Spread the love

चीन को भी इस बात का पता है कि दुनिया उसके खिलाफ हो चुकी है जिनपिंग जानते हैं कि अब बात हद से बाहर हो चुकी है लेकिन अपनी झूठी ताकत और नकली दौलत दिखाकर गुमान अभी बाकी है| इसकी वजह भी है 15 जून को गलवान में चीन ने गद्दारी की पीठ में खंजर भोंका जिसमें हमारे 20 जवान शहीद हो गए थे |चीन के भी 50 से ज्यादा जवान मारे गए मारे गए सैनिकों को तिब्बत मैं चुपचाप दफना दिया गया घरवालों को झूठ बोलकर और पैसे देकर चुप करवा दिया गया लेकिन चीन ने आज तक दुनिया के सामने अपने जवानों के मारे जाने की बात कबूल नहीं कर रहे नहीं की जरा सोचिए|

शी जिनपिंग के तबाही के दिन शुरू हुआ

जिस चीनी फौज की सरपरस्ती में जिनपिंग चीन के सर्वशक्ति तानाशाह की गद्दी पर बैठ हुए हैं अपनी उसी फ़ौज के जवानों के साथ इस तरह का सुलूक करते हैं लेकिन अब बात बढ़ चुकी है जिस फौज को बॉर्डर पर भेज कर जिनपिंग सुपर पावर बनने का ख्वाब देखते हैं उसी फौज ने अपनी बंदूकों का मुंह बीजिंग के महलों की तरफ मोड़ दिया है कहां जा सकता है कि चिंपिंग की तबाही का दिन अब दूर नहीं है |

चीन में कम्युनिस्ट पार्टी की हुकूमत के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद करने के बाद अमेरिका में निर्वासित जीवन जी रहे ज्ञान ली यान में इस बात का खुलासा किया है| इस संस्था को चलाने वाले ने दावा किया है कि जिनके फौजी अफसर और सैनिकों में बहुत गुस्सा है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here