Haan Haige aa Lyrics (हाँ हैगे आ ) – Karan Aujla Ft. Gurlez Akhtar

0
456
Haan Haige aa Lyrics
Haan Haige aa Lyrics
Spread the love

यह पोस्ट Haan Haige aa Hindi Lyrics के बारे में है| इस सॉन्ग में आपको करण औजला फीट। गुरलेज़ अख्तर और सागर देओल। इस गाने को गाया है करण औजला फीट। गुरलेज़ अख्तर ने |

Advertisement


Haan Haige aa Lyrics In English डिटेल

Haan Haige aa Lyrics

 

  • गीत का शीर्षक: – हाँ हैगे आ
  • गायक: करण औजला फीट। गुरलेज़ अख्तर
  • संगीतकार: करण औजला फीट। गुरलेज़ अख्तर
  • संगीत: अवेवी श्रा
  • वीडियो: रूपन बाल
  • सह-निदेशक: सागर देओल
  • संगीत लेबल: रेहान रिकॉर्ड्स

Haan Haige aa Lyrics In Hindi

लोकीं कहन्दे वैल्ली ऐं तू
हाँ हैगे आ
लोकीं कहन्दे बाहला माहड़ा
हाँ हैगे आ
वे लोकीं कहन्दे अड़ब ऐं तू
हाँ हैगे आ
हाँ सच्चो सच्ची दस्स यारा
हाँ हैगे आ

हाँ हैगे आ
हाँ हैगे आ

कूड़े मेरे बारे गल्लां करदे ने जो
नी चेले ने
कूड़े मेरे बारे गल्लां करदे ने जो
नी वेल्ले ने

शोक पुगा दे जट्ट कूड़े
नी पाले मोर नी पट्ट कूड़े
हटजा पिछड़ों हट कूड़े
नी बिगड़े बाहले जट्ट कूड़े नी

Struggle मेरी नू किस्मत कहन्दे
उन्हाने कुझ देखेया नहीं
मैं जो सिख गया उठदे बहन्दे
उन्हाने ओह सिखेया नहीं

उन्हांनू आ की पता अस्सी
की की बल्लिये सेह गये आ

लोकीं कहन्दे वैल्ली ऐं तू
हाँ हैगे आ
लोकीं कहन्दे बाहला माहड़ा
हाँ हैगे आ
वे लोकीं कहन्दे अड़ब ऐं तू
हाँ हैगे आ
हाँ सच्चो सच्ची दस्स यारा
हाँ हैगे आ

हाँ हैगे आ
हाँ हैगे आ

मेरे बारे जेहड़े तेरे कोले
आऔंण लुत्ती लाउन नी
उन्हां कोलों किथे पता लग्गू
जट्ट कौन नी

कल्ले केरे केहड़े शेहरे
बाप्पू मेरा घल गया
गिजे बिट सी पाके भेजा
छोटा सिक्का चल गया

इक्क वारी तां पाऊँ खलारे
खुला ऐ जट्ट सान कूड़े
लोगां दा कम्म बोलण दा ऐ
उधर घट ध्यान कूड़े

जे कोई चढ़ दा हर कोई सड़ दा
सच अस्सीं वी कह गए आ

लोकीं कहन्दे वैल्ली ऐं तू
हाँ हैगे आ
लोकीं कहन्दे बाहला माहड़ा
हाँ हैगे आ
वे लोकीं कहन्दे अड़ब ऐं तू
हाँ हैगे आ
हाँ सच्चो सच्ची दस्स यारा
हाँ हैगे आ

हाँ हैगे आ
हाँ हैगे आ

हो निगाह विच चढां जमां
D C आला बैर मैं
कईयाँ थल्ले दबता सी
निकल आया फेर मैं

चुभ दे ने बालेयां दे
साड्डे चंगे दिन नी
किन्ने क वैरी ने दसां
उंगलां ते गिण नी

कुछ हलकी भारी दाढ़ी नी
बाहला जट्ट जुगाड़ी नी
मित्तरां ने कदे सर्कल दे विच
लण्डी बुचि बाड़ी नी

मैं तां लवां नज़ारे नी
पता नी काहतों खेंदे ने
जट्ट तां उठदे बहन्दे अडिये
रज़ा ओह्दी विच रेह्न्दे ने

ओजले औंनी सोचदे रेह्न्दे
केहड़े कम्मे पेगए आ

लोकीं कहन्दे वैल्ली ऐं तू
हाँ हैगे आ
लोकीं कहन्दे बाहला माहड़ा
हाँ हैगे आ
वे लोकीं कहन्दे अड़ब ऐं तू
हाँ हैगे आ
हाँ सच्चो सच्ची दस्स यारा
हाँ हैगे आ

अस्सीं कदे किसे बारे माहड़ा
बोलदे ना सुने नी
अस्सीं कदे किसे बारे ना ना
जाल जुल बुने नी

औनी सबनु एक बारी तां
सुनेया सबनु मौत कूड़े
हो लैन कठे हुन्दे जेहड़े
कल्ला ही जट्ट बहोत कूड़े

ऊँची जोग्गा कित्ता जिन्ने
पूरियां होईयां रीझां नी
हुन तक पावां जेहड़ी पाईआं
बाप्पू दियां क़मीज़ां नी

बोलन दा जे शोंक नी जट्ट नू
सोचीं ना तू कह गए आ

हाँ हैगे आ
हाँ हैगे आ
हाँ हैगे आ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 − 1 =