॉक लेसनर को किया चैलेंज, लेकिन अंडरटेकर ने बिगाड़ दिया खेल

WWE का मैच काफी रोचक और रोमांचक होता है. जिसे देखने में दर्शक को काफी मजा आता है. डब्ल्यूडब्ल्यूई के मैच में अक्सर यह देखा जाता है, कि दिग्गज खिलाड़ी किसी भी और खिलाड़ी से डरते नहीं है. बल्कि उसे ललकारते रहते हैं. और बाद में मैच शुरू होते ही शुरू से ही अपने कंपीटीटर को हमेशा मात देने के लिए लगातार पीटते रहते हैं. और ललकारते भी रहते हैं.
wwe के सबसे शक्तिशाली और वर्ल्ड चैंपियन रह चुके गोल्डबर्ग ने अन्य सभी खिलाड़ियों को यह कहा कि मैं लड़ने के लिए जो भी करता हूं वही काम अन्य खिलाड़ी यानी कि मेरे सारे कंपीटीटर करते हैं. यानी कि मैं जो भी करता हूं वही कॉपी करके WWE स्टार पैसे कमाते हैं.

और उसके बाद ज्यादा कुछ बोलते उससे पहले ही ब्रॉक लेसनर की एंट्री हो गई. फिर क्या था मैच में तो एक रोमांचक सा लहर छा गया. ब्रॉक लेसनर WWE चैंपियन रह चुके हैं. वह काफी शक्तिशाली भी है, परंतु गोल्डबर्ग भी ब्लॉक लेसनर से कम शक्तिशाली नहीं है. बल्कि यूं कहें तो दोनों की शक्ति का पैमाना वास्तव में नहीं है.WWE में आपने हमेशा यह देखा होगा कि गोल्डबर्ग को जितना भी पटक दिया जाए फिर भी वह जल्दी थकते नहीं है. और वही बात करें अगर ब्रॉक लेसनर कि तो ब्रॉक लेसनर किसी को पटकते पटकते जल्दी नहीं थकते हैं. बल्कि वह मार करने में काफी ज्यादा सक्षम है. लेकिन गोल्डबर्ग को कोई कितना भी पटक दिए जाएंगे. तो भी वह अपने आप को किसी भी परिस्थिति में अपने आप को संभाल कर खड़े कर सकते हैं.

जैसे ही ब्रॉक लेसनर की एंट्री हुई तो फिर उनके ही आदमी ने कुछ ऐसा बोला जिससे गोल्डबर्ग को काफी बेइज्जती महसूस हुआ. उसके बाद गोल्डबर्ग ने उस आदमी को यह बोला कि तुम एक बच्चे के साथ आये हो. जिससे ब्रॉक लेसनर भी काफी भड़क गए. उसके बाद पालक झपकते की ब्रॉक लेसनर रिंग में पहुंच गए. WWE ROW में यह मैच काफी ज्यादा रोमांचित करने वाला है. जैसे ही ब्रॉक लेसनर रिंग में पहुंचे तो दोनों रेसलर एकदम आमने सामने हो गए. फिर क्या था लाइट ही कट हो गया. जिससे पूरा wwe row हॉल अंधेरे में तब्दील हो गया. जैसे ही दोबारा लाइट आया तो वहां अंडर टेकर मिले. दोनो रेसलर काफी ज्यादा परेशान हो गए. क्योंकि तीनो काफी ज्यादा शक्तिशाली है. और तीनो WWE row में एकदूसरे के पक्के दुश्मन भी है.

चंद्रयान 2: इसरो से आई बहुत बड़ी खुशखबरी, बताया ऐसे होगा लैंडर विक्रम से संपर्क

चंद्रयान 2 मिशन इसरो के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण मिशन में से एक है. Chandrayaan-2 चंद्रमा के कुछ अनसुलझे राशियों पर पर्दा डालने के लिए चंद्रयान 2 लैंडर ‘विक्रम‘ चंद्रमा की सतह पर उतरा है. परंतु हो लैंडर विक्रम ने हार्ड लैंडिंग के जरिए चंद्रमा के दक्षिणी सतह पर लैंड किया है. चंद्रमा की सतह पर लैंड करने से पहले ही इसरो का संपर्क लैंडर विक्रम से टूट गया था. जिसके बाद फिर कभी भी संपर्क नहीं हो पाया है.

आखिर कैसे होगा लैंडर विक्रम से संपर्क



परंतु अभी यह खबर आ रही है कि लैंडर विक्रम से संपर्क होगा. तो चलिए जानते हैं कि लैंडर विक्रम से किस तरीके से संपर्क होगा, अगर यह संपर्क कामयाब नहीं हो पाता है तो फिर इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी आने वाली है. तो इसकी पूरी जानकारी मैं आपको आगे पोस्ट में देता हूं उससे पहले आप ऊपर या फिर नीचे दिए गए फॉलो बटन पर क्लिक करके फॉलो जरूर कर लें.

जैसा कि इसरो ने पहले भी कहा था कि चंद्रमा की सतह पर जैसे ही सूरज की रोशनी पड़ती है तो लैंडर का पता चलेगा. और यह काम चंद्रमा की सतह से ऊपर चंद्रमा का चक्कर लगा रहे ऑर्बिटर करेेगा. दरअसल चंद्रमा पर रोशनी पड़ने वाली है उस जगह जहां पर लेंडर विक्रम ने हार्ड लैंडिंग की है. चंद्रमा की सतह से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित और ऑर्बिटर इसकी कुछ फोटो लेगा और यह फोटो बहुत ही ज्यादा साफ और अध्ययन में मदद करने वाला होगा.

वैज्ञानिकों की मानें तो चंद्रमा की सतह पर रोशनी पड़ने वाली है. जहां पर लैंडर विक्रम ने हार्ड लैंडिंग की है. रोशनी पड़ते ही लैंडर विक्रम में लगे सौर पैनल एक्टिव हो जाएगी. जिसके बाद लैंडर विक्रम अगर संपर्क करने की दशा में होगा तब इसरो लैंडर विक्रम तक संपर्क करनेे की कोशिश करेगा. जिसमें यहां से कुछ प्रभावशाली तरंगे भेजेगा. और इन्हीं प्रभावशाली सिगनल्स की वजह से ऑर्बिटर और लैंडर विक्रम में संपर्क स्थापित हो जाएगा.

NASA और दुनिया भर की स्पेस एजेंसी इसरो का साथ दे रहे हैं

फिलहाल अभी लैंडर विक्रम से संपर्क नहीं हुई है. लेकिन मैं आपको बता दूं कि ऑर्बिटर ने चंद्रमा के कुछ इमेजेस लिए हैं. जिस पर अभी अध्ययन जारी है. जिसमें बहुत सारी तत्व जैसे अल्मुनियम, सिलिकॉन, लोहे जैसे तत्वों की जानकारी हो सकती है.

नासा ने कुछ दिन पहले कुछ इमेजेस लिए थे.  जिसमें नासा ने यह दावा किया था, कि यह सारे फोटोस इसरो द्वारा भेजे गए चंद्रयान 2 लैंडर विक्रम का हैं. परंतु चित्र काफी अंधेरे में लिया गया था. जिसकी वजह से बहुत सारी डिटेल्स उस फोटो में नहीं थी. काफी समय तक नासा ने उस फोटो पर अध्ययन करने के बाद यह कहा कि हम फिर अगले बार चंद्रमा से सतह पर भेजे गए chandrayaan-2 के लैंडर विक्रम के इमेजेस लेंगे.

NASA इस दिन लेगा चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम की तस्वीर


नासा ने chandrayaan-2 लैंडर विक्रम का फोटो अपने ऑर्बिटर द्वारा लिया था. यह ऑर्बिटर 17 अक्टूबर को उसी स्थान से होकर गुजरेगा. जहां पर chandrayaan-2 के लैंडर विक्रम है. खुशी की बात यह है कि उस समय चंद्रमा के उस सतह पर सूरज की रोशनी साफ-साफ पड़ेगी जिसके बाद लेंडर विक्रम की स्थिति तथा तथा हमें सही तरीके से मालूम हो पाएगा.

चंद्रयान 2 तथा चंद्रयान से जुड़ी आने वाली कोई भी खबर हम सबसे पहले आपको देंगे इसके लिए आप नीचे दिए गए फॉलो बटन पर क्लिक कर दीजिए.

Google search alert: गूगल ने जारी किया ये लिस्ट, अब सर्च नही कर सकते हैं ये शब्द

गूगल सर्च इंजन काफी प्रभावशाली तथा प्रचलित सर्च इंजन है. इस सर्च इंजन का मकसद सिर्फ इतना रहता है कि इसमें जो भी शब्द डाले जाए उसके बदले में उनको सही और सटीक उत्तर मिले. कभी-कभी हम कुछ सर्च करते हैं उसका रिजल्ट हमें गूगल के होम पेज पर ही मिल जाता है बजाय उस आर्टिकल के अंदर जाए बिना. गूगल सर्च इंजन अपने बेहतरीन टेक्नोलॉजी को यूज करके यूजर इंटरफेस को बड़ा ही कमाल का बनाता है.

वहीं अगर बात करें सबसे पुराने सर्च इंजन में से एक याहू की तो याहू आज भी सर्च करने वाले बॉक्स को पेट के साइड में छोटे रूप में डाला हुआ है. और सामने में बहुत सारे बिना जरूरी के चीजें, आर्टिकल तथा विज्ञापन पड़ा रहता है. इससे जीसस काफी ज्यादा परेशान होते हैं. वहीं अगर बात करें गूगल सर्च इंजन की तो गूगल सर्च इंजन पुरानी समय से लेकर आज तक अपने सर्च वाले बॉक्स को बहुत ही बड़ा करके दिखाता है.


और इस सर्च इंजन में गूगल असिस्टेंट के आ जाने के बाद गूगल का एक मोनोपोली क्रिएट हो चुका है. पहले गूगल के सर्च इंजन गूगल सर्च बॉक्स में शब्दों को टाइप करके खोजा जाता था आज भी खोजा जाता है परंतु गूगल असिस्टेंट के आ जाने के बाद बिना टाइप किए शब्दों को खोजने के बाद रिजल्ट इस तरीके से आता है कि मानो कोई इंसान उसका उत्तर दे रहा है इससे यूजर्स काफी प्रभावित तथा आसान महसूस करते हैं.

तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि गूगल सर्च इंजन में क्या सर्च नहीं करना चाहिए जिससे आपको कभी भी किसी भी तरीके का समस्या का सामना ना करना पड़े क्योंकि दोस्तों मैं आपको बता दूं कि आज बहुत तरह की बैंकिंग फ्रॉड हो या फिर मोबाइल के जरिए बैंकों का एग्जिट पा लेना हैकर के लिए काफी आसान हो चुका है इस चक्कर में कोई भी पड़ सकता है इसीलिए नीचे दिए गए हैं लाइनों को ध्यान से पढ़िए.

बैंकिंग के लिए गूगल में वेबसाइट ढूंढना: 

दोस्तों मैं आप सभी को एक बात बता दूं कि अगर कोई भी व्यक्ति गूगल में बैंक के ऑफिशियल वेबसाइट को सर्च करता है तो गूगल भी उस व्यक्ति को उसी बैंक के ऑफिसियल वेबसाइट को ही दिखाता है. परंतु मैं आप सभी को एक बात बता दूं कि गूगल में जो भी सर्च रिजल्ट आता है वह एक एसईओ का पार्ट होता है. यानी कि सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करके कोई भी अपनी वेबसाइट को ऊपर ला सकता है

अक्सर या कई बार देखा गया है कि ऑफिशियल वेबसाइट के नीचे या ऊपर ऐसे भी सर्च रिजल्ट पाए गए हैं जो कि पूरी तरह से फिशिंग वेबसाइट होती है. और वह सिर्फ आपके यूजरनेम या पासवर्ड या अन्य तरह के डाटा को कलेक्ट करने के लिए होते हैं. यह वेबसाइट दिखने में ऑफिशियल वेबसाइट की तरह ही लगता है परंतु या ऑफिशियल वेबसाइट नहीं होती है इसमें यूजर नेम और पासवर्ड डालने के बाद यह वेबसाइट बंद हो जाती है.

सोशल मीडिया वेबसाइट को सर्च इंजन में सर्च करना: 

गूगल में किसी भी तरह के सोशल मीडिया वेबसाइट को शेयर ना करें इससे भी आप किसी वेबसाइट का शिकार हो सकते हैं तथा अपने प्राइवेट डाटा को गंवा सकते हैं. किसी भी सोशल मीडिया वेबसाइट पर अगर आपका अकाउंट हो तो आप उस सोशल मीडिया की ऑफिशियल वेबसाइट पर ही जाकर साइन इन करें.

हुबहू बैंकिंग परिस्थिति के जैसा ही इसमें भी होता है. ये वेबसाइट असली वेबसाइट के तरह दिखता है. लेकिन इसके यूआरएल यानी वेबसाइट का जो यूआरएल होता है वह अलग होता है. लेकिन ओरिजिनल यूआरएल से काफी मिलता-जुलता है.

Google में किसी मोबाइल एप्प को सर्च करना: 

दोस्तों हूं गूगल में भूल से भी किसी भी मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके अपने मोबाइल में इंस्टॉल ना करें। अगर आपको किसी भी ऐप को डाउनलोड करना ही है तो आप गूगल प्ले स्टोर का उपयोग करें. अगर आप आईफोन यूज करते हैं तो आप ऐप स्टोर पर जाकर वहां से ऐप को डाउनलोड करके अपने मोबाइल में इनस्टॉल कर सकते हैं.

अगर आपने किसी भी तरह की गलत एप्लीकेशन को अपने मोबाइल में डाउनलोड कर लिया तो वह मोबाइल एप्लीकेशन आपके फोन पर पूरी तरह से नजर रखेगा आपका पूरा डाटा उस ऐप के जरिए हैकर्स तक जा सकता है.  मुंबई के एक व्यापारी के फोन में तीन मिस्ड कॉल आया और उसके बाद के बैंक अकाउंट से लगभग 3 करोड़ रुपए कट लिए गए.

आखिर यह कैसे संभव हो पाया. क्योंकि हैकर किसी न किसी माध्यम से उस व्यापारी के फोन में नजर रख रहे थे. जिसके बाद उन्हें मौका मिलते ही उसके मोबाइल डाटा से उसके बैंक अकाउंट से रुपए काट लिए गए.

Vivo next 3 5G: 64MP कैमरा वाला 5G मोबाइल हुआ लॉन्च, दाम और फीचर्स जानकर हो जाएंगे खुश

प्रतिदिन हम सभी कोई न कोई स्मार्टफोन को लेकर अपडेट सुनते हीं रहते है। परंतु आज जो मैं आपको जो स्मार्टफोन के बारे में बताने जा रहा हूँ वो काफी खाश है। तो चलिए जानते हैं कि इसका दाम और स्पेशल फीचर्स कौन कौन से हैं जो हमे इस फ़ोन के तरफ तेजी से आकर्षित होने के लिए तैयार करेगी।

हाइलाइट्स:
  • 4,500 mAh की पावरफुल बैटरी दी गई है.
  • 44w का फास्ट चार्जिंग दिया गया है.
  • दोनो 5G स्मार्टफोन की कीमत 5,000 cnyसे 6,000 cny के बीच ही है.
  • Funtouch OS 9.1 ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है ये 5G स्मार्टफोन.
  • इस 5G स्मार्टफोन में वाटरफॉल कैमरा दिया गया है.

यह स्मार्टफोन vivo ने 5G कनेक्टिविटी के साथ लॉन्च किया है. vivo ने दो 5G स्मार्टफोन को लॉन्च किया है. जिसका नाम vivo nex 3 तथा vivo nex 5G है। दोनो ही फ़ोन में स्नैपड्रैगन 855 दिया गया है. तथा इस फ़ोन की सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें 4,500 mAh की बड़ी बैटरी दी गई है। जोकि 44w ले फ़ास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करता है.

vivo nex 3 8gb रैम तथा 128gb के इंटरनल मेमोरी और 8gb रैम 256gb के इंटरनल मेमोरी के साथ दो वैरियंट में बहुत ही बेहतर अनुभव देने वाला स्मार्टफोन लॉन्च होम वाल है. जिसका कीमत क्रमशः cny 5,998 (50,600 रुपये) और cny 5,698 (57,700 रुपये) है.

वहीं बात करें अगर दूसरे फ़ोन vivo nex 5G की तो यह स्मार्टफोन नेक्स्ट लेवल का मोबाइल होम वाला है. इसका पहला वैरियंट 8gb रैम तथा 128gb इंटरनल मेमोरी वाला फ़ोन cny 7,000 है और 8gb रैम और 256gb वाला दूसरा वैरियंट cny 7,200 के मूल्यों पर मार्केट में उपलब्ध होने वाला है. यह दोनों स्मार्टफोन एकसाथ एशिया अन्य महादेशों के स्मार्टफोन मार्केट में लॉन्च होने वाला है.

Latest Mobile Radiation: जारी हुआ ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोनों का लिस्ट, जानिए इस लिस्ट में क्या आपका फोन भी है शामिल

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि मोबाइल के रेडिएशन के चलते हमें कितना नुकसान होता है. तथा हाल ही में ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोन का लिस्ट जारी हुआ है. क्या उस लिस्ट में कहीं आपका फोन तो शामिल नहीं है.

हाइलाइट्स:

  • Xiaomi MI A1 रेडिएशन उत्पन्न करने में है सबसे आगे.
  • रेडिएशन उत्पन्न करने में तीसरा स्थान पर one plus 6T.
  • दूसरे नंबर पर भी शाओमी का ही कुछ फोन ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने के मामले में लिस्ट में शामिल है.
  • गूगल से भी कुछ फोन रिलेशन उत्पन्न करने के मामले में लिस्ट में है शामिल.

दोस्तों हम अक्सर स्वस्थ रहने की कोशिश करते हैं तथा स्वस्थ भी रहते हैं. हम तमाम तरह की अनावश्यक चीजों से दूर रहते हैं ताकि हम शारीरिक रूप से तथा मानसिक रूप से स्वस्थ रहें और तनाव रहित काम को पूरा कर सकें. परंतु क्या आपको पता है कि स्मार्टफोन से हानिकारक वेब्स निकलता है जिसे कि रेडिएशन कहा जाता और यह रेडिएशन हमारे शरीर पर बुरे असर से प्रभावित करता है.

Latest mobile radiation updates


कौन कौन से स्मार्टफोन इस लिस्ट में है आगे

सबसे ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने के मामले में Xiaomi का Xiaomi MI A1 फोन सबसे ज्यादा आगे है. इस फोन की रेडिएशन वैल्यू 1.75 watts प्रति किलोग्राम है. तथा ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोनों की लिस्ट में दूसरा स्थान भी Xiaomi का ही है. जिसका नाम Xiaomi Mi Max3 है। यह फ़ोन 1.58 watts प्रति किलोग्राम रेडिएशन उत्पन्न करता है।

ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोनों की लिस्ट में तीसरा स्थान one plus है. अर्थात अधिक रेडिएशन उत्पन्न करने के मामले में तीसरा मोबाइल one plus 6T है. इस फोन की ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोनों की गिनती में आने से वनप्लस के फैंस को बुरा लगा होगा परंतु यह सही है और हमें सुरक्षित रहने की ओर सलाह देता है. 1.55 watts प्रति किलोग्राम रेडिएशन उत्पन्न करता है 1 प्लस 6T.

Apple i-phone के स्मार्टफोन रेडिएशन उत्पन्न करने के मामले में कितना है इसका स्थान

एलइसिन उत्पन्न करने के मामले में एप्पल के आईफोन भी क्यों पीछे रह जाते उनका भी लिस्ट में नाम आया है कि एप्पल के आईफोन भी रेडिएशन को ज्यादा उत्पन्न करते हैं।
Apple iPhone 7 1.38w/kg रेडिएशन उत्पन्न करता है वही apple का दूसरा स्मार्टफोन Apple iPhone 8 1.32w/kg रेडिएशन उत्पन्न करता है।

हमें यह बात भली-भांति पता है कि एप्पल के फोन सिक्योरिटी के मामले में बहुत ही ज्यादा आगे होते हैं. तथा हमें उच्च स्तर स्तर का सिक्योरिटी प्रदान करता है। सिक्योरिटी मतलब सुरक्षा होता है अगर पर्सनल सिक्योरिटी की बात करें तो रेडिएशन के चलते apple का यह फोन पीछे रह जाता है। हम सभी जानते हैं कि फोन हमारे आस-पास ही रहते हैं ज्यादातर जब हम घरों से बाहर होते हैं तब फोन हमारे जेब में होते हैं।.

और कौन कौन से स्मार्टफोन हैं जो ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करते हैं

गूगल का एक स्मार्टफोन Google Pixel 3 XL का रेडिएशन वैल्यू 1.39w/kg है तथा इस लिस्ट में गूगल का ही दूसरा फोन Google Pixel 3 का रेडिएशन वैल्यू 1.33w/kg है. मैंने अभी जितने भी फोन की लिस्ट आपको बताएं यह फोन बहुत ही ज्यादा लेटेस्ट हैं. तथा यह सभी फोन सिक्योरिटी के मामले में सबसे ज्यादा आगे हैं और यूजर्स को बेहतर अनुभव प्रदान करते हैं.

वहीं अगर हम बात करें Xiaomi का ही एक और स्मार्टफोन Xiaomi Redmi Note 5 का रेडिएशन वैल्यू 1.29w/kg हैं. रेडिएशन से हमें कितनी हानि होती है यह बात पूरी दुनिया में प्रचलित है किसी से भी नहीं छुपी है. तो भी यह स्मार्टफोन कंपनियां फोन को इतने ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाली बनाती है. तो इसके पीछे एक ही मकसद है कि फोन में कम्युनिकेशन की सुविधाएं अच्छी हो.

अपने फ़ोन का रेडिएशन वैल्यू कैसे पता करें

Statista ने ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले फोनों की लिस्ट जारी की थी, जिसकी जानकारी मैंने ऊपर ही आपको दे दिया है. “Specific Absorption Rate” के आधार पर ही किसी भी फोन का ज्यादा रेडिएशन तथा कम रेडिएशन उत्पन्न करने की मापदंड की जाती है जिसे संक्षिप्त में sar वैल्यू भी कहा जाता है. अगर 1.6 Watts प्रति किलोग्राम से ज्यादा  किसी भी फोन का सार वैल्यू ज्यादा हुआ तो वह फोन ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने वाले स्मार्टफोन के समूह में शामिल हो जाते हैं.

किसी भी स्मार्टफोन का sar वैल्यू पता करने के लिए अपने फोन के डायल पैड में *#07# डायल करिए. फिर आपको उस स्मार्टफोन की सार वैल्यू पता हो जाएगी जिसके बाद आप यह निर्णय ले पाएंगे कि इस फोन मैं ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न होता है या कम.

कौसे बचें स्मार्टफोन के रेडिएशन के प्रभाव से

स्मार्टफोन के रेडिएशन हमें धीरे-धीरे प्रभाव में लाता है जिसके बाद हम अधिक समय तक बीमार पड़ सकते हैं. जो कि काफी दुखदाई भी हो सकती है. इससे बचने के लिए हमेशा आप फोन को ज्यादा समय तक उपयोग ना करें. ज्यादा समय तक कॉलिंग करने के लिए अपने स्मार्टफोन को कान में सटाये रखने के बजाय हेडफोन लगाकर फोन को दूर रखकर ही कॉल करें.

क्या आपको पता है कि नॉर्मल स्मार्टफोन भी कभी-कभी ज्यादा रेडिएशन उत्पन्न करने लगता है जब हम उसका अधिक समय तक इस्तेमाल करते हैं. इसीलिए स्मार्ट फोन के ज्यादा इस्तेमाल से हमेशा बचे रहें और यह खास ध्यान जरूर दें कि फोन की चार्जिंग के समय पर फोन का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें. चार्जिंग करते समय फोन के इस्तेमाल के समय फोन का रेडिएशन अत्यधिक हो जाता है जिसके कारण फोन हो सकता है कि फट जाए या रेडिएशन के चलते आपको तनाव महसूस होने लगे या फिर सर में दर्द हो या फिर एलर्जी होने लगे.

OPPO नहीं बल्कि इस कंपनी की ब्रांडिंग होगी टीम इंडिया की जर्सी में

2019 का वर्ल्ड कप भारतीय क्रिकेट टीम को नहीं मिला। उसके बाद भारतीय क्रिकेट टीम में बहुत सारे बदलाव होते रहे हैं, जिसने कि महेंद्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज के दौरे में शामिल नहीं किया गया। उसके बाद भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कोच को भी बदल देने का फैसला लिया गया। क्योंकि अगले वर्ल्ड कप के मैचों के लिए या अगले आने वाले मैचों के लिए नए खिलाड़ियों को मौका मिले। इसीलिए बीसीसीआई ने कई तरह के बदलाव किए हैं।

कब से कब तक ब्रांडिंग होगी BYJU’s लर्निंग ऐप की?

कब से कब तक ब्रांडिंग होगी BYJU's लर्निंग ऐप की?
भारतीय क्रिकेट टीम: फोटो
2019 का वर्ल्ड कप एक चाइनीस मोबाइल कंपनी ओप्पो की ब्रांडिंग को भारतीय क्रिकेट टीम के जर्सी में शामिल करके खेला गया था। लेकिन अब इसमें बदलाव कर दिया गया है। 5 सितंबर 2019 से लेकर 31 मार्च 2022 तक एक लर्निंग और ट्यूटोरियल प्रदान करने वाली एप की ब्रांडिंग होगी जिसका नाम BYJU’s है। और यह कंपनी ऑनलाइन लर्निंग एप है।

OPPO ने BCCI को कितने रुपये दिए थे?

OPPO ने BCCI को कितने रुपये दिए थे?
BYJU’s की ब्रांडिंग: फोटो
भारतीय क्रिकेट टीम नए ब्रांडिंग वाली जर्सी को वेस्टइंडीज के खिलाफ 15 सितंबर को आने वाली मैच में पहली बार पहनेगी। 2017 में एक चाइनीस मोबाइल कंपनी विवो ने लगभग 768 करोड़ रुपए बीसीसीआई को दे रही थी।

सिर्फ 27 किलोग्राम का है यह मशीन, ISRO को भेजेगा चाँद से फ़ोटो

लेकिन वहीं दूसरी ओर चाइनीस कंपनी ओप्पो ने 1079 करोड़ रुपए देकर चाइनीस कंपनी वीवो को पीछे कर दिया। जिसके बाद 2017 में ओप्पो की कंपनी को भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी ने अपनी ब्रांडिंग के लिए सारे अधिकार मिल गए।

BYJU’s की ब्रांडिंग के लिए BCCI ने कब ऐलान किया?

BYJU's की ब्रांडिंग के लिए BCCI ने कब ऐलान किया?
BCCI: फोटो
परंतु गुरुवार 25 जुलाई को बीसीसीआई ने यह ऐलान किया कि एक ऑनलाइन लर्निंग एप जिसका नाम BYJU’s है, उनकी ब्रांडी अब भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी में होने वाली है बीसीसीआई या भारतीय क्रिकेट टीम को किसी भी तरीके का नुकसान नहीं है। क्योंकि पुरानी कंपनी की तरह नई कंपनी को भी उतनी ही राशि देनी होगी।

बीसीसीआई ने यह साफ कहा है कि नई कंपनी को ब्रांडिंग के लिए पुरानी कंपनी से 10 प्रतिशत अतिरिक्त देने होंगे। बीसीसीआई का एक ऐसा धारा है जिसमें वित्तीय लेनदेन को गोपनीय रखा जाता है। इसी वजह से कुछ वित्तीय लेनदेन को सार्वजनिक नहीं किया जाता है।

सिर्फ 27 किलोग्राम का है यह मशीन, ISRO को भेजेगा चाँद से फ़ोटो

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से chandrayaan-2 ने सफलतापूर्वक अपना पूरा काम कर लिया है। उसके साथ ही ही बाहुबली रॉकेट ने भी उड़ान भरी है। बाहुबली रॉकेट में एक रोवर है जिसका नाम है प्रज्ञान प्रज्ञान ही चांद से फोटो भेजेगा।

सिर्फ 27 किलोग्राम का है यह मशीन, ISRO को भेजेगा चाँद से फ़ोटो
प्रज्ञान रोवर

chandrayaan-2 के रोवर प्रज्ञान का जीवन काल

chandrayaan-2 के साथ में जो बाहुबली रॉकेट ने उड़ान भरी है। उसमें एक रोवर प्रज्ञान है। और उसके साथ में एक लैंडर और विक्रम है तथा उसके साथ में एक ऑर्बिटर है। प्रज्ञान चांद पर 500 मीटर तक घूम सकता है और वहां से कुछ फोटो को ISRO तक पहुंचाएगा जहां पर शोध होगा।


chandrayaan-2 के रोवर प्रज्ञान में कुल 6 पहिए लगे हुए हैं। तथा जिसका वजन 27 किलोग्राम का है। महत्वपूर्ण बात यह है कि यह रोवर 50 वाट की इलेक्ट्रिसिटी खुद जेनरेट कर सकती है। एक लूनर डे में 14 अर्थ डे होते हैं। और यह रोवर लगभग एक लूनर डे तक अपने आप को एक्टिव रख सकता है। मैं आपको बता दूं कि यह रोवर सौर ऊर्जा से चलती है।

सिर्फ 27 किलोग्राम का है यह मशीन, ISRO को भेजेगा चाँद से फ़ोटो
रोवर प्रज्ञान: नाम

chandrayaan-2 के रोवर प्रज्ञान की गति

chandrayaan-2 में रोवर की स्पीड प्रति सेकेंड में 1 सेंमी है। प्रज्ञान में कुल 3 रंगों के 6 पहिए लगाए गए हैं। चांद पर प्रज्ञान से बहुत सारे रोवर पहले ही उपस्थित हैं। वहां पर पहले से उपस्थित रोवर को चीन अमेरिका रूस जैसे विकसित देशों ने भेजा था। और यह रोवर वहां से तत्वों और बाकी चीजों को शोध के लिए पृथ्वी पर भेजता है ठीक इसी तरीके से भारत देश के एक रोवर प्रज्ञान जो कि चंद्रयान 2 के साथ गया है।

वह भी वहां से तत्वों को और बहुत सारे अज्ञात तत्वों को भी अपने शोध के लिए ISRO तक पहुंचाएगा।

सिर्फ 27 किलोग्राम का है यह मशीन, ISRO को भेजेगा चाँद से फ़ोटो
रोवर प्रज्ञान

chandrayaan-2 का रोवर चाँद पर करेगा बमबारी

जब भारतीय रोवर प्रज्ञान चांद पर अपना काम शुरू करेगा तब उसने एक चीज शामिल होगा कि शोध करने के लिए या किसी भी तरीके का फोटो लेने के लिए यह रोवर वहां पर अल्फा पार्टिकल्स का बमबारी करेगा। जिसके बाद उसे रोवर में लगे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से बाकी चीजों पर नजर रखते हुए फोटो खींचेगा। और साथ ही कुछ सैंपल्स भी लेगा। जिसके बाद फोटो को इसरो तक ग्रोवर प्रज्ञान द्वारा पहुंचा दिया जाएगा। फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

सिर्फ 450 करोड़ के बजट में मंगल पहुंचा ISRO, NASA को लगे 6000 करोड़

क्या होता अगर भारत ने पूरी दुनिया को शून्य नहीं दिया होता। तो पूरी दुनिया की गणना प्रणाली कैसे काम करती। कैसे चलता पूरा गणित की दुनिया। विज्ञान हो या कोई भी क्षेत्र भारत का दबदबा हर क्षेत्र में बना हुआ है। भारत देश में हर साल इतनी इंजीनियर क्वालिफाइड होकर निकलते हैं, जितना कि अमेरिका और चाइना दोनों देश मिलाकर भी नहीं दे सकते हैं।

मिशन मंगल का बजट

ISRO, NASA
ISRO, NASA

भारत के मंगल मिशन को ऑर्बिट में पहुंचने के लिए सिर्फ 450 करोड़ रुपए लगे। मैं आपको बताता हूं कि 450 करोड़ रुपए का बजट तो भारतीय फिल्म रोबोट 2.0 से 50 करोड़ कम है। यानी कि फिल्म रोबोट 2.0 का पूरा बजट 500 करोड़ है। जबकि ISRO ने अपना पूरा सेटअप तैयार करके मंगल तक पहुंचने में सिर्फ 450 करोड़ का बजट ही लिया है।

वही यही काम अमेरिका ने 6000 करोड़ में किया था। यानी कि मिशन मंगल ने सिर्फ 450 करोड़ के बजट में अपना पूरा काम किया। लेकिन यही काम NASA ने 6000 करोड़ के बजट में अपने मंगल मिशन को कामयाब किया। मैं आपको बता दूं कि 6000 करोड़ के बजट के सामने ISRO का बजट 450 करोड़ है, जो कि बहुत ही कम है।

बॉलीवुड में ISRO 

ISRO, NASA
ISRO, NASA

भारत के इसी प्रशंसा करने वाले काम को बॉलीवुड ने फिल्म के माध्यम से लोगों को बताने की कोशिश की है। अक्षय कुमार की फिल्म मंगल मिशन 15 अगस्त को रिलीज होने जा रही है। जिसमें ISRO के मंगल मिशन के बारे में बताया है, और यह भी बताया है कि ISRO के वैज्ञानिक कैसे कम बजट में बड़े बड़े कामों को अंजाम दे जाते हैं। जो की बहुत ही असंभव सा लगता है।

मिशन मंगल की सफलता से पूरी दुनिया हैरान है कि इतने कम बजट में कोई मंगल पर कैसे पहुंच सकता है। क्योंकि हॉलीवुड या बॉलीवुड में देखे तो इससे 5 या 6 गुना तो फिल्म का बजट होता है। इसरो की इसी सफलता को दिखाने के लिए भारतीय अभिनेता अक्षय कुमार राकेश धवन के किरदार को निभाएंगे।

अक्षय कुमार नजर आएंगे मिशन मंगल में

ISRO, NASA
ISRO: अक्षय कुमार

बॉलीवुड में ऐसी फिल्में बहुत ही इन दिनों के बाद रिलीज होती है। लेकिन यह फिल्म 15 अगस्त 2019 को रिलीज होने जा रही है। आप सभी जाकर यह फ़िल्म देख सकते हैं। और जान रखते हैं कि हमारे देश के ISRO ने किस तरीके से काम किया है। और कैसे सफलता पाई है।
यह भी पढें:

Tamilrockers 2019 – Movies के बारे में जानें, Latest Tamil, Malayalam, Telugu, Hindi Dubbed Movies

tamilrockers 2019: की वेबसाइट से किसी भी तरीके का Latest Movie को प्राप्त किया जाता है। लेकिन यह वेबसाइट अभी ऑनलाइन नहीं है इस वेबसाइट के बहुत सारे सब्डोमेन भी थे लेकिन सभी बंद पड़े हुए हैं। tamilrockers बहुत तरह की फिल्म डाउनलोड की जाती थी। तमिल रॉकर्स की वेबसाइट पर हर तरह की मूवी कैटेगरी में बटे हुए हैं।

Tamilrockers 2019 Latest Tamil Hindi Dubbed Movies

Tamilrockers 2019 Latest Tamil Hindi Dubbed Movies
Tamil Rockers : श्रद्धा कपूर

tamilrockers पर लेटेस्ट मूवी को प्राप्त करने के लिए सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है, जिसमें कि हर तरह के मूवी क्वालिटी मिलती है. Tamil Rockers की वेबसाइट पूरी तरह से बंद हो चुकी है। क्योंकि इस वेबसाइट पर बिना किसी अनुमति के सभी तरह के मूवी को ऑनलाइन कर दिया जाता था यानी कि तमिल रॉकर्स की वेबसाइट से कोई भी व्यक्ति मूवी को Watch online पर क्लिक करके मूवी को ऑनलाइन देख सकता था।

यह वेबसाइट चेन्नई में स्थित 3 व्यक्तियों के द्वारा चलाया जाता था। लेकिन फिलहाल यह वेबसाइट tamilrockers बंद पड़ा हुआ है, क्योंकि यह वेबसाइट कई तरह के कानून व्यवस्थाओं का उल्लंघन करता है।

tamilrockers की प्रसिद्धि इतनी बढ़ी कि लोग किसी भी मूवी का नाम लिखकर सर्च नहीं करते थे। बल्कि लोग सर्च इंजन में जाकर Tamil Rockers लिखकर इस वेबसाइट पर आते हैं, परंतु तमिल रॉकर्स की ऑफिशियल वेबसाइट नहीं खुल पाती है जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी होती है। यह मूवी डाउनलोडिंग वेबसाइट थी जो की पूरी तरह से पायरेसी को ऑनलाइन करती थी यानी कि 1 शब्दों में अगर कहे तो Tamil Rockers की वेबसाइट कानून व्यवस्थाओं का जोरदार उल्लंघन करता है.

Tamilrockers 2019 – Latest Malyalam Hindi Dubbed Movies

Tamilrockers 2019 - Latest Malyalam Hindi Dubbed Movies
Tamil Rockers : movie

tamilrockers की ऑफिशियल वेबसाइट में लगभग सभी तरह के तमिल फिल्म को हिंदी में डब वाली मूवी को ऑनलाइन कर दी जाती थी। आपको तो पता ही है कि एक फिल्म बनाने में कितने रुपए और कितनी मेहनत लगती है लेकिन Tamil Rockers की वेबसाइट ने इस तरह की वेबसाइट बनाकर लगभग बहुत तरह की मूवी को ऑनलाइन कर दिया था।

जिसकी वजह से फिल्म मेकर्स को बहुत सारी तकलीफ हुई और यह तकलीफ है होना लाजिमी भी है। क्योंकि tamilrockers ने बिना किसी मेहनत किए हुए एक वेबसाइट बना दिया और उसने अपना कॉन्टेंट नहीं डालकर फिल्म मेकर्स की latest tamil Hindi Dubbed hindi, या Latest  telugu Hindi Dubbed movie तथा South Movies in Hindi Dubbed तथा और भी कई तरह की सभी मूवी को ऑनलाइन कर दिया गया है।

tamilrockers की वेबसाइट पर लोग जाकर बिना किसी परेशानी के फिल्म को डाउनलोड कर लेते थे। साथ में मैं आपको यह भी बता दूं कि इस वेबसाइट का सर्च वॉल्यूम इतना ज्यादा है कि किसी भी सर्च इंजन में से तमिल लिखते हैं पूरा वर्ड्स आ जाता था। यानी कि tamilrockers नीचे लिखा हुआ आ जाता था। और अभी भी आ जाता है जिस पर लोग क्लिक करके सीधे सर्च रिजल्ट में आ जाते हैं।

Tamilrockers 2019 Latest Telugu Hindi Dubbed Movies

Tamilrockers 2019 Latest Telugu Hindi Dubbed Movies
Tamil Rockers : तमन्ना

tamilrockers सर्च करने के बाद जो सर्च रिजल्ट आता है उसमें Tamil Rockers की ऑफिशियल वेबसाइट नहीं मिलती है क्योंकि मैंने आपको पहले ही बताया है कि यह पहले से ही बंद हो चुकी है।

बहुत सारे लोगों को यह भी देखा गया है कि लोग किसी भी फिल्म का नाम लिख देते थे और उसके बाद तमिल रॉकर्स लिखकर सर्च इंजन में सर्च करते थे। जिसके बाद से ही सर्च रिजल्ट आना शुरू हो जाती थी जैसे कि Latest Malayalam Hindi Dubbed movies tamilrockers लिखकर सर्च करते हैं। कुछ टाइम पहले यह बहुत ही ट्रस्टेड वेबसाइट थी जहां से मूवी को डाउनलोड किया जा सकता है।

tamilrockers की तरह अभी भी बहुत सारी वेबसाइट है जहां पर आपको किसी भी तरीके का Latest tamil, telugu movies करने के लिए ऑप्शन मिल जाता है यहां तक कि वर्ष के हिसाब से भी मूवी को खोज सकते थे, यानी कि जिस वर्ष वह मूवी रिलीज हुई है उस वर्ष पर क्लिक करके आप पूरी लिस्ट देख सकते हैं कि मूवी किस वर्ष में रिलीज हुई है। लोगों को यह भी देखा गया है कि मूवी डाउनलोड करने के लिए किसी भी वेबसाइट पर सर्च करने के लिए चले जाते हैं।

Tamilrockers hd Latest South Indian Hindi Dubbed Movies

Tamilrockers hd Latest South Indian Hindi Dubbed Movies
Tamil Rockers : प्रभाष

परंतु उन्हें पता नहीं है कि इस तरह की वेबसाइट से आपके किसी भी तरह के डाटा को चुराया जा सकता है। चाहे आप उस वेबसाइट को अपने फोन से सर्व कर रहे हो या अपने लैपटॉप या पीसी से सर्व कर रहे हो।

मैं आपको एक बात और बता दूं कि tamilrockers नाम की तरह कई वेबसाइट इंटरनेट पर मौजूद है आप सर्च इंजन में यह सर्च करके आते हैं कि मुझे Tamil Rockers की वेबसाइट पर जाना है परंतु यह वेबसाइट तो पहले से ही बंद है। लेकिन जब आप Tamil Rockers लिखकर सर्च इंजन में सर्च करके सर्च रिजल्ट पर आते हैं तब आप किसी भी वेबसाइट पर चले जाते हैं जो कि ट्रस्टेड नहीं है।

और उस पर सर्च इंजन भी ट्रस्ट नहीं करता है लेकिन सर्च इंजन के एल्गोरिथ्म को भेद कर यह सभी वेबसाइट ऊपर आ जाती है। जिस पर आप क्लिक तो कर देते हैं जिसके बाद वेबसाइट खुल जाती है।

यह भी पढ़ें:

tamilrockers नाम के कई तरह की वेबसाइट है जैसा कि मैंने आपको अभी बताया उस पर आप सर्च करके जैसे ही आते हैं तो आप के फोन से किसी भी तरीके की डाटा चोरी हो सकती है, जैसे कि आपका पेन कार्ड डाटा आधार कार्ड डाटा बैंक डाटा या किसी भी तरीके का डाटा हो सकता है।

Tamilrockers malayalam Hindi Dubbed Movies

Tamilrockers malayalam Hindi Dubbed Movies
Tamil Rockers : अक्षय

जो कि आप का पर्सनल इनफॉरमेशन भी हो सकता है वह चुटकियों बजाते ही उस वेबसाइट पर चली जाती है। जिसके बाद उस इंफॉर्मेशन के जरिए से आपको हो सकता है कि ब्लैकमेल करें या नहीं तो आपका बैंक बैलेंस ऑटोमेटिक काट लेते हैं।

मैं आपको बता दूं कि हर वर्ष करोड़ों रुपए इसी तरह के धोखाधड़ी से गायब हो जाते हैं। जिसमें लोग मूवी डाउनलोड करने के लिए तो आते हैं लेकिन अपना पर्सनल इनफॉरमेशन गवां बैठते हैं। इसीलिए मैं आपको सावधान करता हूं कि tamilrockers के जैसे वेबसाइट पर ना जाएं या किसी भी अन्य तरह के वेबसाइट पर मूवी को डाउनलोड करने के लिए नहीं जाए।

पूरा जैन विन वे में आपको फिल्म को देखना है तो आप हॉल में यानी कि सिनेमा हॉल में चले जाएं टिकट बुक कर ले या नेटफ्लिक्स या अमेजॉन प्राइम पर जाकर मूवी को ऑनलाइन आप देख सकते हैं वहां पर आपको किसी भी तरीके का दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

जब कोई भी मूवी डाउनलोडिंग वेबसाइट बहुत ही ज्यादा पॉपुलर होने लगती है. तब उस वेबसाइट पर फिल्म ऑनर यानी की फिल्म मेकर उस वेबसाइट पर शिकायत दर्ज कर देते हैं. और साथ ही साथ उस सर्च इंजन को भी सूचना देते हैं कि यह हमारा कॉन्टेंट है ना कि इस वेबसाइट का कांटेक्ट है. जैसा कि TamilRockers करता है तो तमिल रॉकर्स की तरह और भी वेबसाइट है तो उन्हें इन शिकायत से मिले सजा को भुगतना पड़ता है.

इस तरह की मूवी डाउनलोडिंग वेबसाइट के पास एक ही रास्ता रहता है कि वह अपना डोमेन नेम बदल दें. डोमेन नेम बदलने से यह होता है कि गूगल या कोई भी सर्च इंजन किसी खास डोमेन को ब्लॉक कर सकता है. तो इसी चीज का फायदा उठाकर इस तरह की मूवी डाउनलोडिंग वेबसाइट्स क्या करती है कि उस वेबसाइट को नए डोमेन के साथ रीडायरेक्ट कर देती है. जो कि उसका डोमेन उसी पुराने डोमेन से मिलता-जुलता होता है

TamilRockers New Links for  Latest Tamil, Malayalam, Telugu Hindi Dubbded Movies

ऊपर दिए गए लिंक पर वह वेबसाइट रीडायरेक्ट हो जाता है जो कि ब्लॉक कर दिया गया है किसी भी सर्च इंजन के द्वारा. और इस तरह की हजारों वेबसाइट्स हैं इंटरनेट पर जो कि गलत तरीके से मूवी को डाउनलोड करने के लिए प्रोत्साहित करती है जिस पर कि आपको नहीं जाना है. आपने यह कई बार यह भी देखा होगा कि मूवी डाउनलोड करते समय आप किसी ना किसी अनजान व्यवसायिक पर रीडायरेक्ट हो जाते हैं. जो कि आपके लिए और आपके फोन या कंप्यूटर के लिए सही नहीं है.
TamilRockers New Links for Download Latest Tamil, Malayalam, Telugu Hindi Dubbded Movies
Tamil Rockers : वरुण धवन
Tamilrocks की वेबसाइट भी इसी तरह की गतिविधियों को अंजाम देता था. परंतु मैं आपको बता दूं कि इंटरनेट पर जो भी कंटेंट पड़ा हुआ है वह सरकार के नियमों के अधीन है. अतः कोई भी व्यक्ति किसी के भी कांटेक्ट को चुराकर कहीं पर भी डाल नहीं सकता है. इसके लिए उसे सजा भी हो सकती है क्योंकि Tamil Rockers की वेबसाइट सरकारी नियमों का उल्लंघन करता था बिना किसी सरकारी नियमों के डर के. इसीलिए यह वेबसाइट बंद है. फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

Note:- sciencezudate.com किसी भी तरह के मूवी देखने या डाउनलोड करने के लिए किसी भी ऐसे source का प्रचार या प्रोत्साहन नहीं करती है। आप सभी को भी यह सलाह दी जाती है कि आप किसी भी कानून के उल्लंघन करने वाली वेबसाइट पर नहीं जाए। 

साहो नहीं होगी 15 अगस्त को रिलीज, इस दिन हो सकती है रिलीज

पहले या दिनांक फिक्स कर दिया गया था, कि साहो फिल्म 15 अगस्त को ही रिलीज होगी। लेकिन सूत्रों की मानें तो फिल्म साहो 15 अगस्त को रिलीज नहीं होगी। इसकी रिलीज डेट आगे बढ़ चुकी है। अक्षय कुमार की फिल्म मंगल मिशन इस फिल्म को टक्कर दे सकती थी। और जॉन अब्राहम की फिल्म बाटला हाउस भी साहो को जोरदार टक्कर दे सकती थी।

साहो के रिलीज डेट को आगे बढ़ाने के पीछे मुख्य कारण

साहो के रिलीज डेट को आगे बढ़ाने के पीछे मुख्य कारण
प्रभाष: फ़िल्म साहो

फिल्म मंगल मिशन और बाटला हाउस के प्रभाव से बचने के लिए साहू फिल्म मेकर्स ने यह निर्णय लिया है कि फिल्म साहो को 15 अगस्त को रिलीज नहीं किया जाए। वहीं सूत्रों की मानें तो यह फिल्म 30 अगस्त को रिलीज हो सकती है। इसमें यह भी संशय बरकरार है कि फिल्म साहो 30 अगस्त को भी रिलीज होगी या नहीं।

30 अगस्त को श्रद्धा कपूर की फिल्म छिछोरे रिलीज होने जा रही है। और एक्ट्रेस यह कभी नहीं चाहेगी कि उनकी दो फिल्में एक साथ रिलीज हो। यह भी हो सकता है कि 30 अगस्त को फिल्म साहो रिलीज ना हो या 30 अगस्त को फिल्म छिछोरे रिलीज नहीं हो।

साहो के कुछ एक्शन सीन अभी बाकी है?

अक्षय कुमार : मंगलयान
अक्षय कुमार : फ़िल्म मंगलयान 

बताया जा रहा है कि फिल्म साहो में बहुत सारे एक्शन सीन है, जिसके लिए वीएफएक्स बहुत ही ज्यादा मात्रा में उपयोग किया गया है। और यह भी कहा जा रहा है कि फिल्म साहो के लिए कुछ वीएफएक्स सीन जोकि एक्शन सीन है। वह अभी बाकी है, इस नजरिए से भी फिल्म साहो की रिलीज डेट आगे बढ़ सकती है।

बॉलीवुड में प्रभास का पैर काफी जम चुका है। जिसके लिए उनकी फिल्म साहो को काफी ज्यादा सपोर्ट मिलेगा। लेकिन बॉलीवुड में अक्षय कुमार और जॉन अब्राहम भी कम नहीं है। अक्षय कुमार की फिल्म मंगल मिशन बहुत ही आकर्षक है और जॉन अब्राहम की फिल्म बाटला हाउस भी धमाल मचा सकती है।
यह भी पढ़ सकते हैं:

श्रद्धा कपूर की दोनों फिल्में एक साथ रिलीज हो सकती है?

श्रद्धा कपूर की दोनों फिल्में एक साथ रिलीज हो सकती है?
श्रद्धा कपूर: फ़िल्म साहो

फिल्म साहू की रिलीज डेट आगे बढ़ने का मुख्य कारण यह है कि श्रद्धा कपूर की दो फिल्में एक साथ रिलीज नहीं हो सकती है। जिसके लिए श्रद्धा कपूर की फिल्म छिछोरे रिलीज हो या साहो रिलीज हो। और एक मुख्य कारण मैंने यह बताया कि इस फिल्म साहो फिल्म की कई वीएफएक्स एक्शन सीन अभी बाकी है।  फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

धोनी नहीं लेंगे अभी सन्यास, कारण जानकर खुश हो जाएंगे आप

भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने यह कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम में महेंद्र सिंह धोनी का काफी जरूरत है। उन्हें इंडियन टीम बने रहना चाहिए। वजह ये है कि ऋषव पंत जैसे युवा खिलाड़ी को तैयार करें। कोहली और शास्त्री का यह कहना है की उन्हें कम से कम 2020 तक जरूर टीम में बने रहना चाहिए।

महेंद्र सिंह पर सन्यास का दबाव

महेंद्र सिंह पर सन्यास का दबाव
महेंद्र सिंह धोनी और रविशास्त्री

इंग्लैंड के साथ खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी को चोट लग चुकी थी जिसके कारण उनको यह देखा गया कि वो परेशान हैं। सेमीफाइनल में भारतीय क्रिकेट टीम को मिली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी को सबसे ज्यादा निशाना बनाया जा रहा है। जिसके कारण सोशल मीडिया पर महेंद्र सिंह धोनी पर जमकर यह आरोप लगा रहे हैं कि महेंद्र सिंह धोनी ने पूरे विश्व कप के मैचों में अपना प्रदर्शन धीमा रखा है।

महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट पर क्या कह सकता है बीसीसीआई?

महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट पर क्या कह सकता है बीसीसीआई?
 रविशास्त्री और महेंद्र सिंह धोनी

विराट कोहली और रवि शास्त्री का मानें तो महेंद्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज के दौरे से इसलिए नहीं जाएंगे कि उन्हें उंगली में चोट लगी है। और यह खबर बीसीसीआई के सूत्रों से आ रही है कि महेंद्र सिंह धोनी को इंग्लैंड के खिलाफ खेल रहे ग्रुप मैच में लगी थी।
यह भी पढ़ें:

महेंद्र सिंह धोनी मैच को फिनिश करने को लेकर जाने जाते हैं। लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ खेल रहे भारतीय क्रिकेट टीम में महेंद्र सिंह धोनी रन आउट हो गए जिसके बाद न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम से जीतने का उम्मीद नहीं दिखने लगा।

धोनी रिटायरमेंट नहीं खेल सकते है 2020 तक

धोनी रिटायरमेंट नहीं खेल सकते है 2020 तक
धोनी और शास्त्री

खबरों की मानें तो महेंद्र सिंह धोनी पहले हीं यह कह चुके हैं कि अगले चेन्नई सुपरकिंग्स से मैच खेलेंगे। इससे साफ होता है कि महेंद्र सिंह धोनी अगर क्रिकेट से अलविदा कहते हैं तो सभी फार्मेट से अलविदा कहेंगे न कि सिर्फ किसी खास टीम से बाहर होंगे। वैसे भी अभी महेंद्र सिंह धोनी और बीसीसीआई के प्रमुख बयान आना अभी बाकी है। जिसमे यह कहा जायेगा कि धोनी खेलेंगे या रेस्ट में रहेंगे या रिटायरमेंट लेंगे।

सचिन तेंदुलकर ने विराट कोहली और धोनी को फेवरेट वर्ल्ड कप टीम से किया बाहर

महेंद्र सिंह धोनी लगातार क्रिकेट फैंस के निशाने पर बने हुए हैं। महेंद्र सिंह धोनी को पिछले कई दिनों से काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल बात यह है कि महेंद्र सिंह धोनी ने विश्व कप में बहुत ही धीरे खेलने के आरोप में घिरे हुए हैं, जिसका परिणाम यह है कि महेंद्र सिंह धोनी को लगातार कई तरह की बातें सुनने को मिल रही है।

सचिन तेंदुलकर के फेवरेट खिलाड़ी

सचिन तेंदुलकर ने विराट कोहली और धोनी को फेवरेट वर्ल्ड कप टीम से किया बाहर
सचिन तेंदुलकर

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 का 12 सीजन खत्म हो चुका है। जिसमें इंग्लैंड की क्रिकेट टीम विजेता बनी है। आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के समाप्त होते ही आईसीसी में अपने फेवरेट टीम का ऐलान कर दिया है जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने भी अपना फेवरेट क्रिकेट टीम को चुन लिया है। जिसमें यह बताया जा रहा है कि महेंद्र सिंह धोनी और भारतीय कप्तान विराट कोहली को अपने फेवरेट टीम की लिस्ट में जगह नहीं दी है।

मजेदार बात तो यह है कि महेंद्र सिंह के कप्तानी में ही क्रिकेट वर्ल्ड कप 2011 का मैच भारत ने जीता था जिसके वजह से सचिन तेंदुलकर का सपना पूरा हुआ था। और यह कहा जा रहा है कि फेवरेट लिस्ट में महेंद्र सिंह धोनी ही नहीं है। पिछले कई दिनों से सचिन तेंदुलकर ने महेंद्र सिंह धोनी के लिए भी यह बात कह दी थी कि उन्हें थोड़ा और तेज खेलना चाहिए था।

कौन है सचिन के फेवरेट कप्तान?

सचिन तेंदुलकर ने विराट कोहली और धोनी को फेवरेट वर्ल्ड कप टीम से किया बाहर
विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह

सचिन तेंदुलकर ने अपना फेवरेट कप्तान केन विलियमसन को बनाया है। जो कि न्यूजीलैंड के खिलाड़ी है और यह भी बात सामने आ रही है कि सचिन तेंदुलकर ने 5 भारतीय खिलाड़ियों को भी अपने फेवरेट लिस्ट में शामिल किया है। जिसमें रोहित शर्मा विराट कोहली रविंद्र जडेजा जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या को भी शामिल किया है।

आप यह भी पढ़ सकते है:

महेंद्र सिंह धोनी ने क्यों कुछ नहीं कहा अभी तक?

सचिन तेंदुलकर ने विराट कोहली और धोनी को फेवरेट वर्ल्ड कप टीम से किया बाहर
महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी को अपने लिस्ट में शामिल नहीं करना और इसके पीछे का कारण सबको पता है कि महेंद्र सिंह धोनी ने पूरे विश्व कप में अपना प्रदर्शन बहुत ही धीमा रखा है। जिसके वजह से सोशल मीडिया साइट्स पर महेंद्र सिंह धोनी के कयास लगाए जा रहे हैं। और यहां तक भी बात आई है कि कई खिलाड़ियों ने भी महेंद्र सिंह धोनी को अपने घेरे में लिया है महेंद्र सिंह धोनी से अक्सर यह कहा जा रहा है कि उनकी उम्र ही उन पर भारी पड़ गई है।

महेंद्र सिंह धोनी बहुत ही अच्छे और समझदार खिलाड़ी हैं। उन्हें जिस दिन यह लगने लगेगा कि महेंद्र सिंह धोनी में वह जोश नहीं है। ठीक उसी दिन पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी संन्यास ले लेंगे। किसी को कुछ कहेंगे भी नहीं महेंद्र सिंह धोनी का स्वभाव काफी शांत है उनका शांत स्वभाव ही उन्हें अपने जीवन में आने वाली कठिनाइयों का सामना करने में मदद करती है। फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

धोनी हो सकते हैं टीम इंडिया से बाहर, चयनकर्ताओं ने कह दी ये बात

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के प्रदर्शन की लगातार शिकायत हो रही है। सोशल मीडिया साइट्स पर धोनी के खिलाफ कई तरह के पोस्ट डाले जा रहे हैं, जिसमें यह कहा जा रहा है कि महेंद्र सिंह धोनी को क्रिकेट से संन्यास ले लेनी चाहिए।

कौन कर रहा है धोनी को सन्यास लेने में मजबूर?

Retirement of mahendra singh Dhoni
महेंद्र सिंह धोनी की रिटायरमेंट की प्रतीकात्मक छवि

न्यूजीलैंड से हारने के बाद भारत में महेंद्र सिंह धोनी को लेकर क्रिकेट प्रशंसक काफी गुस्से में नजर आ रहे हैं। जिसके चलते क्रिकेट प्रशंसक फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम पर धोनी के संन्यास लेने की बातें कह रहे हैं। कई विशेषज्ञ भी यह कहने लगे हैं कि महेंद्र सिंह धोनी को क्रिकेट से संन्यास ले लेना चाहिए।

टाइम्स ऑफ इंडिया जो कि एक अंग्रेजी अखबार है उन्होंने बीसीसीआई के माध्यम से यह खुलासा किया है, कि महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी पूरे विश्व कप मैच में बहुत ही धीमी रही है। एक प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने महेंद्र सिंह धोनी को इशारों में यह बयान दिया है, कि उन्हें क्रिकेट से संन्यास ले लेना चाहिए उन्हें कहने की जरूरत नहीं होनी चाहिए ताकि नए खिलाड़ियों को भी मौका मिल सके।

क्या है धोनी सन्यास लेने के लिए मजबूर करने वाले चयनकर्ताओं के पीछे की कहानी?

Retirement of mahendra singh Dhoni
महेंद्र सिंह धोनी

ऋषभ पंत जैसे खिलाड़ियों को भी बेहतर प्रदर्शन करने का मौका मिले इसके लिए बीसीसीआई तत्पर्य है। पूरे विश्व कप मैच में यह देखा गया कि महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी बहुत ही शांत रही है। महेंद्र सिंह धोनी के छठे या सातवें नंबर पर मैदान में आने के बाद भी उन्हें रन बनाने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, जो कि भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत ही ज्यादा नुकसान साबित हो सकता है।

आप हमसे जुड़े रहने के लिये फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

क्या सच मे 2020 के टी-20 नहीं रहेंगे धोनी?

धोनी के धीमी बल्लेबाजी के कारण ही महेंद्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज के दौरे से बाहर किया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक यह भी कहा गया है कि भारतीय क्रिकेट टीम में 2020 के लिए T-20 में महेंद्र सिंह धोनी के शामिल होने की संभावना काफी कम है। क्योंकि चयनकर्ता कुछ और ही सोच रहे हैं।

यह भी पढ़ सकते हैं:

महेंद्र सिंह धोनी की रिटायरमेंट
महेंद्र सिंह धोनी

मैं आपको बता दूं कि महेंद्र सिंह धोनी ने जो भारतीय क्रिकेट को दिया है वह शब्दों में बयां नहीं हो सकता है। इसीलिए मैं आलोचकों से हाथ जोड़कर विनती करता हूं कि उन्हें किसी भी तरीके से क्रिकेट से संन्यास लेने के लिए मजबूर नहीं किया जाए। वह काफी समझदार खिलाड़ी है, समय आने पर वह खुद ही क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।

रोहित शर्मा बन सकते है कप्तान, विराट कोहली ने कह दी ये बात

विश्व कप 2019 में न्यूज़ीलैंड से भारत की हार होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम में काफी हलचल मची हुई है। न्यूजीलैंड से हार की वजह महेंद्र सिंह धोनी को बताया जा रहा है। महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट को लेकर सोशल मीडिया पर काफी लंबे समय से ट्रोलिंग चल रही है। हालांकि यह मामला काफी ठंडा दिखने लगा है।

हाइलाइट्स:
  • विराट कोहली के जगह पर आ सकते हैं रोहित शर्मा।
  • भारतीय क्रिकेट टीम में हो सकते हैं बड़े बदलाव
  • वन-डे और टी 20 के स्थायी कप्तान बन सकते हैं रोहित शर्मा।
  • टेस्ट मैच के कप्तान बने रह सकते है विराट कोहली।

विराट कोहली के जगह पर आ सकते हैं रोहित शर्मा

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के एक अधिकारी के मुताबिक भारतीय क्रिकेट टीम में बड़े बदलाव हो सकते हैं। रोहित शर्मा के काफी अच्छे प्रदर्शन के चलते रोहित शर्मा को भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तानी संभाल सकते हैं। अगले वर्ष ऑस्ट्रेलिया के साथ टी-20 वर्ल्ड कप है। और मैं आपको यह भी बता दूं कि वर्ष 2023 में भारत मे वन-डे विश्व कप खेला जाएगा।

अगले वर्ष ऑस्ट्रेलिया के साथ टी 20 वर्ल्ड कप और 2023 में भारत में हीं वन-डे विश्व कप खेले जाने को ध्यान में रखकर विराट कोहली के जगह पर रोहित शर्मा को भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी सौंपी जा सकती है।

क्या टीम इंडिया में हो सकते हैं बड़े बदलाव?

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तानी में तो बदलाव हो ही सकते हैं। परंतु आगे की मैचों को ध्यान में रखते हुए, और भी कई तरह के बदलाव हो सकते हैं जिससे कि भारतीय क्रिकेट टीम को फायदा हो। जैसा कि मैंने आपको बताया कि रोहित शर्मा को कप्तानी की जिम्मेदारी मिल सकती है। इसके साथ-साथ और भी कई तरह की बदलाव होने की आशंका है।

आप हमसे जुड़े रहने के लिये फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

टेस्ट मैचों में बने बने रह सकते है विराट कोहली

बीसीसीआई के मुताबिक भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी विराट कोहली से रोहित शर्मा के पास जा सकती है परंतु उन्हें वन डे और टी-20 के लिए कप्तानी मिल सकती है परंतु टेस्ट मैचों के लिए विराट कोहली कप्तानी मे बने रह सकते हैं।
आप यह भी पढ़ सकते हैं:

पत्नी ने किया ऐसा काम, पति ने काट दिया प्राइवेट पार्ट

उत्तर प्रदेश से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है, कि एक महिला के पति गुजरात के सूरत में काम करता था। और जब वह अपने घर को आया तो ऐसे घटना को अंजाम दे दिया कि कोई सोच भी नहीं सकता। पुरुष का उम्र लगभग 24 वर्ष बताई जा रही है, जबकि महिला की उम्र 21 वर्ष है।

उस व्यक्ति ने अपनी पत्नी का हत्या कैसे कर दिया

पति गुजरात के सूरत नाम के शहर में काम करता था। कुछ ही दिन पहले वह व्यक्ति अपने घर आ चुका था। जब उस व्यक्ति ने अपनी पत्नी से यह कहा कि आज संभोग करेंगे तो उसकी पत्नी ने मना कर दिया। जिसके बाद वह व्यक्ति काफी गुस्से में आ गया जिसके बाद उसने अपनी पत्नी की हत्या गाला दबा कर कर दिया। उसके पत्नी के मर जाने के बाद उसने अपना प्राइवेट पार्ट भी किसी धारदार हथियार से काट लिया।

आप मुझे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में ये जरूर बताइये की आपका राय क्या है, जब दोनों में झगड़ा हो रहा था तब ना हल्ला गुल्ला सुनाई नहीं दिया। परंतु बाद में बहुत समय झगड़ा के हो जाने के बाद उनके पड़ोसियों ने उसके खुली हो खिड़कियों से झांक कर देखा तो उसकी पत्नी लेटी हुई थी। और उसके पति को खून से लथपथ देखा गया जिसके के बाद उनके पड़ोसियों ने पुलिस को इस खबर की जानकारी दी।

उस व्यक्ति पर हुआ मामला दर्ज

पुलिस ने उनकी पत्नी को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल में भेज दिया। और उस व्यक्ति का भी इलाज करने के लिए किसी अस्पताल में डाला गया। परंतु वहां पर उसके इलाज़ संभव न होने की वजह से बीआरटी मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया है। फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है।

यह भी पढ़ सकते हैं:

साथ में पुलिस ने उस व्यक्ति के खिलाफ मामला भी दर्ज कर लिया है कि उसे कानून सजा देगी सूत्रों के मुताबिक उसकी पत्नी के पिता द्वारा कथित तौर पर थाने में मामला दर्ज कराया गया है। जिसमें उनके पिता ने उस 24 वर्षीय व्यक्ति पर ये आरोप लगाया है कि वह अपने पत्नी पर इस बात को लेकर जुल्म करता था कि उन्हें दहेज के और रकम मिले।

अर्थात साफ शब्दों में कहा जाए तो यह पूरा घटना दहेज की रकम को पाने की लालच ने उसे अंधा बना दिया। इसके बाद उस व्यक्ति ने अपना पूरा परिवार उजाड़ दिया पुलिस ने जब उस व्यक्ति से पूछताछ करना शुरू किया तो उस व्यक्ति ने बताया कि वह गुजरात के सूरत शहर में काम करता था। वह अपने घर आया और अपने पत्नी को संभोग के लिए कहा तो उसकी पत्नी ने मना कर दिया।

आप ऐसा क्या करेंगे कि आप के साथ ऐसा नही हो

जिसके बाद वह बता रहा है कि वह बहुत ही ज्यादा गुस्से में आ गया। और उन्होंने अपनी पत्नी का गला दबाकर हत्या कर दिया और उसके बाद उसने अपना प्राइवेट अंग भी काट डाला।

भूल से भी अपनी बेटी भतीजे या किसी भी लड़की की शादी किसी ऐसे इंसान से मत करना कि जो दहेज के लालची हो या काम ना करना चाहता हो या दूसरों पर निर्भर रहता हो। जब एक व्यक्ति या कोई पूरा समाज किसी प्रेम करने वाले को इस तरीके से पीटते हैं कि उनका पूरा जिंदगी ही खराब कर देते हैं। इसीलिए उन सभी लोगों को यह चाहिए कि वह भी किसी लड़की की जिंदगी में ऐसे व्यक्ति को ला कर दे कि जो उसका ख्याल रख सके उसके साथ समय गुजार सके, ना कि दुनिया उजाड़ दे।

बेरोजगारी ने ले लिए एक निर्दोष युवक की जान

शिमला में हल्द्वानी नाम के स्थान पर एक युवक ने अपनी जान दे दी। इस युवक का नाम देवी नाथ था। आज की ताजा खबर में आपको यह बताने जा रहा हूँ कि इस तरह की घटना देश के अलग अलग हिस्सों में लगातार होते ही जा रहे हैं।  युवक ने अपनी मौत के दो दिन पहले ही जहर खा लिया था, जिसके कारण उनकी मौत हो गई थी। और आस पास के अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया।

वास्तव में उसके मौत जे पीछे क्या कारण है

परंतु वहां पर उनकी इलाज ना होने के कारण परिवार बहुत ही तनाव में आ गया जिसके बाद उन्हें बाहर के अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसके बाद वहां पर इलाज चलने के दौरान ही उस युवक ने दम तोड़ दिया पुलिस ने इसकी पोस्टमार्टम भी की उसके बाद इस युवक के मृतक शरीर को परिवार को सौंप दिया।

बहुत ही जांच पड़ताल के बाद यह बात सामने आई कि युवक बेरोजगारी से परेशान था। जिसकी वजह से वह बहुत ही ज्यादा तनाव में रहता था, उस युवक की तनाव इतनी तेजी से वृद्धि कर गई कि उन्हें अपनी जान गवानी पड़ी।

तनाव का क्या कारण था

यह सामने नहीं आ पाई है कि उसके तनाव के बढ़ने का कारण उसके परिवार मे उसके ऊपर दबाव था। या कुछ और ही था अगर यह बात सामने आती तो उनके परिवार पर भी कानून का हाथ पड़ जाता परंतु यह बात स्पष्ट नहीं हो पाई है। कि उनके तनाव के पीछे क्या वास्तव में बेरोजगारी का तनाव ही था जिसकी वजह से उन्होंने अपने आप को समाप्त कर दिया।

देश के कई हिस्सों में ऐसे खबर आते रहते हैं जिसमें यह स्पष्ट रूप से यह वाक्य जरूर होता है कि उनके परिवार के दबाव या किसी अन्य व्यक्ति के दबाव के कारण किसी ने अपनी जान गवा दी परंतु यह खबर इससे बहुत ही ज्यादा अलग है। कि व्यक्ति ने अपने ही तनाव के कारण अपने को ही समाप्त कर दिया।

युवक या युवती के तनाव में परिवार के लोगों को क्या करना चाहिए

जब कोई भी युवक या युवती बेरोजगार हो तो उनके परिवार वालों को चाहिए कि उनका मार्गदर्शन करें और उसके साथ मानसिक तौर पर साथ रहे इससे उनका मन बहलाता रहेगा। और अपने आप को हल्का महसूस करेगा उसके बाद वह ना सिर्फ किसी अन्य व्यक्ति पर अपनी बेरोजगारी को दूर करने के लिए निर्भर रहेगा बल्कि वह खुद कुछ ऐसे साधनों को बना देगा जिसके चलते वह पैसे कमा सकें।
यह भी पढ़ सकतें है:

देश में विद्यार्थी जो कि युवक या युवती हो सकते हैं जो कि किसी भी स्तर की पढ़ाई कर रहे हो सकते हैं। जिसके ऊपर अक्सर तनाव देखा गया है उस तनाव को कम करने की जिम्मेदारी उसके माता-पिता या उसके गार्जियन को ध्यान देना चाहिए ना कि उन्हें अकेला छोड़ दें कि तुम्हें जैसा किया है। वैसा ही मिलेगा या किसी तरह का अतिरिक्त वाक्य उस पर सौंप दें।

इस तरह की खबरों से हम सभी को निश्चित तौर पर कुछ ना कुछ जरूर सीखना चाहिए। जिसके चलते समाज में इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके क्योंकि यह सभी घटनाएं बहुत ही ज्यादा दुखदाई होती है इससे किसी का परिवार भी उजड़ सकता है। फेसबुक इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

स्कूलों में शिक्षक नहीं कर पाएंगे मोबाइल का उपयोग

आज की ताजा खबर में आज हम आपको बताने जा रहें है कि शिक्षा व्यवस्था का क्या हाल है. यूपी हो या बिहार जा भारत के अधिकतम 95 फ़ीसदी राज्य में शिक्षा को लेकर शिक्षक सजग नहीं रहते हैं. जिसका परिणाम बचपन से ही शिक्षा व्यवस्था बच्चों के दिमाग में कमजोर सा प्रदर्शित होता है. और बचपन में अच्छी शिक्षा नहीं मिल पाती है क्योंकि वह किसी सरकारी विद्यालय में पढ़ रहे होते हैं. जिसका असर आने वाले समय में बेहतर तरीके से दिखता है.

पूरे भारतवर्ष में वर्तमान में शिक्षा व्यवस्था का हाल

परंतु इन शिक्षा व्यवस्था पर कौन ध्यान देगा जोकि चुपचाप विद्यालय में आकर बैठे रहते हैं या फिर गप्पे करते रहते हैं या फिर अपने मोबाइल से सोशल मीडिया पर समय बिताते हैं. इसका पर्दाफाश कई बार सोशल मीडिया साइट्स पर वीडियो वायरल होने के रूप में हो चुका है. परंतु किसी भी तरीके का ठोस कदम सरकार की तरफ से नहीं उठ पाया है.

यह तो सभी जानते हैं कि जब बच्चा बहुत ही छोटा होता है. यानी कि जब वह तीन या चार कक्षा में पढ़ रहे होते हैं या फिर आठवीं तक पढ़ रहे होते हैं. तो उनको जो भी बताया जाता है वह तुरंत ही सीख जाता है या वह जो चीज देखता है उसे अपने दिमाग पर लगाने में रहता है. यानी एक शब्द में कहें तो वह जो दिखता है वही सीखता है और वैसा ही व्यवहार करने लगता है.

कितना समय तक शिक्षक नहीं कर पाएंगे मोबाइल का उपयोग

परंतु इस तरीके के शिक्षा व्यवस्था में अगर हुआ बच्चा अपना समय बताएगा तो उस पर गहरा असर हो सकता है. इसी को ध्यान में रखते हुए यूपी के स्कूलों में किसी भी शिक्षक द्वारा सुबह 8:30 बजे से लेकर दोपहर 1:00 बजे तक सोशल मीडिया साइट्स को एक्सेस नहीं कर पाएंगे परिषदीय स्कूल में लागू होगी.
यह भी पढ़ सकते है:

अगर कोई भी शिक्षक सुबह 8:30 बजे से लेकर दोपहर 1:00 बजे के बीच में मोबाइल द्वारा सोशल मीडिया साइट्स को एक्सेस करता हुआ पकड़ा जाता है, तो उन पर विभागीय कार्यवाही करने का प्रावधान भी है.

शिक्षकों को यूनिफॉर्म पहनना पड़ सकता है

इससे यह उम्मीद तो कर ही सकते हैं कि शिक्षक ज्यादा से ज्यादा समय बच्चों को पढ़ाने में गुजारेंगे यानी कि उनका ध्यान बच्चों को पढ़ाने से नहीं भटकेगा. आप हमसे जुड़े रहने के लिये फेसबुकइंस्टाग्रामयूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.

इटावा के जिला स्तर अधिकारी अजय कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि कोई भी शिक्षक बिना किसी खास परिधान के नहीं आ सकते हैं. हालांकि इसका निर्धारण अभी करना बाकी है तथा यह भी खबर है कि उच्च अधिकारी शिक्षकों के परिधान के लिए चयन तथा पूरी प्रक्रिया पूरी करेंगे.

रिश्तेदारों ने ही बनाया अपने हवस का शिकार, बर्बाद हुई बच्ची की जिंदगी

Crime Breaking news उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एक ऐसी खबर आ रही है जिसे सुनकर आपके दिल दहल जाएंगे आप भी यह सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि क्या ऐसा भी हो सकता है ऐसे भी लोग रहते हैं इस दुनिया में. दरअसल बात यह है कि अपने ही रिश्तेदार में हवस का शिकार बना लिया इसका परिणाम क्या हुआ कि लड़की के मानसिकता पर गहरा असर पड़ा.

आरोपी कहाँ का रहने वाला है

आरोपी घर के पास में ही कृष्ण नगर में रहता था. बताया जा रहा है कि आरोपी ने उस लड़की के साथ कई बार घिनौनी हरकतों को अंजाम दे चुका है. पीड़िता के पिता के कहने पर आरोपियों को गिरफ्तार कराया गया है पुलिस अभी इस मामले की छानबीन अच्छे तरीके से कर रही है मैं आपको बता दूं कि बच्चों के सुरक्षा का अधिनियम POCSO के तहत इस आरोपी का मामला दर्ज किया गया है.

इन सभी मामलों में सबूत काफी मायने रखता है इस सर्कल के पुलिस ने यह बताया कि सबूत की खोजबीन जारी है. मीडिया रिपोर्ट के एन आई के मुताबिक पीड़िता के साथ कई बार बदसलूकी करने के आरोप हैं लेकिन यह मामला तब सामने आया जब उसके पिता को पता चला और यह थाने तक जब बात गई.

इस व्यक्ति का उम्र 63 वर्ष था, बनाता था हवस का शिकार

इससे ही मिलता जुलता एक और खबर जो कि मेरठ से था कि एक 63 वर्षीय व्यक्ति ने कुछ लड़कियों के साथ अवैध संबंध बनाने का आरोप था. बताया जा रहा है कि वह व्यक्ति इंश्योरेंस डिपार्टमेंट से रिटायर्ड है. पुलिस ने जब इसकी खोजबीन शुरू की थी तो उन्हें एक चौका देने वाली बात पता चली कि वह व्यक्ति गरीब घर की लड़कियों को कुछ लालच देकर उसे अपने चंगुल में फंसा था फिर उसका गलत इस्तेमाल करता था.
यह भी पढ़ सकते है: 

इस मामले में भी सबूत की काफी जरूरत पड़ी थी जिसकी पूर्ति सीसीटीवी कैमरे से हो गई थी. जो भी गरीब घर की लड़कियां थी उन्हें कुछ खाने को लालच दे देता था या उन बच्चियों को कपड़े का लालच दे देता था. आप हमसे जुड़े रहने के लिये फेसबुकइंस्टाग्रामयूट्यूब या ट्वीटर पर सबसे पहले खबरों को जानने के लिए जुड़ सकते है.
Best phone

कितने वर्ष की थी सभी लड़कियाँ

जिसके चलते वह बच्ची जो कि अभी ठीक से किसी चीज को समझना भी नहीं सीखी है वह उसके चंगुल में फंस जाती थी और वह 60 वर्षीय व्यक्ति उसके साथ गलत व्यवहार करते थे.

हैवानियत का इस तरीके से प्रदर्शन करते हुए जब वह व्यक्ति पकड़ा गया तब यह साफ-साफ सबके सामने प्रदर्शित हो गया की जितनी भी लड़कियां थी वह सभी 10 वर्ष से कम आयु की थी और यह व्यक्ति जवाबी रहम नहीं करता था बस अपने हवस का शिकार ही बनाता रहा.

Jio 5G होगा जल्द ही लॉन्च, मुकेश अम्बानी लेंगे 3500 करोड़ रुपए का कर्ज

हमारे देश के लगभग सभी बड़े बिजनेस मैन हमेशा यही फिराक में रहते हैं कि ग्राहकों को अच्छी सेवाएं कैसे दी जाए ताकि जीवन को और भी आसान बनाया जा सके। देश के लोगों का तो जीवन आसान तो होता ही है साथ मे देश के हालत में भी काफी सुधार होता है। और रोजगार के साथ साथ देश के अर्थव्यवस्था में भी काफी सुधार होने लगता है। Jio 5G के आने से होगा.

अम्बानी कितने रुपए का कर्ज ले रहे हैं

Jio 5G
Jio 5G Tower

जब भारत मे 4G इंटरनेट कनेक्शन नहीं थे तब मुकेश अंबानी ने हर संभव प्रयास करके देश के सभी क्षेत्रों में बेहतर अनुभव होने वाला इंटरनेट कनेक्शन प्रदान कराया है. ठीक वैसा ही एकबार फिर होने वाला है कि मुकेश अंबानी देश मे सबसे पहले 5G इंटरनेट कनेक्शन देने के लिए सभी संभव उपाय कर रही है.

मुकेश भाई अम्बानी का विदेशी बैंकों से बातचीत चल रही है. मुकेश अंबानी विदेशी बैंकों से लगभग 3500 करोड़ रूपए कर्ज लेंगे. और भारत मे बेहतर अनुभव होने वाला इंटरनेट सेवा प्रदान कराएंगे. बहुत सारे बैंडविड्थ की जरूरत पड़ेगी और इसमें बेहतर अनुभव होने के लिए बेहतर स्पेक्ट्रम की भी आवस्यकता है जिनका खर्च काफी ज्यादा होता है.

भारत देश के सबसे अमीर व्यक्ति को क्यों लेना पड़ रहा है कर्ज

Jio 5G
Jio 5G Tower

आप सोच सकते हैं कि भारत देश के सबसे अमीर व्यक्ति को कर्ज लेने की आवश्यकता पड़ रही है. मतलब यह है कि बेहतर ऑप्टिक फाइबर की जरूरत है जिसमे काफी रुपयों का इन्वेस्टमेंट होगा. जिसका अनुभव काफी मजेदार होने वाला है. फेसबुकइंस्टाग्रामयूट्यूब या ट्वीटर पर काफी चर्चे में यह खबर है.

यह भी पढ़ सकते है: 
जय श्री राम नहीं बोलने पर युवक की हुई जमकर पिटाई

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मुकेश अम्बानी की मदद एशिया के ही बैंको से ही होने वाली है. बीते दिनों यह बात चर्चे में आई थी कि मुकेश अम्बानी लगभग 12,840 करोड़ रुपये का कर्ज लेगी. मुकेश अम्बानी 3.6 फीसदी से 3.7 फीसदी तक कर्ज जमा करने की सोच रहे हैं.

Jio 5G के आने से और सभी टेलीकॉम कंपनी पर असर

Jio 5G
Jio 5G Network

टेलीकॉम रेगुलेटरी ट्राई का कहना यह है कि सितंबर महीने में 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी करेगी. और यही वजह बन रही है कि 5G सर्विस के लिए Jio तेजी से अपने क्षेत्र में कार्य कर रही है. इसमे 3300 से 3600 मेगाहर्ट्ज बैंड स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी जोकि 5G कनेक्टिविटी के लिए काफी है. टेलीकॉम रेगुलेटरी ट्राई  एक बड़ी समस्या को लेकर आ सकते हैं कि इन हाई मेगाहर्ट्ज बैंड स्पेक्ट्रम की कीमत में काफी बढ़ोत्तरी न कर दे.

यह भी पढ़ सकते है: 
20 GB हाई स्पीड फ्री डाटा दे रहा एयरटेल, जियो को लगेगा झटका

जहाँ तक अगर बात की जाए Jio के अलावा तो सभी टेलीकॉम कंपनीयां एक आउटडेटेड इंटरनेट कनेक्टिविटी को बेहतर करने में लगे हुए हैं. जिसका मतलब यह है कि Jio 5G आ जाने के बाद बाकी सभी कंपनी को मार्किट से बाहर होना पड़ेगा. जिस तरह से Jio के 4G सर्विस आने पर हुआ था ठीक उसी तरह का माहौल एकबार फिर Jio की तरफ से की जा रही है.

Jio 5G के आने से Airtel और BSNL को बड़ा खतरा

स्पष्ट होता हुआ यह नजर आ रहा है कि Jio 5G के आ जाने के बाद jio का एकाधिकार हो जाएगा. जिसके बाद एयरटेल या BSNL जैसी बड़ी कंपनियां भी बंद हो सकती है. मुकेश अम्बानी काफी तेज गति से Jio 5G की तैयारी कर रही है जिसका फायदा तो Jio और 5G फ़ोन बनाने वाली कंपनी दोनो को होगी. और सबसे बड़ा नुकसान देश के उन टेलीकॉम कंपनियों को होगा जो काफी समय से मार्केट में टिके हुए हैं.

Airtel ने बंद कर दी है ये सेवाएं, jio को लग सकता है झटका

आज की ताजा खबरों में यह खबर काफी तेजी से फैल रही है कि एयरटेल जैसी कंपनी जो कि टेलीकॉम इंडस्ट्री में राज करती थी. jio के आ जाने के बाद काफी ज्यादा डगमगा सी गई है. कई बड़ी बड़ी टेलीकॉम कंपनीयों को के जुड़कर काम करना पड़ रहा है तो किसी कंपनी को अपना सर्विस बंद करना पड़ गया है.

Airtel ने बंद कर दी है ये सेवाएं, jio को लग सकता है झटका

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि वोडाफोन और आईडिया दोनो आपस मे मिलकर सर्विस दे रहे हैं. वही बीएसएनल के कई बार बंद होने की भी खबर आ चुकी है. ऐसा माना जा रहा था कि एयरटेल जुकी जिओ के आने के पहले मार्केट में टेलीकॉम इंडस्ट्री के लिए एक जॉइंट था.

Jio का एयरटेल पर दमदार प्रभाव

परंतु जिओ के आने के बाद एयरटेल सहित बड़ी बड़ी कंपनियों को बहुत अधिक धक्का लगा है. एयरटेल जैसी कंपनियां महंगे दामों पर कॉल और इंटरनेट सेवाएं प्रदान करती थी, जो कि जियो ने बहुत ही सस्ते दामों और बेहतर क्वालिटी की सेवा दी है जिसकी वजह से सारे ग्राहक एयरटेल से निकलकर या बाकी अन्य टेलीकॉम सेवाओं से निकलकर जिओ में शामिल होते जा रहे हैं.

कोलकाता के कई शहरों में एयरटेल की 3जी सेवाएं बंद कर दी गई है. और यह सेवाएं देश भर के सभी क्षेत्रों में बंद होगी. इसकी पुष्टि एयरटेल की तरफ से कर दी गई है जिसमें यह बताया गया है कि एयरटेल की 3जी सेवाएं इसलिए बंद की जाएगी ताकि एयरटेल 4G में बेहतर सुधार हो सके.

एयरटेल का 3G को बंद करने के पीछे मकसद

एयरटेल का कहना है कि 3G में लगे बैंडविथ सामग्रियों को 4G में लगाकर में बेहतर बनाएंगे. वैसे एयरटेल कंपनी या तो दावा कर ही रही है कि कोलकाता जैसी बड़े-बड़े शहरों में एयरटेल के ब्रॉडबैंड में काफी अच्छी स्पीड मिल रही है जिसका लाभ एयरटेल ग्राहक ले सकते हैं.

यह भी पढ़ सकते है: 
20 GB हाई स्पीड फ्री डाटा दे रहा एयरटेल, जियो को लगेगा झटका

जिओ ने मार्केट में एक ऐसा एकाधिकार स्थापित किया है कि कोई भी टेलीकॉम इंडस्ट्री वर्तमान में अपने आप को बचा पाने में काफी मुश्किलों का सामना कर रहे हैं. इसी एकाधिकार की वजह से कोई भी नई कंपनी जो कि टेलीकॉम इंडस्ट्री को लेकर नहीं आ रही है क्योंकि जिओ की सर्विस काफी बेहतर क्वालिटी की है और यह काफी सस्ते दामों में भी प्रदान की जा रही है.

Jio के वजह से बंद हो सकता है BSNL

वही बात करें सबसे ज्यादा प्रॉफिट में रहने वाली टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल की तो बीएसएनल की कंपनी 10,000 करोड़ की मुनाफे में चल रही थी. लेकिन 2019 में बीएसएनएल पर लगभग 13,000 करोड़ का कर्जा चल रहा है जिसके परिणाम स्वरूप बीएसएनल की कंपनी कई बार बंद होने के कगार पर भी चली आई है.

अगर मार्केट को ध्यान से देखा जाए तो एयरटेल सहित अन्य कंपनियां अपने 4जी सेवाओं को बेहतर करने में लगी हुई है. ताकि अपने ग्राहकों को 4जी सेवाएं बेहतर क्वालिटी का दे सके लेकिन अगर जिओ मार्केट को देखें तो jio 5G पर काम कर रही है. है. फेसबुकइंस्टाग्रामयूट्यूब या ट्वीटर पर काफी चर्चे में यह खबर है.

यह भी पढ़ सकते है: 
जय श्री राम नहीं बोलने पर युवक की हुई जमकर पिटाई

यानी कि कुल मिलाकर देखा जाए तो आने वाले समय में जिओ के अलावा कोई भी बड़ी कंपनी नहीं रह पाएगी. क्योंकि जिओ भविष्य के बारे में सोच रही है और मार्केट साइज को पूरी तरह से कंट्रोल करने में लगी हुई है. वही एयरटेल जैसी बड़ी कंपनियां अपनी आउटडेटेड सर्विस को बेहतर करने में लगी हुई है.

मदरसों में नहीं, स्कूलों में बन रहे हैं इस्लामी कट्टरपंथी

कई देशों और हिंदुस्तान में आतंकवादी हमले होने के बाद यह स्पष्ट हो चुका है कि अधिकतर मुसलमान ही आतंकवादी पाए गए हैं, यानी कहीं ना कहीं कोई मुस्लिम संस्था होती है जो आतंकवाद को बढ़ावा देती है। लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक बांग्लादेश में यह बिल्कुल ही उल्टा नजर आता है आप इस पोस्ट को अंत तक पड़ेगा पढ़ने के बाद शेयर जरूर कर दीजिएगा.

बांग्लादेश के एक रिपोर्ट के मुताबिक आतंकवादी कौन है?

मद्रासी में नहीं, स्कूलों में बन रहे हैं इस्लामी कट्टरपंथी
फ़ोटो: समाचार Book

बांग्लादेश में एक खुफिया एजेंसी ने 2015 से 2017 के बीच पकड़े गए अपराधियों का विश्लेषण किया, तो उन्हें पता चला कि वह सभी किसी मदरसे में नहीं बल्कि स्कूलों में पढ़े हैं. मोहम्मद मोनिरुजमान जो खुफिया एजेंसी के चीफ इंस्पेक्टर हैं ने बातचीत में कहा कि यह सभी लोगों की सामान्य मानसिकता है।

मदरसे में पढ़ने वाला छात्र आतंकवादी को बढ़ावा देती है, या मदरसा में दी जाने वाली शिक्षा आतंकवाद को बढ़ावा देती है परंतु यह गलत है उनके अनुसार यह कहा गया कि सिर्फ और सिर्फ मदरसा में दी जाने वाली शिक्षा ही जिम्मेदार नहीं है, और यह कहना गलत भी है कि सिर्फ मदरसों में दी जाने वाली शिक्षा आतंकवाद को बढ़ावा देती है.

बांग्लादेश में कितने तरह के स्कूल हैं?

भारत की तरह बांग्लादेश में भी 3 तरह के स्कूल हैं, पहला स्कूल जो कि सरकारी स्कूल है जो कि वहां की गवर्नमेंट द्वारा चलाई जाती है यहां की स्कूल में सभी धर्मों को समान रूप से ध्यान में रखते हुए शिक्षा दी जाती है, दूसरा स्कूल है जिसमें कि सिर्फ इस्लामी शिक्षा के बारे में बताई जाती है यानी यह मदरसा है और तीसरे प्रकार का स्कूल जिसने इंग्लिश मीडियम की शिक्षा दी जाती है इसे प्राइवेट स्कूल कहा जाता है।

यह भी पढ़ लीजिये: जय श्री राम नहीं बोलने पर युवक की हुई जमकर पिटाई

बांग्लादेश के खुफिया जांच के बाद यह रिपोर्ट जारी किया गया है कि स्कूलों में लगभब 50% पढ़े हुए विद्यार्थी आतंकवादी भावना के थे, परंतु यही आंकड़े अन्य स्कूल व्यवस्था में पढ़े हुए विद्यार्थियों में कम पाई गई. फिलहाल यह खबर फेसबुकइंस्टाग्रामयूट्यूब या ट्वीटर पर चर्चे में नही है।

ढाका यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर शातुन उनका कहना है कि किसी भी धार्मिक स्कूलों में नजर रखना बंद कर देना चाहिए। क्योंकि इससे मानसिकता बिगड़ सकती है, और सभी सिस्टम में तनाव आ सकता है उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह के स्कूली व्यवस्था में सवाल उठाना सही नहीं है।

बांग्लादेश में अधिकतर कौन लोग आतंकवादी भावना के होते हैं?

बांग्लादेश ने हिरासत में लिए गए सभी आरोपियों में एक बात रिपोर्ट के जरिए कॉमन कर दी है, कि उसने से लगभग 80% आरोपी इंटरनेट का इस्तेमाल करते थे और इस खुफिया एजेंसी का और कुछ संस्थानों का यह भी मानना है, कि जो इंटरनेट का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं उन्हें कट्टरपंथी भावना अधिकतर बाई गई है और वह भावना लगातार बढ़ती भी रहती है जो किसी को नुकसान भी दे सकती है।

यह भी पढ़ लीजिये: गर्भवती करके भाग गया, लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे युवक और युवती

वहीं कुछ सर्वे यह भी स्पष्ट कर रही है कि इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले कोई भी व्यक्ति कट्टरपंथी भावना का शिकार नहीं होते हैं, बल्कि उनमें जागरूकता आती है कि सच्चाई क्या है और झूठ क्या है, यानी कि बांग्लादेश के सर्वे को इस दुनिया के कुछ महान सर्वे या ऐसे कहें जो कि अत्यधिक देशों में सर्वे किए गए हैं वह बांग्लादेश के सर्वे को झूठ बता देते हैं।

आप अपना निष्कर्ष दें?

आप सभी में पढ़ने वाले सभी तरह के धर्म से रहने वाले हैं तो मैं आपसे रिक्वेस्ट करता हूं कि आप नीचे कमेंट जरूर करके बताइए कि आखिरकार सच्चाई क्या है कि लोग शांति से रहना चाहते हैं या फिर इस तरह की कट्टरपंथियों को बढ़ावा देने के लिए अजीब अजीब तरह की हरकतें करते रहते हैं।

जय श्री राम नहीं बोलने पर युवक की हुई जमकर पिटाई

दरअसल एक मुस्लिम कैब चालक जो महाराष्ट्र में गाड़ी चलाता था, उनको कुछ लोगों ने कहा कि तुम जय श्री राम कहो तो उसके चालक ने उनके बातों से इंकार कर दिया. जिसके बाद उन चार पांच लोगों ने इस मुस्लिम कैब चालक की पिटाई कर दी.

मुस्लिम कैब चालक का नाम क्या था और यह घटना कब हुआ?

जय श्री राम नहीं बोलने पर युवक की हुई जमकर पिटाई

एक ऑनलाइन कंपनी के कैब चालक फैसल जब कुछ यात्रियों को जिले के दीवा कस्बे में गया था. फैजल ने पुलिस को बताया कि जब वह यात्रियों को पहुंचा कर वापस लौट रहे थे, तब उनका चार पांच लोगों से झगड़ा हो गया जो कि नशे के हालत में थे.

जब उन चार पांच लोगों को जो नशे में थे पता चला कि यह ड्राइवर एक मुस्लिम है. तो उन लोगों ने उस ड्राइवर को यह कहा कि तुम जय श्री राम कहो जिसके बाद उस मुस्लिम कैब चालक ने जय श्री राम कहने से इंकार कर दिया जिसके बाद उन नशे में धुत लोगों ने फैजल की पिटाई कर दी.

अधिकारियों ने कहा है कि 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. और बाकी लोगों की तलाश जारी है. फेसबुक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब या ट्वीटर पर काफी चर्चे में रहती है खबर

आरोपियों पर कौन सी धाराएं लगी है?

अध्यक्ष एस.एस. बूरसे ने यह साफ साफ कहा कि पुलिस ने भारतीय धारा 295 और 393 का मामला दर्ज किया गया है.

फैसल को इस बात की बहुत दुख है, कि उसे इस तरीके से जय श्री राम कहने पर मजबूर किया गया जिसके बाद उनके भावनाओं को बहुत ठेस पहुंचा और इससे यह समाज में बहुत ही गलत मैसेज गया.

 किसी को जबरदस्ती किसी के धर्म का उल्लंघन या धर्म विरोधी वाक्य या शब्द कहना बहुत ही ज्यादा गलत है. क्योंकि वह अपने धर्म को मानते हैं और कोई अपने धर्म को मानता है. इसीलिए किसी भी व्यक्ति को यह चाहिए कि वह किसी भी धर्म या व्यक्ति के प्रति गलत भावना ना रखें ना ही किसी का धार्मिक नुकसान करें.

कौन है यह लोग और कहां से आते हैं?

कुछ ही लोग ऐसे होते हैं जो कि दूसरों के धर्म जाति पर प्रश्नचिन्ह लगाने लगते हैं या कुछ ऐसे वाक्य या शब्द कहते हैं. जिससे यह लगने लगता है कि सामने वाला जातीय समाज गलत है जो कि वास्तव में वैसा नहीं होता है. मेरे कहने का मतलब यह है कि कुछ ही लोग ऐसे होते हैं जो पूरे समाज को बर्बाद करके रख देते हैं. हमेशा इनसे सावधान रहने की सलाह दी जाती है.

भारत देश में हिंदू-मुस्लिम या किसी अन्य जातियों से मतभेद किसी न किसी कारणवश बना ही रहता है जिसका कोई खास कारण नहीं है इसमें किसी का फायदा जरूर होता है जो अपने फायदे के लिए आम नागरिकों का इस्तेमाल करता है. जिसके बाद कुछ ऐसा ब्रेनवाश हो जाता है लोगों का कि वह यह भी समझ नहीं पाता है कि वह क्या कर रहा है.

इस तरह के विषम परिस्थितियों में लोगों को क्या करना चाहिए

यही वजह रहा कि चार-पांच लोगों का पहले ब्रेनवाश किया हुआ है कि वह हिंदू मुस्लिम या किसी अन्य जाति का विरोध करें या किसी ऐसे वाक्य का उपयोग करें जो कि किसी दूसरे धर्म के लिए सही नहीं है. और इस तरीके से धर्म प्रचार भी सही नहीं है, इसका किसी भी धर्म में उल्लेख भी नहीं है कि आप इस तरीके से धर्म का प्रचार प्रसार करें.

यह भी पढ़ लीजिए: नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार

गर्भवती करके भाग गया, लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे युवक और युवती

नोएडा के सेक्टर 44 में रहने वाली एक युवती ने आरोप लगाया है कि उसके साथ काम करने वाले एक व्यक्ति, उसे गर्भवती करके भाग गया है जो कि उसी के कंपनी में काम करता था.

सेक्टर 39 में कराया गया मुकदमा दर्ज

लड़की को लड़के ने कुछ समय पहले शादी का झांसा देकर अपने जाल में फंसाया था. फिर लड़की को गर्भवती करने के बाद उसे छोड़कर चला गया. जिसके बाद लड़की को जब पता चला कि उसे वह युवक छोड़कर चला गया है तब उसने थाने में शिकायत दर्ज की है. दिल्ली के सेक्टर 39 में युवक के खिलाफ शिकायत दर्ज किया गया है.
थाना सेक्टर 39 वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुधीर कुमार ने बताया कि पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. दरअसल वह लड़की एक निजी कंपनी में काम करती थी, काम के दौरान ही दोनों में दोस्ती हो गई और दोस्ती इस कदर बढ़ी कि दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में रहने लगे.

लड़की को क्यों छोड़ कर भाग गया अरुण

लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के दौरान जब लड़की गर्भवती हो गई तब लड़का उसको देखकर घबरा गया, जिसके बाद उस युवक ने उस अपनी युवती जो दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे उसको छोड़ कर भाग गया.

युवक का नाम अरुण है, लड़के ने लड़की को यह झांसा दिया था कि वह उससे शादी करेगा जिसके कारण लड़की और उनके साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रहने लगा. जिसके पश्चात ही वह गर्भवती हुई. लड़की के अनुसार युवक जम्मू कश्मीर भागकर गया है.

क्या युवक पहले से ही शादीशुदा था?

पीड़िता ने यह कहा है कि जब दोनों में बातें चल रही थी, यानी जब दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में काफी समय से रह रहे थे. तब युवती ने अरुण को यह कहा था कि अब हमें शादी कर लेना चाहिए लेकिन अरुण इस बात से इंकार कर रहा था. और एक चौका देने वाला बात सामने आया कि अरुण पहले से ही शादीशुदा है.

इसकी शिकायत 39 सेक्टर के थाने में किया गया जिसके बाद पुलिस हरकत में आई है और जांच कर रही है युवक पर दुष्कर्म का मामला लगाया गया है.

ध्यान से पढिए नीचे की लाइन को आपसे विनती है

दोस्तों देखा आपने 1 मिनट में हंसती खेलती जिंदगी में आग लग गया. इसीलिए मैं आपसे हाथ जोड़कर विनती करता हूं कि आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करिए. फेसबुक, व्हाट्सएप पर हर जगह इस पोस्ट को शेयर करिए ताकि किसी लड़की का जिंदगी बर्बाद ना हो.

अगर कोई लड़की इस पोस्ट को पढ़ रही है तो मैं आपसे हाथ जोड़कर विनती करता हूं कि आप कभी भी किसी भी लड़के के झांसे में आसानी से नहीं आए. किसी पर भी इतनी आसानी से भरोसा ना करें. क्योंकि कुछ लोग होते हैं जो सिर्फ अपने फायदे के लिए किसी को इस्तेमाल करते हैं.

किसपर भरोसा करें किस पर नहीं

ऐसी ऐसी खबरें आए दिन आती रहती है, जिसके चलते समाज में एक ऐसा छवि बनने को चल पड़ा है कि लोग किसी पर भरोसा ही ना करें या किसी को शक की नजरों से ही देखें. और यह लाजमी भी है क्योंकि यह मामला या इनसे मिलते जुलते मामले कुछ ऐसे होते हैं कि जिनसे दिल दहल जाता है बहुत दुख हो भी होता है.

हमेशा याद रखें कि कुछ पल की खुशी आपको जीवन भर आनंद नहीं दे सकता है. इसीलिए आप हमेशा किसी भी कदम को सोच समझकर उठाएं आपका दिन शुभ हो धन्यवाद.

यह भी पढ़ें:

  1. रात में हुई शादी, शुबह में छूट गया सात जन्मों का साथ
  2. नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार

धनुष तोप जो दुश्मनों के छुड़ाएंगे छक्के, भारतीय सेना में होगा आज शामिल

मेक इन इंडिया को ध्यान में रखते हुए भारत देश में ही एक ऐसा स्वदेशी तोप बनाया गया है. जिससे दुश्मन कांप उठेंगे और बॉर्डर पर दुश्मनों को दूर तक खदेड़ सकता है.
यह बहुत ही गहरा शक्तिशाली है क्योंकि इसमें कंप्यूटर से चलने वाली और निर्देशित होने वाली युक्तियां बनी हुई है.

धनुष तोप जो दुश्मनों के छुड़ाएंगे छक्के, भारतीय सेना में होगा आज शामिल
धनुष तोप

कब से प्रयास हो रहा था धनुष को बनाने का?

2012 से लगातार कोशिशों के बाद अब भारत एक ऐसे तोप का चयन भारतीय सेना में करने जा रहे हैं. जिसमें कि यह दुनिया के किसी भी दोस्त को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हमेशा सक्षम है.

ऑर्डिनेंस फैक्टरी ने बोफोर्स से दो पीढ़ी आगे अत्याधुनिक तोपों का विकास हो चुका है.
जो कि 42 किलोमीटर के रेंज में दुश्मनों के छक्के छुड़ा सकती है. तोप का नाम धनुष है जो दुनिया भर में भारतीय सेना को और ताकतवर दिखाने में मदद कर रही है.

स्वदेशी आधार पर बनी यह धनुष तोप 155mm 45 कैलिबर की मॉडर्न आर्टिलरी प्रणाली में बनाई गई है, यानी कि यह गाना पृथक गन सिस्टम में विकसित की गई है धनुष का वजन 155mm 40 कैलीबर गन से 755 किलोग्राम ज्यादा होगा.

कुल कितने तोप चाहिए भारतीय सेना को?

बैरल भी बोफोर्स की तुलना में 877 मिमी ज्यादा है. 1987 में स्वीडन 414 बोफोर्स आयात किए गए थे, जिसमें अभी भी लगभग 300 बोफोर्स सीमा पर तैनात है. परन्तु इनकी बढ़ती उम्र के कारण इसके उपयोग पर रोक लगाने का निर्णय किया गया है जिसके जगह पर धनुष आएगा.

इस धनुष तोप की पूर्ति के लिए भारतीय सेना ने ऑर्डिनेंस फैक्टरी कानपुर को 414 धनुष तोपों का ऑर्डर भी दे दिया गया है. ऑर्डिनेंस फैक्टरी कानपुर के 2 पीढ़ी अधिक सोचने पर भारतीय सेना को अत्यधिक शक्ति वाला सेना बना रहा है.
यह भी पढें

  1. रात में हुई शादी, शुबह में छूट गया सात जन्मों का साथ
  2. नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार
  3. शुबह के नास्ता करते समय ना करें ये गलतियाँ, इन Healthy food को करें अपने नास्ते में शामिल
  4. ईरान को बड़ा झटका, तेल नही खरीदेगा भारत

क्या इसके सभी पार्ट्स विदेशों में बने है?

यह दुनिया के सबसे लंबी तोपों वाली श्रेणी में शीर्ष पर है और दी गई जानकारी के मुताबिक धनुष को बनाने के लिए भारत में ही लगभग 90 फ़ीसदी पार्ट्स बने हैं. और लगे हाथ यह भी बता दूं कि नई तोपों का परीक्षण बैरल करने उतर चुका है.

भारत भी अन्य शक्तिशाली को को रखने वाले देशों में शामिल हो चुका है जो कि अपने आप में एक बहुत ही बड़ा और गर्व करने वाली बात है. धनुष तोप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह 32 किलोमीटर के रेंज में छुपे किसी भी तरह के दुश्मन को मौत के घाट उतार सकता है.

स्वीडन, इजरायल, कनाडा और फ्रांस के साथ-साथ भारत देश में शक्तिशाली को को रखने वाली शक्तिशाली सेना बन चुकी है, यहां तो कंप्यूटर प्रणाली पर काम करती है.

धनुष तोप की कार्यप्रणाली क्या है?

आधुनिक प्रणाली की तुलना में नाइट कैमरा साइटिंग से ज्यादा प्रभावी दे कैमरा साइटिंग है. और यह भी कहा जा रहा है कि इसके आधुनिक संस्करण आते ही यह दुनिया भर के अन्य देशों के मुकाबले काफी ज्यादा शक्तिशाली हो जाएंगे.

मैं आपको एक बार फिर बता दूं कि इस तोप के निर्माण के लिए भारत देश यानी कि स्वदेशी पार्ट्स लगे हैं, जिसकी 100 में से 90 फ़ीसदी पार्ट्स स्वदेशी हैं. यह काफी गर्व की बात है, आप मुझे कमेंट बॉक्स में अपनी राय दे सकते हैं.

नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार

बीते कुछ वर्षों से लगातार यह देखा जा रहा है कि इन बच्चियों के साथ बलात्कार के मामले सामने आते जा रहे हैं. ऐसा ही कुछ हुआ नरसिंहपुर मध्यप्रदेश में, और पीड़ित के माता-पिता जब थाने शिकायत करने के लिए पहुंचे तो थाना के अफसरों ने भी उन्हें भगा दिया.

5 साल की बच्ची के साथ बलात्कार करके हुआ फरार

नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार
यह वास्तविक फ़ोटो नही है

हाइलाइट्स:

  1. बच्ची के निजी अंगों पर किए गए हैं तेज हथियारों से वार.
  2. थाना प्रभारियों ने एक नहीं सुनी परिजनों की.
  3. गंज थाना के प्रधान आरक्षक हुए निलंबित.
  4. अपने परिवार की सुरक्षा को दें प्रारत्मिक्ता.

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर के सेंट्रल जेल के पीछे बेहोश बच्ची मिली है. जो महज 5 वर्ष की है बलात्कारियों ने उसके साथ बलात्कार करके उसे बेहोशी की हालत में छोड़कर भाग गया.

बेहोश हुई बच्ची जब सुबह सेंट्रल जेल के पीछे मिली तो उसे अस्पताल ले जाया गया फिलहाल वह बहुत ही ज्यादा गंभीर रूप से बेहोशी की हालत में है.

पीड़ित बच्ची का इलाज कहाँ चल रहा है?

बच्ची के बहुत ही ज्यादा हालत खराब होने के कारण उसे जबलपुर मेडिकल कॉलेज भेजा गया है. आरोपियों नेे बच्ची के निजी अंगों पर धारदार हथियारों से वार भी किए हैं जिसके निशान पाए गए हैं.

आपको बता दें कि बच्ची के माता-पिता घुमंतू हैं, कुछ दिनों से वे नरसिंहपुर स्टेशन से बाहर रह रहे थे. जब रात में उसकी मां को नहीं मिली तो वह खोजबीन जारी कर दी. उसी बीच उसके परिजनों ने थाना में शिकायत करने के लिए भी पहुंची लेकिन पुलिस कर्मचारियों ने उनके बातों को महत्व नहीं दिया.

परिजनों का आरोप है कि थाना के कर्मचारियों द्वारा उनको वहां से भगा दिया गया. उनकी बातों को नहीं सुना गया ताकि उनकी बच्ची ढूंढी जा सके.

बच्ची के निजी अंगो पर किये गए है धारदार हथियार से वार

यह बात भी सामने आ रही है कि बच्ची के निजी अंगों पर तेज धारदार हथियार से चोट पहुंचाए गए हैं. थाना अधीक्षक गुरु करण सिंह ने यह कहा कि आस-पास पूछताछ जारी है, फिलहाल हमें बच्ची के होश में आने का इंतजार करना चाहिए ताकि हम उनसे पूछ जांच कर सके.

मैं आपको बता दूं कि रोड पर लगे सीसीटीवी कैमरे में आरोपी कैद हो गए हैं, जिसमें यह देखा जा रहा है कि आरोपी बच्ची को लेकर आगे बढ़ रहा है मैं आपको बता दूं कि यह घटना तेजी से कानून व्यवस्था के पल्ले पड़ रही है.

सीसीटीवी फुटेज का क्या हुआ असर?

नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार
बच्ची को गोद मे ले जाता आरोपी

इस मामले में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को बारीकी से समझा गया जिसने आरोपी बच्ची को गोद में लेकर जाता हुआ दिखाई दिया.

आईपीसी और पॉक्सो एक्ट की धाराओं के तहत अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. इस मामले को सीरियस में ना लेने के कारण गंज थाना प्रधान आरक्षक को निलंबित कर दिया गया है.

आपसे एक नम्र निवेदन

इस घटना से हमें यह जरूर ध्यान देना चाहिए कि लगातार बच्चियों के साथ इस तरीके के घिनौनी हरकतें सामने आती ही जा रही है. जिसका जिम्मेदार किसको ठहराया जाए यह समझ नहीं आता है. समाज की किस तरीके की मानसिकता है जो इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे जाते हैं.

अतः सभी को हाथ जोड़कर यह विनती किया जाता है कि अपने परिवार और अपना बहुत ही अच्छे से ख्याल रखें. किसी भी मामले को हल्के में ना लें क्योंकि यह पता नहीं है कि सामने वाले की मानसिकता क्या है खुद सुरक्षित रहें और समाज को भी सुरक्षित रखने के बारे में हमेशा सोचते रहे.

यह भी पढ़ सकते हैं:

  1. अगर बैंक से हैं परेशान, ऐसे करें आरबीआई में शिकायत
  2. रात में हुई शादी, शुबह में छूट गया सात जन्मों का साथ
  3. 20 GB हाई स्पीड फ्री डाटा दे रहा एयरटेल, जियो को लगेगा झटका

20 GB हाई स्पीड फ्री डाटा दे रहा एयरटेल, जियो को लगेगा झटका

टेलीकॉम इंडस्ट्री में आए दिन हर तरह की मोबाइल कंपनियां डाटा को सस्ता करके ग्राहकों को लुभाने की कोशिश लगातार करती आ रही है जिसका सीधा फायदा हम जैसे ग्राहकों को होता है जिनको की बहुत ही सस्ते दामों में बहुत ही अच्छा स्पीड का मोबाइल डाटा मिल जाता है.

एयरटेल की क्या योजना है?

Jio की तरह एयरटेल भी बहुत ही चर्चे में लगातार आ रहा है कि वह भी बहुत ही ज्यादा सस्ते दामों में मोबाइल रिचार्ज ला रहे हैं जिसमें कि वह मोबाइल रिचार्ज के साथ साथ अतिरिक्त मोबाइल डेटा भी दे रहे हैं

एयरटेल में जियो को टक्कर देने के लिए पोस्टपेड ग्राहकों और प्रीपेड ग्राहकों के लिए बहुत ही शानदार ऑफर दिए हैं साथ में मैं यह कहना चाहूंगा कि यह टर्म्स एंड कंडीशन यानि नियम एवं शर्तों से युक्त है

20GB मोबाइल डाटा लेने के लिए क्या करना होगा?

ग्राहकों को लुभाने के लिए एयरटेल अपने एक्जिस्टिंग रिचार्ज के साथ साथ कुछ अतिरिक्त मोबाइल डाटा दे रहा है जो कि अधिकतम 20GB है यह डाटा 5GB, 10GB और 20GB तक है

मैं आपको बता दूं कि जो एयरटेल का 399 वाला रिचार्ज है उसमें अतिरिक्त में 20 जीबी मोबाइल डाटा मिल रहा है जो कि बहुत ही ज्यादा फास्ट होगा, परंतु इसमें कुछ नियम व शर्ते हैं जब रिचार्ज करने के टाइम आप नीचे स्टार पर क्लिक करके जरूर पढ़ लें

कुछ खास जगहों पर मिलेगा 20GB मोबाइल डाटा

एयरटेल कंपनी ने यह भी कहा है कि 20 जीबी डाटा का आनंद उठाने के लिए उपभोक्ता को एयरटेल के द्वारा बनाए गए कुछ खास जगहों पर उपस्थित होना होगा एयरटेल पूरे देश भर में लगभग 500 जगहों पर एयरटेल वाईफाई एयरटेल हॉटस्पॉट लगाया है जहां पर उपभोक्ता जाकर की 20gb हाई स्पीड इंटरनेट डाटा का आनंद ले सकते हैं

मोबाइल इंटरनेट डेटा का आनंद लेने के लिए एयरटेल एप्प जाकर के पहले आप को वेरीफाई करना होगा फिर बाद में आप हाई स्पीड इंटरनेट मोबाइल डाटा का आनंद ले पाएंगे और यह प्रक्रिया बहुत ही ज्यादा आसान है इसमें कभी भी कोई दिक्कत नहीं होगी

यह भी पढ़ सकते है:

इंटरनेट फ्री होती है जानिए अतिरिक्त जानकारी

 इस पोस्ट के अतिरिक्त मैं आपको कुछ अतिरिक्त जानकारियां देना चाहता हूं कि इंटरनेट जो होता है वह पूरी तरह से फ्री डाटा होता है जो कि एयरटेल के पास में डाटा ट्रांसफर सिस्टम नहीं है

इंटरनेट अगर हम मोबाइल या फिर अपने कंप्यूटर से एक्सेस करते हैं तो उसमें आने वाला डाटा समुद्रों में बिछाए गए बहुत सारे तारों से होकर आता जाता रहता है और यह तारे ऑप्टिकल फाइबर होती हैं

मुकेश अंबानी ने समुद्रों में कुछ जगहों पर यानी कि टियर 3 जगहों पर उनका अपना सबमरीन केबल यानी कि ऑप्टिकल फाइबर बिछाया गया है जिसमें से की डाटा हाई स्पीड से सीधे जिओ के नेटवर्क में आता है

मुकेश अम्बानी को क्यों नही लेना पड़ता है अतिरिक्त रिचार्ज के पैसे

इसीलिए मुकेश अंबानी यानी कि जिओ कंपनी को कहीं और से डाटा ट्रांसफर सिस्टम के लिए कुछ भी तरीके की डील नहीं करनी पड़ती है वहीं अगर बात करें एयरटेल वोडाफोन या बाकी अन्य कंपनियों की तो उनके पास डाटा ट्रांसफर सिस्टम नहीं है इसीलिए उन्हें किसी न किसी tier-3 कंपनी से डाटा ट्रांसफर के लिए दिल करनी पड़ती है जिसके लिए उन्हें अतिरिक्त पैसे देने पड़ सकते हैं और ये पैसे हम जैसे ग्राहकों से ही लिए जाते हैं.

रात में हुई शादी, शुबह में छूट गया सात जन्मों का साथ

रात में शादी हुई, लड़के वाले लड़की को अपने साथ विदा करके ससुराल लेकर जा रहे थे दोनों भविष्य के बारे में सोच रहे थे. लड़की को अपने माँ-पापा से बिछड़ने का दर्द था. और लड़का अपने भविष्य में आनेवाली सभी जिम्मेदारी को उठाने के लिए तैयार हो ही रह था.

रात में हुई थी शादी, लेकिन शुबह मंगलवार को हो गई गाड़ियों में टक्कर

हाइलाइट्स:

  • दुल्हन का नाम नेहा कुमारी था और वो अपने माता पिता की इकलौती बेटी थी.
  • दूल्हा उज्वल कुमार है बहुत हीं गंभीर रूप से घायल.
  • इसीलिए मैं आपसे हाथ छोड़कर कहता हूं कि वाहन हमेशा धीरे चलाएं.
  • दूल्हा और दुल्हन दोनो को औरंगाबाद सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

लड़की के इतना उदास होने से लड़के का भी मन नही लग रहा था. इसीलिए दूल्हा अपने पत्नी को मना रहा थी कि तुम चिंता मत करो. परंतु यह सब खुदा, भगवान जो भी हैं उन्हें पसंद नही आई.

यह भी पढ़ लें
धनुष तोप जो दुश्मनों के छुड़ाएंगे छक्के, भारतीय सेना में होगा आज शामिल

दुल्हन के माता पिता तो दुखी थे हीं लेकिन ऊपरवाले ने और इतना दुखी कर दिया कि उन्हें और दुःख होने लगा. और दुल्हन के साथ साथ दूल्हे के परिवार का भी दुनिया उजर गया.

भगवान ने दोनों को रात में शादी के बंधन से दोनों को सात जन्मों के लिए जोड़ा. और शुबह दोनो को इस कदर अलग किया कि शायद कभी वापस ही न आ सकता है.

यह घटना कहाँ हुई है?

दरअसल यह घटना औरंगाबाद के अम्बा पथ की है. जहां पर दो वाहनों के जबरदस्त टक्कर से ये दुखी करने वाला हादसा हुआ. यह घटना दोस्ताना होटल के सामने मंगलवार के सुबह सुबह हीं हुआ है.

दुल्हन का नाम नेहा कुमारी था और उनका टक्कर के कुछ देर बाद ही मौत हो गई. वहीं बात करें अगर दूल्हे उज्जवल कुमार की तो वह बहुत ही गंभीर रूप से घायल हैं और उनका इलाज औरंगाबाद सदर अस्पताल में हो रही है.

दुलन और दूल्हे के माता पिता और उनका पता क्या है?

बताया जा रहा है कि इन नवीनगर थाना क्षेत्र के लखनपुर गांव के आल्हा सिंह के इकलौती बेटी नेहा कुमारी का शादी उज्जवल सिंह के साथ सोमवार रात को संपन्न हुई थी. परंतु सुबह ही गाड़ियों के जोरदार टक्कर से दुल्हन नेहा कुमारी का तुरंत ही मौत हो गया इससे उनके परिवार वाले बहुत ही ज्यादा दुखी हैं और हमेशा रोते नजर आ रहे हैं.

यह भी पढ़ लें
नरसिंहपुर में 5 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार

ओबरा थाना के चिचाढ़ी गांव के निवासी इंद्रदेव सिंह का बेटा दूल्हा उज्जवल कुमार उर्फ बबलू कुमार सिंह थे. परंतु जैसा कि मैंने आपको बताया कि सोमवार रात को दोनों की शादी हुई परंतु सुबह मंगलवार का सुबह उन दोनों के लिए बिछड़ने का सबसे बड़ा समय बन गया.

क्या सच मे दुल्हन मृत घोषित हो चुकी हैं?

दूल्हा दुल्हन इन दोनों का इलाज औरंगाबाद सदर अस्पताल में हो रहा है. जहां चिकित्सकों ने यह कह दिया है कि दुल्हन की मृत्यु हो गई है. यानी चिकित्सकों ने दुल्हन को मृत घोषित कर दिया है परंतु वही अगर बात करें दूल्हे की तो वह भी अपनी जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं. खुशियों का मौसम एक दम तुरंत ही दुखी का मौसम बन गया दोनों परिवार के तरफ पूरा दुखों का माहौल बरसा पड़ा है.

आपसे एक विनती

इस तरह की वारदात को देखकर किसी भी व्यक्ति की आंखों में नमी आ जाएगी. इसीलिए मैं यानी विकाश आपसे हाथ जोड़कर कहता हूं कि वाहन को हमेशा धीरे चलाएं. हो सकता है कि आपको अपने लिए चिंता ना हो परंतु आपके लिए किसी और की चिंता जरूर है.

यह भी पढ़ सकते है:

अगर बैंक से हैं परेशान, ऐसे करें आरबीआई में शिकायत

कभी-कभी यह देखा जाता है कि अगर हम कहीं पर किसी भी बैंक में किसी भी तरीके का काम अगर करना चाहें, तो वह समय से नहीं हो पाता है उसमें बहुत सारी अड़चनें आती है. इसका निवारा अगर हम करना चाहे तो हमारा बैंक कर्मचारी हमारी बात नहीं मानते हैं.

हमे कब शिकायत करने की पड़ती है जरूरत?

बैंक कर्मचारियों को हमारी बात ना मानने के कारण सभी तरह के ग्राहकों में निराशाजनक भावना को देखी गई है, तो इसके लिए वह अगर किसी को शिकायत करते हैं तो किसी भी तरीके का पहले साधन नहीं था बैंक में अगर कोई भी ग्राहक शिकायत करता था तो उसे हो सकता है कि मदद मिले या फिर ना भी मिले.

किसानों, आम जनता या किसी भी तरीके का व्यक्ति जो कि अपना बैंक से संबंध रखता है तो वह किसी भी बैंक में हो रहे परेशानी का सीधा-सीधा समाधान आरबीआई से मांग सकता है.

अगर आप किसी भी बैंक से परेशान हैं और उसका शिकायत करना चाहते हैं, कि आपका काम नहीं हो पा रहा है तो आपको एक फॉर्म भरना होगा. आरबीआई के एक वेबसाइट पर जहां पर आपको निश्चित ही मदद मिलेगी.

आरबीआई के किस वेबसाइट में करें शिकायत?

शिकायत दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको सी एम एस डॉट आर बी आई डॉट डॉट ओआरजी डॉट इन को लिखकर आपको वेबसाइट ओपन करनी होगी.

वेबसाइट को ओपन करने के बाद होम पेज पर बाएं तरफ लॉज कंप्लेंट की ऑप्शन मिलेगी उस पर आपको क्लिक करना होगा.  उसके बाद एक सीएमएस पेज ओपन होगा तथा उसके बाएं तरफ एक फाइल कंप्लेंट लिंक मिलेगी जिस पर क्लिक करना है.

भाषा का करें चयन

ड्रॉपडाउन पर क्लिक करके आप अपने अनुसार किसी भी भाषा का चयन कर सकते हैं. भाषा चयन करने के बाद आप वहां पर दिए गए कुछ जरूरी बातों को भर लें.

लॉज कंप्लेंट पोर्टल पर सभी तरह की जानकारियों को भर लें. जब सारी जानकारियां भरी हुई हो जाए तो आप अपना डेट ऑफ बर्थ सिलेक्ट करने के लिए कैलेंडर पर क्लिक करके अपना डेट ऑफ बर्थ सेलेक्ट कर ले.

अब तक भरी गई सभी तरह की डाटा आरबीआई या ऑफिस ऑफ द ओम्बड्समैन के सर्वर तक चली जाएगी.

अपना कुछ सामान्य जानकारी को कैसे भरे?

उसके बाद आपको अगला स्टेप होगा कि ध्यानपूर्वक आपको शिकायत विवरण में आपको अपना नाम, लिंग, आयु, मोबाइल नंबर, तथा आपको अपना पता इत्यादि भर लेना होगा. उसके बाद आपको अपना शिकायत क्या है उसे भरना होगा जैसे कि वायलेट, ट्रांजेक्शन इत्यादि को भरना होगा. उसके बाद नेक्स्ट पर क्लिक कर दें.

अगला जो इस टाइप होगा जिसमें कि आपको अपना बैंक डिटेल भरना होगा. जिसमें एटीएम कार्ड डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड जैसी जानकारियों को भरना हो सकता है, इन सभी जानकारियों को भरने से पहले आपको अपने अकाउंट टाइप को सेलेक्ट कर लेना होगा dropdown-menu के जरिए.

उस व्यक्ति का विवरण भरें जिसके खिलाफ आप शिकायत दर्ज करना चाहते हैं उसके बाद रेडियो बटन पर सिलेक्ट करें और फिर नेक्स्ट करते हैं. उसके बाद कुछ सामान्य जानकारियों को भरना होगा. उसके बाद नेक्स्ट करके प्रोसीड पर क्लिक करें.

शिकायत दर्ज होने के बाद आएगा थैंक यू का मैसेज

अगर आपके पास किसी भी तरीके का डॉक्यूमेंट यानी कि दस्तावेज हो तो आप उसे भी अपलोड करके सबमिट कर सकते हैं उसके बाद फिनिश बटन पर क्लिक करके आप अपने पूरे प्रोसीजर को समाप्त कर सकते हैं उसके बाद आपको धन्यवाद का मैसेज आ जाएगा.
यह भी पढ़े:

हमेशा सच के साथ…….