Spread the love

कंगना रानौत ने डॉक्टर सुमैया शैख़ को करारा जवाब दिया है |दरअसल कंगना रनौत ने एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि सच्चाई यह है कि मानसिक बीमारी का कोई वैध चिकित्सीय प्रमाण नहीं है यह मध्यस्थता द्वारा वास्तविक प्रतिभा का नया जादू है|कंगना रनौत ने आगे लिखा था कि एक्स्ट्राऑर्डिनरी व्यक्ति के लिए यह एक अनुचित सब्जेक्ट बन चुका है जिसके कारण भावनात्मक लिंचिंग के अधीन लोगों को किया जा रहा है| आशा है कि आप बंद हो जाएगा|मतलब कि कंगना रनौत कहना चाहती थी कि मानसिक बीमारी बताकर लोगों को टॉर्चर किया जा रहा है|

Advertisement

यह भी पढ़ें :-इंडियन आर्मी ने राजौरी और रियासी जिलों के बीच साबुन, फेस मास्क और सैनिटाइजर बांटे

कंगना रानौत ने डॉक्टर सुमैया शैख़ को करारा जवाब दिया

इसके जवाब में डॉक्टर सुमैया शैख़ सूरज के नीचे की हर चीज पर राय न देना इतना मुश्किल क्यों है? जब तक आप सीखी गई जानकारी या अनुभवों के साथ अपने बयान वापस नहीं ले सकते, तब तक अपनी गलियों में रहें।

इसके जवाब में कंगना रनौत ने डॉक्टर सुमैया शैख़ पर कसा तंज

डॉक्टर सुमैया शैख़ के ट्वीट का रिप्लाई करते हुए कंगना रनौत ने लिखा कि क्या आपने लेख पढ़ा है? यह स्पष्ट रूप से प्रमाणित है कि डिप्रेशन के लिए कोई परीक्षण नहीं होता, लेकिन लीवर ,ब्लड सेल काउंट और दुसरे अंग के लिए भिन्न-भिन्न परीक्षण मौजूद है,इसके बाद उन्होंने इस डॉक्टर को अपने निशाने पर लेते हुए कहा कि कृपया गलत सूचना न फैलाएं, गैलीलियो और मोजार्ट जैसे लोगों को भी पागल कहा जाता था और बेरहमी से मार डाला गया क्या वह पागल थे ?