फ़रवरी 22, 2020

गुजरात में चक्रवात का कहर जारी, इन 9 जगहों पर किये गए हाई अलर्ट जारी

गुजरात चक्रवात के लिए अरब सागर में उठा ‘वायु तूफान‘ ताकतवर चक्रवात में बदल सकता है। यह आज यानी गुरुवार को गुजरात के तटीय इलाका वेरावल और द्वारका के बीचों बीच टकरा सकता है। जिसमे हवाओ का बहुत तेज़ होना संभव है। मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए यह कहा है कि हवा की गति 150 km से 180 km प्रति घण्टे की रफ्तार से होगी।

Gujrat, chakravat, tufan
Gujrat, chakravat, tufan

हाइलाइट्स

  • पश्चिम रेलवे ने 40 ट्रेनें रद्द कर दी गई है, 28 ट्रेनों की तय दूरी में कमी की गई है।
  • अरब सागर में उठा तूफान चक्रवात में बदल सकता है, 180 km तक की ही सकती है हवाओं का रफ्तार।
  • पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोद और कांडला एयरपोर्ट पर गुरुवार देर रात तक उड़ानों का परिचालन बंद रहेगा।
  • कच्छ, जामनगर, जूनागढ़, द्वारका, पोरबंदर, राजकोट, अमरेली, भावनगर और सोमनाथ जिले में हाई अलर्ट जारी कर दिए गए है।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करते हुए यह कहा कि पीड़ित इलाकों से तीन लाख लोगो को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। अकेले दीव से ही लगभग 10 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। मौसम विभाग ने 9 इलाकों कच्छ,जामनगर, जूनागढ़, द्वारका, पोरबंदर, राजकोट अमरेली, भावनगर और सोमनाथ के लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Gujrat, chakravat, tufan
Gujrat, chakravat, tufan

गुजरात मे चक्रवाती तूफान में सुरक्षा की जानकारी

500 सौ से ज्यादा गांवों को खाली करा दूय गया है। बुधवार देर रात तक सुरक्षा कर्मियों ने लगभग तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। गुजरात मे राष्ट्रीय में सुरक्षा प्रबंधन (एनडीआरफ) की 52 टीम तैनात की गई है, राज्य आपदा प्रबंधन की 9 टीमें तैनात की गई है और 300 मरीन कमाण्डो भी तैनात की गई है। चुनिंदा जगहों पर सुरक्षा बल के 9 हेलीकॉप्टर भी तैनात किए गये है।

—————————-यह भी पढ़े:————————-

  • ——————————————————————-
    गुजरात के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पंकज कुमार ने कहा कि बुधवार शाम तक वेरावल से 280 km और पोरबंदर से 360 km की दूरी पर था। नौसेना ने p8i एयरक्राफ्ट और आईएल – 76 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट तैनात कर रखा है।

    Gujrat, chakravat, tufan
    Gujrat, chakravat, tufan

    गुजरात तूफान में स्कूल की व्यवस्था

    वायु के खतरनाक समस्या से लड़ने के लिए गुजरात की सेना हाई अलर्ट पर है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि प्रशासन उड़ीसा के साथ लगातार संपर्क में है ताकि फानी जैसे खरतनाक समस्या से लड़ने वाले सुरक्षा व्यवस्था से इससे बचने के बेहतर उपाय को ढूंढ सके। गुजरात के तटीय इलाकों में 13 और 14 जून को सभी तरह के आंगनबाड़ी, तथा स्कूल बंद रहेंगे।

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *