फ़रवरी 22, 2020

कांग्रेस के नए अध्यक्ष बन सकते हैं अशोक गहलोत, जल्द होगा ऐलान

राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के सीनियर नेता अशोक गहलोत कांग्रेस में एक अध्यक्ष के रूप में चुने जा सकते है. जिसके लिए अशोक गहलोत को तैयार भी रहने को कह दिया गया है.

अशोक गहलोत, कांग्रेस
अशोक गहलोत, और कांग्रेस अध्यक्ष

हाइलाइट्स

  • संगठन चलाने का पुराना अनुभव है, वर्ष 2017 में गुजरात असेम्बली में बेहतर प्रदर्शन के पीछे अशोक गहलोत का ही हाथ है.
  • अशोक गहलोत एक पिछड़ी जाति से आते है, इसीलिए कांग्रेस को खोई हुई सत्ता दिलाने में मदद होगी. 
  • सोनिया गांधी और राहुल गांधी से उनका बहुत ही अच्छे संबंध है जिसके चलते उन्हें कांग्रेस की अध्यक्षता मिलने की काफी संभावना है. 

कांग्रेस पार्टी में कितने अध्यक्ष होंगे

कांग्रेस की तरफ से यह स्पस्ट रूप से नही बताया गया कि पार्टी में कितने अध्यक्ष होंगे. कांग्रेस के वर्तमान हलचल के मुताबिक यह कहना गलत नही है कि आने वाले कुछ दिन दिनों में कांग्रेस को एक नया अध्यक्ष मिलने वाला है जोकि गांधी परिवार से नही होगा.

सूत्रों पता चला है कि कांग्रेस में दो या तीन या उससे अधिक कांग्रेस के अध्यक्ष हो सकते है. और यह आने वाले समय मे रूख तो जरूर लेगा. क्योंकि यह मोदी सरकार के जीत के हमेशा चर्चा में ही रहा है.

अशोक गहलोत के अध्यक्ष बनने की बात कब आई सामने

अशोक गहलोत ने बुधवार को राहुल गांधी को जन्मदिन की बधाई देते हुए यह भी अनुरोध किया कि उन्हें पार्टी के प्रमुख और जनहित में रहें. परंतु लाख बार मनाने के बावजूद राहुल गांधी नही माने.

राहुल गांधी के अनुसार कांग्रेस पार्टी में जबतक कोई नया अध्यक्ष नही बनता है तबतक कोई नई सुरुआत नही हो सकती है. बहरहाल कांग्रेस पार्टी यह जल्द ही ऐलान करने वाली है कि कांग्रेस के अध्यक्ष कौन होंगे. दो होंगे या तीन होंगे परंतु यह तो स्पष्ट होती ही जा रही है कि नया जो भी अध्यक्ष होंगे गांधी परिवार से नही होंगे.

                 यह भी पढ़ सकते हैं:               
                                                                

अशोक गहलोत ही कांग्रेस के अध्यक्ष बनने के काबिल क्यों है

जैसा कि मैंने आपको हाइलाइट्स में ही बताया कि अशोक गहलोत एक पिछड़ी जाति से आते है, इसीलिए कांग्रेस पार्टी को खोई हुई सत्ता दिलाने में मदद होगी. और साथ ही उनको कई साल तक सरकार बनाने का और चलने का काफी अनुभव है. और यह बात भी गौर करने वाली है कि अशोक गहलोत के सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ काफी अच्छे रिश्ते है.

आप अपना राय कमेंट में जरूर दे कि कांग्रेस पार्टी के एक हीं अध्यक्ष होंगे या ज्यादा, या आपके नजर में कोई और हीं नेता है जो कांग्रेस के अध्यक्ष बनने के काबिल हो. 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *