December 11, 2019

सिर्फ 450 करोड़ के बजट में मंगल पहुंचा ISRO, NASA को लगे 6000 करोड़

क्या होता अगर भारत ने पूरी दुनिया को शून्य नहीं दिया होता। तो पूरी दुनिया की गणना प्रणाली कैसे काम करती। कैसे चलता पूरा गणित की दुनिया। विज्ञान हो या कोई भी क्षेत्र भारत का दबदबा हर क्षेत्र में बना हुआ है। भारत देश में हर साल इतनी इंजीनियर क्वालिफाइड होकर निकलते हैं, जितना कि अमेरिका और चाइना दोनों देश मिलाकर भी नहीं दे सकते हैं।

मिशन मंगल का बजट

ISRO, NASA
ISRO, NASA

भारत के मंगल मिशन को ऑर्बिट में पहुंचने के लिए सिर्फ 450 करोड़ रुपए लगे। मैं आपको बताता हूं कि 450 करोड़ रुपए का बजट तो भारतीय फिल्म रोबोट 2.0 से 50 करोड़ कम है। यानी कि फिल्म रोबोट 2.0 का पूरा बजट 500 करोड़ है। जबकि ISRO ने अपना पूरा सेटअप तैयार करके मंगल तक पहुंचने में सिर्फ 450 करोड़ का बजट ही लिया है।

वही यही काम अमेरिका ने 6000 करोड़ में किया था। यानी कि मिशन मंगल ने सिर्फ 450 करोड़ के बजट में अपना पूरा काम किया। लेकिन यही काम NASA ने 6000 करोड़ के बजट में अपने मंगल मिशन को कामयाब किया। मैं आपको बता दूं कि 6000 करोड़ के बजट के सामने ISRO का बजट 450 करोड़ है, जो कि बहुत ही कम है।

बॉलीवुड में ISRO 

ISRO, NASA
ISRO, NASA

भारत के इसी प्रशंसा करने वाले काम को बॉलीवुड ने फिल्म के माध्यम से लोगों को बताने की कोशिश की है। अक्षय कुमार की फिल्म मंगल मिशन 15 अगस्त को रिलीज होने जा रही है। जिसमें ISRO के मंगल मिशन के बारे में बताया है, और यह भी बताया है कि ISRO के वैज्ञानिक कैसे कम बजट में बड़े बड़े कामों को अंजाम दे जाते हैं। जो की बहुत ही असंभव सा लगता है।

मिशन मंगल की सफलता से पूरी दुनिया हैरान है कि इतने कम बजट में कोई मंगल पर कैसे पहुंच सकता है। क्योंकि हॉलीवुड या बॉलीवुड में देखे तो इससे 5 या 6 गुना तो फिल्म का बजट होता है। इसरो की इसी सफलता को दिखाने के लिए भारतीय अभिनेता अक्षय कुमार राकेश धवन के किरदार को निभाएंगे।

अक्षय कुमार नजर आएंगे मिशन मंगल में

ISRO, NASA
ISRO: अक्षय कुमार

बॉलीवुड में ऐसी फिल्में बहुत ही इन दिनों के बाद रिलीज होती है। लेकिन यह फिल्म 15 अगस्त 2019 को रिलीज होने जा रही है। आप सभी जाकर यह फ़िल्म देख सकते हैं। और जान रखते हैं कि हमारे देश के ISRO ने किस तरीके से काम किया है। और कैसे सफलता पाई है।
यह भी पढें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *